नरेन्द्र मोदी ने दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली, अमित शाह भी बने मंत्री

Last Updated: शुक्रवार, 31 मई 2019 (00:22 IST)
नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने गुरुवार की शाम को नरेन्द्र दामोदरदास मोदी को लगातार दूसरी बार देश के प्रधानमंत्री पद की शपथ ग्रहण दिलाई।
शपथ ग्रहण समारोह में सबसे ज्यादा आकर्षण का केंद्र भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के शपथ लेने का रहा। मोदी के मंत्रिमंडल में 24 कैबिनेट मंत्री, 9 स्वतंत्र प्रभार के राज्यमंत्री और 24 राज्य मंत्री रहेंगे।

राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, वी सदानंद गौड़ा, निर्मला सीतारमण,
रामविलास पासवान, नरेन्द्र सिंह तोमर, रविशंकर प्रसाद, हरसिमरत कौर, थावरचंद गेहलोत, एस जयशंकर, रमेश पो‍खरियाल निशंक, अर्जुन मुंडा, स्मृति ईरानी, डॉ. हर्षवर्धन, प्रकाश जावड़ेकर, पीयूष गोयल, धर्मेद्र प्रधान, मुख्तार अब्बास नकवी ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली।
शपथ ग्रहण समारोह से जुड़ी हर जानकारी...
- देबश्री चौधरी ने शपथ ग्रहण की
- 2014 में देबश्री चौधरी चुनाव हार गईं थी और पहली बार चुनाव जीतकर संसद पहुंची हैं।
- पश्चिम बंगाल के रायगंज सीट से चुनाव जीती चौधरी बीजेपी की प्रदेश महासचिव हैं
- कैलाश चौधरी ने शपथ ग्रहण की
- कैलाश चौधरी ने बाड़मेर सीट पर जसवंत सिंह के बेटे को हराया।
- पहली बार जीतकर संसद पहुंचे हैं कैलाश चौधरी।
- जाट समुदाय से आने वाले 46 साल के चौधरी 2013 से 2018 तक राजस्थान में विधायक रहे।

- प्रताप सारंगी ने राज्यमंत्री की शपथ ग्रहण की
- सारंगी 'ओड़िसा के मोदी' के नाम से मशहूर हैं।
- उड़ीसा के बालासोर से चुनाव जीतकर पहली बार सांसद बने सारंगी।
- सारंगी जमीन से जुड़े नेता हैं और साइकिल से चलते हैं।

- असम के डिब्रूगढ़ से सांसद रामेश्वर तेली ने शपथ ग्रहण की
- दूसरी बार जीतकर संसद पहुंचे रामेश्वर तेली 2001 से 2011 तक विधायक रहे हैं।
- रामेश्वर तेली ने शादी नहीं की है और वे 10वीं पास हैं।

- सोमप्रकाश ने शपथ ग्रहण की
- सोमप्रकाश पंजाब के फगवाड़ा से विधायक रहे हैं।
- होशियारपुर से पहली बार जीतकर संसद पहुचे सोमप्रकाश आईएस अधिकारी हैं।
- सोमप्रकाश जालंधर के डिप्टी कमिश्नर रहे हैं।

- रेणुका सिंह ने राज्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण की
- 55 साल की रेणुका सिंह रमन सरकार में मंत्री रह चुकी हैं।
- बीजेपी महिला उपाध्यक्ष रे‍णुका 12वीं पास हैं।
- सरगुजा से सांसद रेणुका चर्चित आदिवासी नेता हैं।

- वी मुरलीधरन ने राज्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की
- मुरलीधरन महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद हैं।
- मुरलीधरन ने एबीवीपी से राजनीति की शुरुआत की है।
- केरल के रहने वाले बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष भी रहे हैं और संघ से जुड़े रहे हैं।
- 17वें राज्यमंत्री के रूप में रतनलाल कटारिया ने शपथ ली
- 2014 और 2019 का चुनाव लगातार जीता।
- अंबाला से जीतने वाले कटारिया ने कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की है।


