मंगलवार, 23 जुलाई 2024
  • Webdunia Deals
  1. चुनाव 2024
  2. लोकसभा चुनाव 2024
  3. राजनीतिक नेताओं के साक्षात्कार
  4. SP MP Dimple Yadav targets BJP
Last Updated : शनिवार, 4 मई 2024 (22:19 IST)

डिम्पल यादव बोलीं, BJP अगर लोकसभा चुनाव जीती तो भारत 15 साल पीछे चला जाएगा

डिम्पल यादव बोलीं, BJP अगर लोकसभा चुनाव जीती तो भारत 15 साल पीछे चला जाएगा - SP MP Dimple Yadav targets BJP
SP MP Dimple Yadav targets BJP: समाजवादी पार्टी (SP) की स्थानीय सांसद डिम्पल यादव (Dimple Yadav) ने मैनपुरी (यूपी) में दावा किया है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) अगर लोकसभा चुनाव में जीत जाती है तो भारत 15 साल पीछे चला जाएगा। उन्होंने भाजपा पर बुनियादी मुद्दों से ध्‍यान भटकाने के लिए विभाजनकारी राजनीति करने का आरोप लगाया।
 
सपा प्रमुख व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी व मैनपुरी की सांसद डिम्पल यादव ने सपा संस्थापक अपने ससुर मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद रिक्त हुई उनकी परंपरागत सीट मैनपुरी से उपचुनाव जीता था और अब उनकी विरासत को आगे बढ़ाने के लिए फिर से चुनावी मुकाबले में हैं।
 
डिम्पल ने 'पीटीआई-भाषा' के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि लोग भाजपा की बंटवारे की राजनीति को समझ गए हैं। लोग इस बार बदलाव के लिए वोट करने जा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा वोट बैंक की राजनीति के लिए समाज के विभिन्न वर्गों के बीच मतभेद पैदा करती है।
 
डिम्पल यादव ने इटावा जिले के सैफई गांव में अपने आवास पर 'पीटीआई-भाषा' से बातचीत में कहा कि वे (भाजपा) लोगों को जाति के आधार पर भड़काते हैं, उनकी भावनाओं से खेलते हैं और मुख्य मुद्दों से ध्यान भटकाते हैं। डिम्पल यादव ने पिछले दिनों जब मैनपुरी से नामांकन पत्र दाखिल किया तो यादव परिवार की एकता प्रदर्शित हुई। इस दौरान अखिलेश यादव के अलावा उनके चाचा प्रोफेसर रामगोपाल यादव और शिवपाल सिंह यादव भी उनके साथ थे।
 
डिम्पल ने कहा कि लोग बदलाव चाहते हैं। वे इस बार बदलाव के लिए मतदान कर रहे हैं। भाजपा की 'दबाव की राजनीति' के कारण समाज का हर वर्ग तंग आ गया है। लोगों को हर स्तर पर उत्पीड़न का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि जहां केंद्र की भाजपा सरकार प्रवर्तन निदेशालय (ईडी), केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) और आयकर विभाग (आईटी) जैसी संस्थाओं का दुरुपयोग कर रही है, वहीं उत्तरप्रदेश में जिला स्तर पर प्रशासन लोगों को परेशान कर रहा है।
 
सपा सांसद ने कहा कि महंगाई चरम पर है और सरकारी योजनाओं का लाभ लोगों तक नहीं पहुंच रहा है। लोगों से केवल वादे किए गए लेकिन जमीन पर कुछ भी नहीं दिया गया। उन्होंने कहा कि लोग देख रहे हैं कि वे (भाजपा) देश को कहां ले जा रहे हैं और हर कोई जानता है कि वैश्विक रैंकिंग में कुपोषण और भुखमरी के मामले में भारत की स्थिति क्या है। अगर वे (भाजपा) जीतते हैं तो देश 15 साल पीछे चला जाएगा।
 
