INDvsNZ: दूसरे दिन के खेल में ईशांत और विलियम्सन चमके, न्यूजीलैंड मजबूत स्थिति में

Last Updated: शनिवार, 22 फ़रवरी 2020 (14:27 IST)
वेलिंगटन। तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा की शानदार गेंदबाजी का जवाब ने गरिमामय पारी से दिया और भारत के खिलाफ पहले क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन शनिवार को न्यूजीलैंड ने अपनी स्थिति मजबूत कर ली। निचले क्रम के पतन के कारण भारतीय टीम पहली पारी में 165 रनों पर आउट हो गई थी।
टखने की चोट से उबरकर वापसी करने वाले ईशांत ने 15 ओवर में 31 रन देकर 3 विकेट लिए। इसके बाद विलियम्सन की 89 रन की पारी की मदद से न्यूजीलैंड ने 5 विकेट पर 216 रन बना लिए। न्यूजीलैंड के पास अब 51 रन की बढ़त है।

मोहम्मद शमी ने आखिरी स्पैल में विलियम्सन को आउट किया, वहीं आखिरी घंटे में रविचंद्रन अश्विन ने हेनरी निकोल्स को पैवेलियन भेजा जिनका कैच दूसरी स्लिप में विराट कोहली ने लिया।
न्यूजीलैंड के कप्तान ने अपनी 153 गेंदों की पारी में 11 चौके लगाए। उन्होंने जसप्रीत बुमराह को खासी नसीहत दी। बुमराह सही लैंग्थ तलाश नहीं सके, जो कभी ज्यादा फुल लैंग्थ तो कभी शॉर्ट गेंद ही डालते रहे। तेज खिली धूप के बीच बेसिन रिजर्व की सूखी पिच ने बल्लेबाजों की राह आसान कर दी।

अपना 97वां टेस्ट खेल रहे ईशांत ने लंच के तुरंत बाद टाम लाथम (11) को पैवेलियन भेजा। विलियम्सन ने ब्लंडेल के साथ 47 रन की साझेदारी की। ब्लंडेल ने 80 गेंदों में 30 रन बनाए।
विलियम्सन और टेलर ने 93 रनों की साझेदारी की। ईशांत ने अपने तीसरे स्पैल में टेलर को शॉर्ट लेग पर चेतेश्वर पुजारा के हाथों लपकवाकर इस साझेदारी को तोड़ा। दूसरे छेार पर हेनरी निकोल्स के आने के बाद विलियम्सन की लय भी टूटी। निकोल्स 34 गेंद में 4 रन ही बना सके थे। अपने 22वें टेस्ट शतक की ओर बढ़ते दिख रहे विलियम्सन रवीन्द्र जडेजा को कैच दे बैठे।

इससे पहले न्यूजीलैंड के लिए जैमिसन ने 16 ओवरों में 49 रन देकर 4 विकेट लिए, वहीं साउदी ने 20.1 ओवर में 49 रन देकर 4 विकेट चटकाए। भारत ने 5 विकेट पर 122 रनों से आगे खेलते हुए आखिरी 5 विकेट 43 रन के भीतर गंवा दिए।
ऋषभ पंत (19) ने छक्के के साथ शुरुआत की लेकिन उपकप्तान अजिंक्य रहाणे से गलतफहमी का शिकार होकर रन आउट हो गए। रविचंद्रन अश्विन को साउदी ने उसी तरह की गेंद पर पैवेलियन भेजा जिस पर शुक्रवार को पृथ्वी शॉ अपना विकेट गंवा बैठे थे, वहीं रहाणे बाहर जाती गेंद पर बल्ला अड़ाने के प्रयास में आउट हुए।

मोहम्मद शमी (21) ने टीम को 150 रनों के पार पहुंचाया। उन्होंने 9वें विकेट के लिए ईशांत शर्मा के साथ 22 रन जोड़े। दोनों एक के बाद एक आउट हो गए और भारतीय पारी 68.1 ओवरों में सिमट गई।
पंत और रहाणे के बीच 31 रनों की साझेदारी से उम्मीदें बंधी थीं लेकिन 1 रन लेने के रहाणे के गलत कॉल ने तस्वीर बदल दी। रहाणे दूसरे छोर पर पहुंच चुके थे लिहाजा जूनियर बल्लेबाज पंत को अपना विकेट गंवाना पड़ा। एजाज पटेल का प्वॉइंट से सीधा थ्रो जब लगा, वे क्रीज से काफी पीछे थे।

पैवेलियन लौटते समय पंत ने निराशाभरी नजरों से रहाणे की तरफ देखा, वहीं अश्विन ऐसी गेंद पर आउट हुए जिसे शीर्षक्रम के बल्लेबाज भी नहीं खेल पाते। भारत का स्कोर 7 विकेट पर 132 रन था जिसके बाद रहाणे ने बोल्ट को चौका लगाया। साउदी ने रहाणे को पैवेलियन भेजकर भारत की सम्मानजनक स्कोर बनाने की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।


और भी पढ़ें :