Bihar Exit poll results: बिहार में कांटे का मुकाबला, सत्ता को लेकर सस्पेंस

Bihar election
Last Updated: शनिवार, 7 नवंबर 2020 (20:12 IST)
नई दिल्ली। 15 साल से बिहार की सत्ता में जमे नीतीश कुमार के लिए इस बार मुश्किलें हो सकती हैं। (2020) के परिणामों में मुकाबला कांटे का है। अर्थात एनडीए की वापसी भी हो सकती है, वहीं तेजस्वी का तेज भी बिहार में नजर आ सकती है।

एबीपी न्यूज और सी-वोटर सर्वे के मुताबिक ‍बिहार की 243 सदस्यीय विधानसभा के लिए तीन चरणों में हुए चुनावों में इस बार कांटे का मुकाबला दिख रहा है। एक्जिट पोल के मुताबिक नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले एनडीए को 104 से 128 सीटें मिल सकती हैं।

दूसरी ओर, महागठबंधन के खाते में 108 से 131 सीटें मिल सकती हैं। रामविलास पासवान के बेटे चिराग की पार्टी लोजपा के खाते में 1 से 3 सीटें जा सकती हैं, जबकि अन्य के खाते में 4 से 8 सीटें जा सकती हैं।
हालांकि वोट प्रतिशत की बात करें तो एनडीए को सबसे ज्यादा यानी 37.7 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं, वहीं 36.6 फीसदी वोट नीत महागठबंधन के खाते में जा सकते हैं। चिराग पासवान की पार्टी को 8.5 प्रतिशत वोट, जबकि अन्य उम्मीदवारों को 17.5 फीसदी वोट मिल सकते हैं।

इस एक्जिट पोल के मुताबिक एक बात तो तय मानी जा रही है कि राजद इस चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी (81 से 89 सीटें) बनकर उभरेगी। वहीं, भाजपा को जदयू से ज्यादा सीटें मिलती दिख रही हैं। इस सर्वे के मुताबिक भाजपा को 66 से 74 सीटें मिल सकती हैं, वहीं जदयू को 38 से 46 सीटें मिल सकती हैं।



और भी पढ़ें :