- ‍नित्यानंद राय ने राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली
- नित्यानंद राय बिहार के उजियारपुर से चुनाव जीते हैं।
- यादव जाति से आने वाले राय दूसरी बार जीतकर संसद पहुंचे हैं।
- नित्यानंद राय हाजीपुर से विधायक रह चुके हैं।

- सुरेश अंगाड़ी ने 15वें राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली
- बेलगाम कर्नाटक से चुनाव जीते हैं सुरेश अंगाड़ी।
- 2004 में पहली बार सांसद बने सुरेश बेलगाम में कई एजुकेशन सेंटर चलाते हैं।
- पेशे से बिजनेसमैन सुरेश लॉ ग्रेजुएट हैं और लगातार चार बार से सांसद हैं।


- अनुराग ठाकुर ने राज्यमंत्री की शपथ ली
- हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से सांसद अनुराग ठाकुर बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष रहे हैं।
- पूर्व मुख्यमंत्री प्रेमसिंह धूमल के बेटे अनुराग 2008 से लगातार सांसद हैं।
- अनुराग ठाकुर बीसीसीआई के अध्यक्ष रहे हैं।

- अकोला से संजय धोत्रे ने राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली
- पेशे से इंजीनियर धोत्रे 1999 से 2004 तक विधायक रहे।
- धोत्रे को कृषि क्षेत्र में काम के लिए कई पुरस्कार मिले हैं।


- संजीव बालियान ने शपथ ग्रहण की
- बालियान ने आरएलडी के बड़े नेता अजित सिंह को हराया।
- पेशे से पशु चिकित्सक बालियान ने मुजफ्फरनगर से लगातार दूसरी बार जीत हासिल की है।
- बालियान पश्चिमी यूपी के बड़े किसान जाट नेता हैं।

- पेशे से गायक बाबुल सुप्रियो ने शपथ ली
- पिछली मोदी सरकार ‍में ‍शहरी विकास राज्यमंत्री रहे हैं।
- 2014 में पहली बार सांसद बने। आसनसोल से मुनमुन सेन को हराकर सांसद बने।

- साध्वी निरंजन ज्योति ने शपथ ली
- साध्वी निरंजन ज्योति ने फतेहपुर से जीत हासिल की।
- 51 साल की निरंजन ज्योति उत्तरप्रदेश में पिछड़े समाज का बड़ा चेहरा हैं।
- 2019 के कुंभ में महामंडलेश्वर बनीं। 12वीं पास साध्वी पिछली मोदी सरकार में खाद्य प्रसंस्करण राज्यमंत्री मंत्री रही।


- रामदास अठावले ने शपथ ग्रहण की
- अठावले देश की राजनीति का बड़ा दलित चेहरा हैं। अठावले यूपीए में शामिल होकर मंत्री रह चुके हैं।
- आरपीआई राष्ट्रीय अध्यक्ष अठावले पिछली मोदी सरकार में मंत्री रह चुके हैं।

- पुरुषोत्तम रुपाला ने राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली
- गुजरात के बड़े पाटीदार नेता रुपाला पिछली मोदी सरकार में मंत्री रहे हैं। वे राज्यसभा सदस्य हैं।
- 80 के दशक में बीजेपी से जुड़े रुपाला का गुजरात विधानसभा जीत में बड़ा योगदान रहा है।

- जी किशन रेड्डी ने शपथ ग्रहण की
- सिकंदराबाद से रेड्डी पहली बार सांसद बने हैं और 3 बार बीजेपी के विधायक रहे चुके हैं।
- रेड्डी तेलंगाना बीजेपी के अध्यक्ष रह चुके हैं। बीजेपी युवा मोर्चा के अध्यक्ष रह चुके हैं।

