मंत्रीजी ने कलेक्टर को लगाई जमकर फटकार, जानिए क्यों...

कीर्ति राजेश चौरसिया| Last Updated: शनिवार, 30 नवंबर 2019 (08:45 IST)
छतरपुर। छतरपुर में को फटकारने का मामला सामने आया है, जहां का करने और फटकार खाने के बाद कलेक्टर 'सॉरी' बोलते नजर आए और प्रभारी मंत्री को अपने चेंबर में ले गए, जहां 20 से 25 मिनट तक कलेक्टर चेम्बर में बैठे रहे। इसके बाद मंत्रीजी मीटिंग में पहुंचे।
प्रदेश सरकार में आबकारी मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री शुक्रवार को विभागीय बैठक में पहुंचे थे, जहां मंत्री कलेक्टोरेट गेट के बाहर पहुंच गए, गाड़ी से भी उतर गए। बावजूद इसके, प्रोटोकॉल के तहत उन्हें कोई रिसीव करने नहीं पहुंचा। इसके बाद मंत्री का पारा चढ़ गया।
इसकी सूचना कलेक्टर मोहित बुंदस को लगी तो वे भागते हुए बाहर पहुंचे, जहां कलेक्टर ने मंत्रीजी को 'सॉरी' कहा। उसके बाद भी मंत्रीजी का गुस्सा शांत नहीं हुआ और कलेक्टर बुंदस से भारी नाराजगी जाहिर करते कहा कि क्या किसी को बताया नहीं कि मैं आ रहा हूं? यह है आपका प्रोटोकॉल? गलत बात है यह। अब आप कर लें अपनी बैठक।

इस पर कलेक्टर बार-बार 'सॉरी' बोलते और अपनी सफाई देते नजर आए। मनाते हुए कलेक्टर विभागीय बैठक के पहले मंत्रीजी को अपने चेम्बर में लेकर पहुंचे और वहां दोनों के बीच 20 से 25 मिनट तक बातचीत होती रही, फिर बाद में बैठक हुई।
विदित हो कि छतरपुर जिले के सारे विधायक कहीं न कहीं कलेक्टर के अड़ियल रवैये और तवज्जो न देने की शिकायतें अपने-अपने स्तर पर कर चुके हैं। बावजूद इसके, कलेक्टर का ट्रांसफर नहीं करवा सके।




और भी पढ़ें :