उन्होंने कहा कि यह चुनाव देश के भविष्य को बचाने के लिए है, क्योंकि संविधान खतरे में है। साड़ी पहने हुए और सिर को पल्लू से ढके हुए डिम्पल यादव ने भाजपा नेताओं की 'मंगलसूत्र' संबंधी टिप्पणी पर पार्टी पर हमला बोला। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आरोपों का जिक्र करते हुए कहा कि यह उनके पास एकमात्र 'हथियार' है। लोगों के भविष्य से जुड़े अन्य महत्वपूर्ण मुद्दे भाजपा के लिए कोई मायने नहीं रखते।
 
भाजपा के '400 पार' के नारे पर उन्होंने कहा कि उत्तरप्रदेश में भी कह रहे हैं कि वे सभी 80 सीटें जीतेंगे। वे लोग (भाजपा) झूठ बोलने में माहिर हैं। लेकिन लोग उनके झूठ को समझ रहे हैं और उन्हें करारा जवाब देंगे। उन्होंने विपक्षी दलों पर वंशवादी राजनीति को बढ़ावा देने के भाजपा के आरोप पर एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि  वे अपनी पार्टी में सबसे भ्रष्ट लोगों का स्वागत करते हैं। भाजपा एक 'ड्राई क्लीनिंग' मशीन है जो राजनीतिक लाभ के लिए सब कुछ करती है।
 
जब डिम्पल से पूछा गया कि दिवंगत मुलायम सिंह यादव की जीत का अंतर पहले के चुनावों के भारी अंतर की तुलना में 2019 के चुनावों में घटकर 94,000 वोटों पर आ गया था, इस पर उन्होंने कहा कि हर चुनाव अलग-अलग परिस्थितियों में होता है। डिम्पल यादव ने कहा कि इस बार लोग भाजपा सरकार को बदलने के लिए मतदान कर रहे हैं।
 
डिम्पल का मुकाबला मैनपुरी में भाजपा उम्मीदवार और उत्तरप्रदेश सरकार के मंत्री जयवीर सिंह से होगा। अपने प्रचार अभियान और लोगों से मिल रही प्रतिक्रिया के बारे में डिम्पल ने कहा कि मैं एक दिन में आठ से नौ बैठकों में भाग लेती हूं। बूथ और सेक्टर स्तर के कार्यकर्ताओं के अलावा, स्थानीय लोग भी मौजूद होते हैं और 'इंडिया' गठबंधन के लिए प्रतिक्रिया बहुत अच्छी है। सपा और कांग्रेस विपक्षी 'इंडिया' गठबंधन का हिस्सा हैं और उत्तरप्रदेश में एक साथ लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं।
 
डिम्पल ने अपने लिए मैनपुरी में प्रचार कर रहीं अपनी बेटी अदिति यादव के बारे में कहा कि वे उत्साहित है। वे गांवों में लोगों तक पहुंच रही है और उनसे मिल रही है। भाजपा के इस दावे के बारे में कि डिम्पल ने मुलायम सिंह यादव के निधन के बाद जनता की सहानुभूति के कारण 2022 के मैनपुरी उपचुनाव में 2.8 लाख वोटों के बड़े अंतर से जीत हासिल की थी, उन्होंने कहा कि आप मैनपुरी के लोगों के मिजाज का अंदाजा लगा सकते हैं। वे उत्साहित हैं और हम जीतने जा रहे हैं।
 
उन्होंने कहा कि युवा, सेना में शामिल लोग, महिलाएं और बुजुर्ग सभी हतोत्साहित महसूस कर रहे हैं, क्योंकि भाजपा द्वारा किए गए कोई भी वादे पूरे नहीं किए गए। लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में 7 मई को मैनपुरी में मतदान होना है।(भाषा)
 
Edited by: Ravindra Gupta
ये भी पढ़ें
चंद्रबाबू नायडू ने भारी बहुमत के साथ आंध्रप्रदेश में दोबारा सत्ता हासिल करने का किया दावा