- जालना से चुनाव जीते रावसाहेब दानवे ने शपथ ग्रहण की
- दानवे लगातार 5वीं बार जीतकर संसद पहुंचे हैं। वे पिछली मोदी सरकार में मंत्री रह चुके हैं।
- उन्होंने सरपंच से राजनीति की शुरुआत की थी। वे महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष रहे चुके हैं।

- कृष्णपाल गुर्जर ने शपथ ग्रहण की
- कृष्णपाल गुर्जर 2 बार के सांसद और 3 बार विधायक हैं।
- उन्होंने फरीदाबाद से चुनाव जीता है। 2014 में पहली बार चुनाव जीता था।
- कृष्णपाल गुर्जर पिछली सामाजिक न्याय मंत्री थे।

- वीके सिंह ने शपथ ग्रहण की
- 5 साल से पहले राजनीति में आए वीके सिंह थल सेना अध्यक्ष रहे हैं।
- वीके सिंह पिछली मोदी सरकार में विदेश राज्यमंत्री थे।
- सिंह 2 बार सांसद बन चुके हैं और प्रशिक्षित कमांडो भी हैं।

- अर्जुन राम मेघवाल ने राज्यमंत्री के रूप में शपथ ली
- साइकिल से सांसद जाने को लेकर चर्चाओं में आने वाले मेघवाल पिछली मोदी सरकार में जल संसाधन राज्यमंत्री थे।
- मेघवाल आईएस अधिकारी रहे चुके हैं और लगातार 3 तीन बार लोकसभा का चुनाव जीत चुके हैं।

- अश्विनी कुमार ने राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार के रूप में शपथ ली
- बिहार में अश्विनी कुमार बीजेपी का ब्राह्मण चेहरा हैं।
- बक्सर से वे दूसरी बार चुनाव जीते हैं और पिछली सरकार में स्वास्थ्य राज्यमंत्री रहे हैं।

- फग्गन सिंह कुलस्ते ने शपथ ग्रहण की
- पिछली मोदी सरकार में कुलस्ते मंत्री रहे हैं।
- मध्यप्रदेश के मंडला से आने वाले कुलस्ते आदिवासी नेता हैं।
- कुलस्ते वोट फॉर कैश मामले में भी फंस चुके हैं।


- मनसुख मंडावलिया ने शपथ ग्रहण की
- मंडावलिया ने एबीवीपी से राजनीति की शुरुआत की। पिछली मोदी सरकार में वे मंत्री थे।
- मनसुख मंडावलिया 2002 में सबसे कम उम्र के विधायक बने।

- हरदीप सिंह पुरी ने शपथ ग्रहण की
- हरदीप सिंह पुरी राज्यसभा सदस्य हैं।
- पिछली मोदी सरकार में मंत्री रहे चुके हरदीप सिंह शहरी विकास मंत्री थे।
- सरकारी सेवा से रिटायर हुए पुरी 1974 बैच के आईएसएफ अधिकारी हैं।

- बिहार के आरा से सांसद आरके सिंह ने शपथ ग्रहण की
- पिछली मोदी सरकार में बिजली मंत्री रहे हैं आरके सिंह।
- आरके सिंह देश के गृह सचिव भी रह चुके हैं। वे दूसरी लोकसभा चुनाव जीतकर संसद पहुंचे।

- प्रहलाद पटेल ने शपथ ग्रहण की
- प्रहलाद पटेल ने मध्यप्रदेश के दमोह से लोकसभा का चुनाव जीता है।
- उमा भारती के करीबी पटेल 34 सालों से राजनीति में सक्रिय हैं।
- उन्होंने 5वीं बार लोकसभा का चुनाव जीता है।
- अटलजी की सरकार में कोयला मंत्री रहे हैं प्रहलाद पटेल।
- किरण रिजिजू ने स्वतंत्र प्रभार के रूप में शपथ ग्रहण की
- किरण रिजिजू ने अरुणाचल वेस्ट से चुनाव जीता है
- रिजिजू 2009 में चुनाव हारे और 2014 में पहली बार सांसद बने।
- दिल्ली के हंसराज कॉलेज पढ़े रिजिजू पिछली मोदी सरकार में गृह राज्यमंत्री रहे थे।

