टीम इंडिया की जर्सी अब ऑनलाइन ट्यूशन देने वाली कंपनी Byju's का प्रचार करेगी

Last Updated: गुरुवार, 25 जुलाई 2019 (17:10 IST)
वेस्टइंडीज दौरे के समाप्त होने के बाद सितंबर माह से टीम इंडिया की जर्सी पर दिखने वाला ओप्पो मोबाइल
कंपनी (Oppo) का नाम हट सकता है। 10 हजार करोड़ से अधिक रुपए देकर चाइना की इस मोबाइल
कंपनी ने 5 साल तक के लिए करार किया था, जो अब खत्म होने वाला है। इसके बाद से टीम इंडिया की जर्सी
पर Byju's का नाम दिखने लगेगा।

Byju's शिक्षा और तकनीक के मामलों में ऑनलाइन ट्यूशन देने वाली कंपनी है, जो टीवी चैनल के माध्यम
से अपना प्रचार-प्रसार कर रही है। सूत्रों के अनुसार 'टाइम्स ऑफ इंडिया' की रिपोर्ट में कहा गया कि ओप्पो ने यह निर्णय लिया है कि वो जल्द ही बाईजूस को टीम इंडिया के अधिकार दे देगा, क्योंकि उसका मानना है कि 2017
में टीम इंडिया की जर्सी की रकम बहुत अधिक थी, जो कि वर्तमान समय में कंपनी को इससे अधिक लाभ नहीं
दिला पा रही है। ओप्पो ने मार्च 2017 में 5 साल के लिए 1,079 करोड़ रुपए में यह अधिकार खरीदा था।

बाईजूस की स्थापना केरल के उद्योगपति बायजू रवीन्द्रन ने की है और इंडस्ट्री में इसकी कीमत 38,000 करोड़ रुपए की है। थिंक एंड लर्न प्राइवेट लिमिटेड इसकी पैरेंट कंपनी है। बीते कुछ दिनों से ओप्पो मोबाइल कंपनी इस
पर कार्य कर रही है और भरोसा जताया जा रहा है कि वेस्टइंडीज दौर के बाद टीम इंडिया की जर्सी से ओप्पो का
लोगो हट जाएगा और आगामी सीरीज में भारतीय टीम नई जर्सी के साथ नजर आएगी।


 

और भी पढ़ें :