सरकार ने राज्यसभा में कहा, कई देशों ने भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में दी ढील

Last Updated: गुरुवार, 29 जुलाई 2021 (20:29 IST)
प्रमुख बिंदु
  • भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील
  • सरकार ने राज्यसभा में कहा
  • विदेश मंत्रालय के प्रयास जारी
नई दिल्ली। सरकार ने गुरुवार को कहा कि अमेरिका, कनाडा और ब्रिटेन सहित कई देशों ने भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में दी है तथा कोरोनावायरस की स्थिति में सुधार होने के साथ अन्य देशों द्वारा भी ऐसा किए जाने की उम्मीद है।
ALSO READ:
महाराष्ट्र के सोलापुर में कोरोना विस्फोट, 613 बच्चे वायरस की चपेट में

विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्यसभा को यह जानकारी देते कहा कि सरकार इस बात का प्रयास कर रही है कि विदेशी विश्वविद्यालयों में पंजीकृत भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी जाए। उन्होंने कहा कि विदेशी विश्वविद्यालयों में पंजीकृत भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंध, जहां कहीं भी लगाए गए हैं, उनमें ढील दिलवाने के मकसद से (विदेश) मंत्रालय प्रयास कर रहा है ताकि संबंधित देशों तक उनकी यात्रा संभव हो सके।


मुरलीधरन ने कहा कि विदेशों में हमारे मिशन इस मुद्दे को संबंधित सरकारों के समक्ष उठा रहे हैं और उन सरकार को इस बात के लिए मना रहे हैं कि यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी जाए। उन्होंने कहा कि का मुद्दा कई देशों के समक्ष मंत्री स्तर पर उठाया गया है।
उन्होंने कहा कि परिणामस्वरूप, अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, आयरलैंड, जर्मनी, नीदरलैंड्स, बेल्जियम, लक्जमबर्ग, जार्जिया आदि देशों में भारतीय छात्रों के लिए यात्रा प्रतिबंधों में ढील दी गई है। कोविड स्थिति में सुधार आने के बाद कई अन्य देशों द्वारा ढील दिए जाने की उम्मीद है। मुरलीधरन ने कहा कि छात्रों सहित विदेशों में रह रहे भारतीय का कल्याण सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है।(भाषा)



और भी पढ़ें :