- डॉ. जितेन्द्र सिंह ने शपथ ग्रहण की
- उधमपुर सीट से चुनाव जीते हैं डॉ. जितेन्द्र सिंह
-
2014 में पहली बार सांसद बने जितेन्द्र सिंह प्रधानमंत्री के भरोसेमंद माने जाते हैं।
- पिछली मोदी सरकार में वे पीएमओ में राज्यमंत्री रहे चुके हैं।

- उत्तर गोवा से लगातार 5 बार सांसद श्रीपद नाइक ने शपथ ग्रहण की
- 1999 से सांसद हैं नाइक अटलजी की सरकार में मंत्री रह चुके हैं।
- पिछली मोदी सरकार में श्रीपद नाइक आयुष मंत्री थे।

- राव इन्द्रजीत सिंह ने शपथ ग्रहण की
- राव इन्द्रजीत सिंह ने गुड़गांव से जीत हासिल की है। वे 5 बार लोकसभा चुनाव जीत चुके हैं।
- 1977 में वे पहली बार विधायक बने।
- 2013 में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में आए इन्द्रजीत मोदी सरकार में रसायन मंत्री रह चुके हैं।

- 70 वर्ष के संतोष कुमार गंगवार ने शपथ ग्रहण की
- गंगवार 2019 में बरेली से 8वीं बार सांसद चुने गए।
- 70 साल के गंगवार 1989 में पहली बार सांसद बने थे।
- मोदी सरकार 1 में श्रम मंत्री रहे गंगवार कुर्मी समाज से आते हैं।

- राजस्थान के बड़े नेता गजेन्द्र सिंह शेखावत ने शपथ ली।
- शेखावत ने जोधपुर सीट से अशोक गहलोत के बेटे को हराया है।
स्वदेशी जागरण मंच से जुड़े रहे शेखावत पिछली मोदी सरकार में कृषि राज्यमंत्री रहे हैं।
- शेखावत जोधपुर यूनिवर्सिटी छात्रसंघ के अध्यक्ष भी रहे हैं।

- गिरिराज सिंह ने कैबिनेट मंत्री की शपथ ली।
- 2014 में पहली बार सांसद बने गिरिराज बिहार में भूमिहारों के बड़े नेता हैं।
- मोदी सरकार -1 में लघु उद्योग राज्यमंत्री रहे गिरिराज ने कन्हैया कुमार को शिकस्त दी।

- शिवसेना कोटे से अरविंद सांवत ने मोदी कैबिनेट में शपथ ग्रहण की
- अरविंद सावंत ने कांग्रेस के मिलिंद देवड़ा को हराया।
- दो बार लगातार सांसद चुने गए सावंत महानगर टेलीफोन नेटवर्क में इंजीनियर रहे हैं।


- चंदौली से सांसद डॉ. महेन्द्र नाथ पांडे ने शपथ ग्रहण की
- उत्तरप्रदेश में बीजेपी में ब्रह्माण चेहरा महेन्द्र नाथ पांडे।
- मोदी सरकार- 1 में मंत्री रह चुके पांडे 1991 में पहली बार विधायक बने थे।


- प्रहलाद जोशी ने पहली बार मंत्री पद की शपथ ली
- लगातार 4 बार सांसद रह चुके प्रहलाद जोशी कर्नाटक के बीजेपी अध्यक्ष भी रह चुके हैं।
- कर्नाटक की धारवाड़ सीट से जीत हासिल कर चुके जोशी एथिक्स कमेटी के सदस्य रहे हैं।
- जोशी लोकसभा की कार्यवाही भी संचालित कर चुके हैं।
- मुख्तार अब्बास नकवी ने शपथ ग्रहण की
- पिछली मोदी सरकार में मुख्तार अब्बास नकवी अल्पसंख्यक मंत्री रह चुके हैं।
- नकवी बीजेपी में बड़ा मुस्लिम चेहरा हैं। वे अटल सरकार में भी मंत्री रह चुके हैं।

