ICC World Cup 2019 : टीम इंडिया शनिवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ तैयारी को परखेगी

Last Updated: शुक्रवार, 24 मई 2019 (19:34 IST)
लंदन। युवा और अनुभवी खिलाड़ियों के बेहतरीन संयोजन और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली के नेतृत्व वाली भारतीय क्रिकेट टीम शनिवार को के खिलाफ में आईसीसी विश्व कप से पूर्व अपनी तैयारियां परखने उतरेगी।
30 मई से शुरू होने जा रहे आईसीसी विश्व कप में भारतीय टीम 2 अभ्यास मैच खेलेगी जिसमें पहला मुकाबला वे केनिंग्टन ओवल में न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार को खेलेगी। यह गैर आधिकारिक अभ्यास मैच टीम इंडिया के प्रदर्शन और उसकी तैयारियों को परखने के लिहाज से बहुत अहम होगा जिसके सभी खिलाड़ी इसी माह समाप्त हुए इंडियन प्रीमियर लीग ट्वंटी-20 टूर्नामेंट की व्यस्तता के बाद सीधे ब्रिटेन पहुंचे हैं।
भारत ने अपनी आखिरी अंतरराष्ट्रीय सीरीज ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अपने ही घरेलू मैदान पर खेली थी जिसमें उसे 2-3 से शिकस्त झेलनी पड़ी, इसके बाद विश्व कप टीम के सभी खिलाड़ी आईपीएल में अपनी अपनी टीमों के लिए खेलने उतरे। ऐसे में तैयारी के लिहाज से उसके दोनों अभ्यास मैच काफी महत्वपूर्ण होंगे, जहां खिलाड़ियों को यहां की परिस्थितियों के अनुकूल खुद को ढालने में मदद मिलेगी जबकि टीम प्रबंधन के पास भी संयोजन परखने का मौका होगा।
भारतीय टीम प्रबंधन के लिए चौथे क्रम को लेकर भी स्थिति काफी पेचीदा रही है, जहां फिलहाल लोकेश राहुल और कम अनुभव के बावजूद विश्व कप टीम में जगह बनाने को लेकर सुर्खियां बटोरने वाले ऑलराउंडर विजय शंकर प्रमुख दावेदार हैं।

ओपनिंग क्रम में शिखर धवन और रोहित शर्मा की फॉर्म भी अहम होगी जिन पर अच्छी शुरुआत दिलाने की जिम्मेदारी है। कप्तान विराट तीसरे नंबर पर अहम बल्लेबाज हैं और इन खिलाड़ियों की मौजूदगी से भारत का शीर्ष क्रम काफी मजबूत है, वहीं 5वें नंबर पर महेंद्र सिंह धोनी, ऑलराउंडर केदार जाधव और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या निचले क्रम को मजबूती देने वाले अहम खिलाड़ी हैं।
अभ्यास मैच में बल्लेबाजों के प्रदर्शन के अलावा गेंदबाजों पर भी निगाहें रहेंगी जिन्हें इंग्लैंड की पिचों पर अहम माना जा रहा है। सभी विशेषज्ञों का मानना है कि इंग्लिश पिचों पर हर टीम के गेंदबाजों की भूमिका अहम होगी। भारतीय टीम के पास वनडे में दुनिया के नंबर 1 गेंदबाज के रूप में जसप्रीत बुमराह मौजूद हैं।

तेज गेंदबाज बुमराह के अलावा गेंदबाजी आक्रमण में मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार और पांड्या से यहां की चुनौतीपूर्ण पिचों पर अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है जबकि स्पिनरों में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल का प्रदर्शन महत्वपूर्ण माना जा रहा है।
वर्ष 1983 में कपिल देव और 2011 में धोनी की कप्तानी में विश्व विजेता बना भारत इस बार विराट की कप्तानी में चैंपियन बनने के लक्ष्य के साथ उतरा है। लेकिन खुद कप्तान विराट कह चुके हैं कि यह अब तक का सबसे चुनौतीपूर्ण आईसीसी विश्व कप होगा, जहां पर कोई भी उलटफेर कर सकता है और खिलाड़ियों को अपना सर्वश्रेष्ठ खेल दिखाना होगा।

दूसरी ओर न्यूजीलैंड के लिए अभ्यास मैच से पूर्व बड़ा झटका विकेटकीपर बल्लेबाज टॉम लाथम के चोटिल होने से लगा है, जो चोटिल हो गए हैं और भारत के खिलाफ अभ्यास मैच में नहीं उतरेंगे। लाथम की जगह मैच में गैर अनुभवी टॉम ब्लेंडेल को उतारा जाएगा।
ओपनिंग क्रम में शिखर धवन और रोहित शर्मा की फॉर्म भी अहम होगी जिन पर अच्छी शुरुआत दिलाने की जिम्मेदारी है। कप्तान विराट तीसरे नंबर पर अहम बल्लेबाज हैं और इन खिलाड़ियों की मौजूदगी से भारत का शीर्षक्रम काफी मजबूत है, वहीं 5वें नंबर पर महेंद्र सिंह धोनी, ऑलराउंडर केदार जाधव और ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या निचले क्रम को मजबूती देने वाले अहम खिलाड़ी हैं। (वार्ता)

 

और भी पढ़ें :