बड़ी खबर, तालिबान ने लगाई भारत सरकार से गुहार, चिट्ठी लिख की यह मांग

Last Updated: बुधवार, 29 सितम्बर 2021 (15:49 IST)
नई दिल्ली। अब 'अब आया ऊंट पहाड़ के नीचे' कहावत को चरितार्थ करते हुए की ने भारत से कमर्शियल फ्लाइटें फिर से शुरू करने की मांग की है। पत्र लिखकर इस्लामिक अमीरात ने डीजीसीए (नागरिक उड्डयन महानिदेशालय) को काबुल के लिए कमर्शियल फ्लाइट्स फिर से शुरू करने की मांग की है। भारतीय नागरिक उड्डयन मंत्रालय इस पत्र की समीक्षा कर रहा है। अफगानिस्तान के इस्लामिक अमीरात घोषित होने के बाद यह उसकी ओर से पहली आधिकारिक बातचीत की पहल है।
ALSO READ:

जब पाकिस्तान की सीमा में घुसकर भारतीय सैनिकों ने मचाई थी तबाही, जानिए सर्जिकल स्ट्राइक की पूरी कहानी...

15 अगस्त के बाद काबुल के लिए भारत ने सभी कमर्शियल फ्लाइटों का संचालन बंद कर दिया था। वहां से भारतीय नागरिकों को लाने के लिए बचाव मिशन के तहत सिर्फ कुछ विशेष विमानों को ही काबुल एयरपोर्ट जाने की इजाजत मिली थी। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए इधर केंद्रीय डीजीसीए ने शेड्यूल्ड अंतरराष्ट्रीय वाणिज्यिक उड़ानों पर प्रतिबंध को 31 अक्टूबर तक बढ़ाने का फैसला लिया है।


डीजीसीए ने बुधवार को जारी एक नोटिफिकेशन में कहा कि यह प्रतिबंध अंतरराष्ट्रीय ऑल-कार्गो संचालन और विशेष रूप से नियामक द्वारा अनुमोदित उड़ानों पर लागू नहीं होगा। डीजीसीए ने कहा कि शेड्यूल्ड अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को मामले के आधार पर चयनित मार्गों पर अनुमति दी जा सकती है। केंद्र सरकार ने पिछले साल 23 मार्च को कोरोना वायरस के रोकथाम के लिए अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के संचालन पर प्रतिबंध लगा दिया था।



और भी पढ़ें :