- धर्मेद्र प्रधान ने शपथ ग्रहण की
- धर्मेद्र प्रधान मध्यप्रदेश से राज्यसभा सदस्य हैं।
- मोदी सरकार- 1 में वे पेट्रोलियम मंत्री रह चुके हैं। धर्मेद्र प्रधान उड़ीसा में बीजेपी का बड़ा चेहरा हैं।
- पिछली मोदी सरकार में उज्ज्वला जैसी योजना का श्रेय।

- पीयूष गोयल ने शपथ ग्रहण की
- पीयूष गोयल बीजेपी के कोषाध्यक्ष रह चुके हैं।
- 34 साल से राजनीति में पीयूष गोयल राजनीति में आने से पहले इन्वेस्टमेंट बैंकर थे।
- पिछली मोदी सरकार में पीयूष गोयल रेल मंत्री थे।
- जेटली की अस्वस्थता के चलते उन्होंने वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभाला और बजट भी पेश किया था।

- प्रकाश जावड़ेकर ने मोदी कैबिनेट में शपथ ग्रहण की
- मोदी सरकार-1 में शिक्षा मंत्री रहे जावड़ेकर 80 के दशक में भाजपा से जुड़े थे।
- राजस्थान में प्रभारी जावड़ेकर महाराष्ट्र से राज्यसभा सदस्य हैं।
- जावड़ेकर के पास 40 साल का राजनीतिक करियर का अनुभव है।
- डॉ. हर्षवर्धन ‍ने शपथ ग्रहण की
- दिल्ली में बीजेपी का बड़ा चेहरा डॉ. हर्षवर्धन हैं। उन्होंने चांदनी चौक से जीत हासिल की हैं।
- पेशे से डॉक्टर हर्षवर्धन वैश्य समुदाय से आते हैं। वे मोदी सरकार-1 में स्वास्थ्य और विज्ञान मंत्री रहे हैं।
- हर्षवर्धन 1992 में पहली बार विधायक बने थे।
- स्मृति ईरानी ने शपथ ग्रहण की
- लोकसभा चुनाव 2019 में स्मृति ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को उनके गढ़ अमेठी में 55 हजार से हराया।
- स्मृति ईरानी 2 बार राज्यसभा सदस्य रह चुकी हैं।
- मोदी सरकार-1 में स्मृति ईरानी कपड़ा मंत्री थीं। राजनीति से पहले वे टीवी कलाकार रह चुकी हैं।

- अर्जुन मुंडा ने शपथ ग्रहण की
- झारखंड के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। मुंडा बीजेपी में बड़ा आदिवासी चेहरा हैं।
- मुंडा ने खूंटी से जीत हासिल की है। मुंडा ने झारखंड मुक्ति मोर्चा से राजनीति की शुरुआत की।
- 1995 में अर्जुन मुंडा पहली बार विधायक बने थे।
- रमेश पो‍खरियाल निशंक शपथ ग्रहण की
- निशंक 2014 में पहली बार सांसद बने। 2019 में हरिद्वार से लोकसभा चुनाव जीता है।
- 1997 में यूपी सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं निशंक 1991 में पहली बार विधायक बने थे।


- एस जयशंकर ने शपथ ग्रहण की
- जयशंकर 2015 से 2018 तक विदेश सचिव रह चुके हैं।
- जयशंकर 1977 में विदेश सेवा में शामिल हुए। अभी किसी भी सदन में सदस्य नहीं हैं।
- चीन और अमेरिका में भारत के राजदूत रहे जयशंकर को चीन के मामलों का विशेषज्ञ माना जाता है।

