नटिनी योगिनी के इस मंत्र से पूजा करने से होगा मनोरथ पूर्ण

Natini yogini
Last Updated: शुक्रवार, 11 जून 2021 (19:37 IST)
समस्त योगिनियां अलौकिक शक्तिओं से सम्पन्न हैं तथा इंद्रजाल, जादू, वशीकरण, मारण, स्तंभन इत्यादि कर्म इन्हीं की कृपा द्वारा ही सफल हो पाते हैं। प्रमुख रूप से आठ योगिनियां हैं जिनके नाम इस प्रकार हैं:- 1.सुर-सुंदरी योगिनी, 2.मनोहरा योगिनी, 3. कनकवती योगिनी, 4.कामेश्वरी योगिनी, 5. रति सुंदरी योगिनी, 6. पद्मिनी योगिनी, 7. नतिनी योगिनी और 8. मधुमती योगिनी। दरअसल ये सभी आदिशक्ति मां काली का अवतार है। आओ जानते हैं 7. नतिनी योगिनी के बारे में संक्षिप्त जानकारी।

नटिनी योगिनी :
1. अशोक वृक्ष के नीचे रात्रि में साधना की जाकर इनकी प्रसन्नता प्राप्ति कर अपने सारे मनोरथ पूर्ण किए जा सकते हैं।

2. मंत्र- 'ॐ ह्रीं आगच्छ नटिनि स्वाहा।'

3. योगिनी गोपिका माला वज्राख्या चित्रिणी तथा ।
नटिनी भारवी दुर्गा रतिर्महिषमर्दिनी ॥१३३॥- द्वयशीतितमः पटलः - हाकिनीपरशिवपूजनम् ४

नटिनी नटरूपा च नटनाटनकारिणी ।
नाट्य-लीला-विनोदा च नाटिताखिल-संसृतिः॥१९६॥- श्रीराधा अष्टादशशतीनाम स्तोत्र

4. यह योगिनी अपने साधक की पूर्ण रूप से सुरक्षा करती है तथा किसी भी प्रकार की विपरीत परिस्थितियों में साधक को सरलता पूर्वक निष्कलंक बचाती है। यह सभी तरह की घटना-दुर्घटना से भी साधक को सुरक्षित बचा ले आती है।



और भी पढ़ें :