'कैच छोड़ने का सबसे ज्यादा दुख तो मुझे है', हसन अली ने ट्वीट कर मांगी माफी

Last Updated: रविवार, 14 नवंबर 2021 (18:34 IST)
हमें फॉलो करें
कराची: के तेज गेंदबाज हसन अली ने टी20 विश्व कप में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ निराशाजनक प्रदर्शन के लिए माफी मांगते हुए कहा कि वह किसी भी अन्य व्यक्ति से अधिक निराश हैं और उन्होंने अपने करियर के इस खराब दौर से उबरते हुए मजबूत होकर वापसी करने का वादा किया।

हसन ने गुरुवार को दुबई में 19वें ओवर में शाहीन शाह अफरीदी की गेंद पर डीप मिडविकेट पर का कैच टपकाया और उनकी यह गलती महंगी साबित हुई जब आस्ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्लेबाज ने लगातार तीन छक्के जड़कर अपनी टीम को पांच विकेट की जीत के साथ फाइनल में जगह दिला दी।

इसके साथ ही टूर्नामेंट में पाकिस्तान के शानदार अभियान का अंत भी हो गया। बाबर आजम की टीम ने ग्रुप चरण में लगातार पांच मैच जीतकर फाइनल में जगह बनाई थी।

हसन ने ट्वीट किया ,‘‘मुझे पता है कि आप सभी निराश हो क्योंकि मेरा प्रदर्शन आपकी उम्मीदों के मुताबित नहीं था लेकिन आप मेरे से अधिक निराश नहीं हो। मेरे से अपनी अपेक्षाएं मत बदलिए। मैं शीर्ष स्तर पर पाकिस्तान क्रिकेट की सेवा करना चाहता हूं इसलिए दोबारा कड़ी मेहनत शुरू कर दी है।’’
उन्होंने कहा, ‘‘यह दौर मुझे मजबूत बनाएगा। सभी संदेशों, ट्वीट, पोस्ट, फोन और दुआओं के लिए धन्यवाद- इनकी जरूरत है।’’

चैंपियन्स ट्रॉफी 2017 में पाकिस्तान की खिताबी जीत के नायक रहे हसन कैच छोड़ने के बाद पूरे देश की नजरों में खलनायक बन गए। उन्हें सोशल मीडिया पर काफी ट्रोलिंग और नकारात्मकता का सामना करना पड़ा।

वेड का कैच टपकाना मैच का टर्निंग पॉइंट था: बाबर

पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे सेमीफाइनल में हसन अली द्वारा मैथ्यू वेड का आसान कैच टपकाये जाने को मैच का टर्निंग पॉइंट बताया।

बाबर ने मैच के बाद कहा,'जिस तरीके से हमने स्टार्ट किया था वह हमारे प्लान के मुताबिक था। हमने बढ़िया टोटल भी बनाया लेकिन हमारी गेंदबाज़ी उतनी सटीक नहीं थ।' बाबर ने वेड को जीवनदान दिए जाने को मैच का सबसे महत्वपूर्ण मोड़ बताते हुए कहा,' अगर आप ऐसे मौकों पर कैच छोड़ेंगे तो मैच ऐसे ही पलटेगा और वही टर्निंग प्वाइंट भी था। हमने जिस तरीके से पूरे टूर्नामेंट को खेला वह तारीफ योग्य है। हम आने वाले दिनों में टीम से और बेहतर करने की उम्मीद कर रहे हैं।'

वेड ने 17 गेंदों पर नाबाद 41 रन में दो चौके और चार छक्के लगाए। वेड ने तीन लगातार छक्के शाहीन शाह आफरीदी के 19वें ओवर की तीसरी गेंद पर हसन अली से जीवनदान मिलने के बाद मारे और सेमीफाइनल एक ओवर पहले ही समाप्त कर दिया।

इस हार के बावजूद आजम ने अपनी टीम की सराहना करते हुए कहा, ' हर खिलाड़ी को जो रोल दिया गया था, उसने उसको निभाया है। जिस तरीके से लोगों ने हमें सपोर्ट किया वह काफी अच्छा था। हम उनका शुक्रिया अदा करते हैं।'



और भी पढ़ें :