- थावर चंद गेहलोत ने शपथ ग्रहण की
- बीजेपी में बड़ा दलित चेहरा हैं। 5 बार लोकसभा के सांसद रह चुके हैं।
- 71 साल के थावरचंद गेहलोत ग्रेजुएट हैं। मोदी सरकार 1 में सामाजिक न्याय मंत्री रह चुके हैं।

- हरसिमरत कौर बादल ने शपथ ग्रहण की
- बादल परिवार की बहू हरसिमरत कौर 2009 से लगातार जीत रही हैं।
- हरसिमरत कौर ने इस बार बठिंडा से 21 हजार वोटों से चुनाव जीता है।
पिछली मोदी सरकार में खाद्य प्रसंस्करण मंत्री रही हैं।


- रविशंकर प्रसाद ने शपथ ग्रहण की
- लोकसभा चुनाव 2019 में रविशंकर प्रसाद ने पटना साहिब से जीत हासिल की है।
- रविशंकर प्रसाद पहली बार जीतकर लोकसभा पहुंचे हैं।
- रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस के शत्रुघ्न सिन्हा को हराया है।
- रविशंकर वाजपेयी सरकार में मंत्री रह चुके हैं।

नरेन्द्र सिंह तोमर ने शपथ ग्रहण की
- नरेन्द्र सिंह तोमर ने लोकसभा चुनाव 2019 में मुरैना से जीत हासिल की है।
- 2014 में
ग्वालियर से जीतकर आए थे। मोदी- 1 में ग्रामीण विकास और संसदीय कार्यमंत्री रह चुके हैं।
-नरेन्द्र सिंह तोमर ने युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष से करियर की शुरुआत की।


- एलजेपी प्रमुख रामविलास पासवान ने शपथ ग्रहण की
- पासवान
अभी किसी सदन में सदस्य नहीं है।
- मोदी सरकार-1 में खाद्य और आपूर्ति मंत्री, रेल और संचार मंत्री भी रह चुके हैं।
- निर्मला सीतारमण ने शपथ ग्रहण की
-पिछली मोदी सरकार में 3 सितंबर 2017 से निर्मला सीतारमण रक्षा मंत्री रही हैं।
- जून 2014
से राज्यसभा की सदस्य रही हैं। बीजेपी की राष्ट्रीय प्रवक्ता भी रही हैं निर्मला सीतारमण।
- मोदी सरकार-1 में वाणिज्य और उद्योग मंत्री
भी रह चुकी हैं।

- वी सदानंद गौड़ा ने शपथ ग्रहण की
- पिछली मोदी सरकार में सांख्यिकी और कार्यावहन मंत्री रह चुके हैं।
- सदानंद गौड़ा ने बेंगलुरु उत्तर से लोकसभा का चुनाव जीता।
पिछली मोदी सरकार में रेल और कानून मंत्री भी रह चुके हैं सदानंद गौड़ा। चार बार लोकसभा चुनाव जीते हैं।

- नितिन गडकरी ने शपथ ग्रहण की
- नितिन गडकरी को आरएसएस का करीबी माना जाता है।
- नितिन गडकरी पिछली मोदी सरकार में सड़क और परिवहन मंत्री थे। नागपुर से दूसरी बार लोकसभा चुनाव जीता है।
- भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी मंत्री पद की शपथ ली
- शाह को बीजेपी का चाणक्य कहा जाता है।
- अमित शाह गुजरात में गृह राज्यमंत्री रहे हैं। 2014 और 2019 में भाजपा की प्रचंड जीत के नायक रहे हैं।
- भाजपा अध्यक्ष से पहले पार्टी महासचिव की जिम्मेदारी भी निभा चुके हैं।

- राजनाथ सिंह ने मंत्री पद की शपथ ली
- लखनऊ से दूसरी बार जीत हासिल की है।
1977 में पहली बार विधायक बने। मोदी सरकार1 में गृहमंत्री रहे राजनाथ सिंह।
- नरेन्द्र मोदी ने दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ ली।

- राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शपथ ग्रहण समारोह स्थल पहुंचे।
- उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू भी राष्ट्रपति भवन पहुंचे।
- दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के लिए नरेन्द्र मोदी पहुंचे।
- बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत, जितेन्द्र, करण जौहर भी शपथ समारोह में पहुंचे।

- नरेन्द्र मोदी का काफिला राष्ट्रपति भवन के लिए निकला।
- प्रताप सारंगी भी मंत्री बनेंगे। ओडिसा के मोदी के नाम से प्रसिद्‍ध हैं।

- मोदी सरकार-2 में मंत्री नहीं बनेंगी सुषमा स्वराज।
- सुषमा स्वराज शपथ ग्रहण समारोह में दर्शक दीर्घा में बैठीं।

- सुषमा स्वराज मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए राष्ट्रपति भवन पहुंचीं।


- राहुल गांधी और सोनिया गांधी मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए राष्ट्रपति भवन पहुंचे।

- बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राष्ट्रपति भवन पहुंचे।
- भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी भी शपथ ग्रहण में पहुंचे।
- पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह राष्ट्रपति भवन पहुंचे।
- उद्योग‍पति मुकेश अंबानी और नीता अंबानी भी मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे।

- भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह राष्ट्रपति भवन पहुंचे
- कई नेताओं से मिलने के बाद अमित शाह की मुलायम सिंह से मुलाकात
- मुलायम सिंह ने हंसते हुए अमित शाह के कंधे पर हाथ रखकर उन्हें बधाई दी
- राष्ट्रपति भवन में कई नेता अमित शाह के साथ सेल्फी खिंचवाने रहे


- राष्ट्रपति भवन में लोकप्रिय सांसदों का आना शुरु
- स्मृति ईरानी के अलावा कई बड़े नेता पहुंचे
- जूनापीठा अखाड़ा के प्रमुख महामंडलेश्वर अवधेशानंद जी भी पहुंचे
- कई विदेशी मेहमानों के आने का सिलसिला भी प्रारंभ हो चुका है

- JDU ने शपथ ग्रहण से ठीक पूर्व लिया बड़ा फैसला।
- JDU मोदी सरकार में शामिल नहीं होगा।
- जेडीयू एनडीए में रहेगा लेकिन सरकार में नहीं होगा।
- JDU के इस बार 16 सांसद जीते हैं।
- जेडीयू सिर्फ 1 मंत्री पद मिलने से नाराज
- एनडीए के घटक दलों की एक कुर्सी खाली रहने वाली है

- संभावित मंत्रियों से नरेन्द्र मोदी ने मुलाकात की। पीएम आवास पर बैठक खत्म हुई।

- नरेन्द्र मोदी के घर पहुंचे राजनाथ सिंह और निर्मला सीतारमण।

- पूर्व विदेश सचिव एस. जयशंकर बन सकते हैं मंत्री। एस. जयशंकर को पद्मश्री सम्मान मिल चुका है।
- अमित शाह बनेंगे कैबिनेट मंत्री। गुजरात प्रदेश भाजपा अध्यक्ष जीतू वघानी ने अमित शाह से मुलाकात की और उन्हें शुभकामनाएं दीं।

- शाम साढ़े 4 बजे नए मंत्रियों से मिलेंगे पीएम मोदी। करेंगे चाय पर चर्चा।
- जिन सांसदों को मंत्री बनाए जाना है उनको फोन के जरिए सूचना दी गई है।
- सहयोगी दलों में जेडीयू और शिवसेना के कोटे से दो–दो मंत्री, अकाली दल, अपना दल और एआईडीएमके से एक सांसद मंत्री बनेंगे।

- इस समारोह में राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद सबसे पहले मोदी को प्रधानमंत्री पद की शपथ दिलाएंगे। बताया जा रहा है ‍कि इसके बाद उनके 45 सहयोगी भी मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं।

 

और भी पढ़ें :