हनुमा विहारी का टेस्ट क्रिकेट में पहला शतक, जानिए उनसे जुड़ीं खास बातें

Last Updated: रविवार, 1 सितम्बर 2019 (09:26 IST)
टीम इंडिया के ऑलराउंडर खिलाड़ी हनुमा विहारी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच के दूसरे दिन शानदार बल्लेबाजी कर अपने टेस्ट करियर का जड़ा। उल्लेखनीय है कि पहले टेस्ट मैच में भी हनुमा विहारी 7 रनों से अपना शतक चूक गए थे, लेकिन इस मैच में हनुमा ने बिना कोई गलती किए अपने टेस्ट करियर का पहला शतक ठोंक ही दिया।

हनुमा विहारी का ये पहला वेस्टइंडीज दौरा है और अपने पहले ही दौरे पर उन्होंने शतक जड़कर भारतीय टीम में अपनी जगह मजबूत की है। इस सीरीज में हनुमा विहारी को रोहित शर्मा के स्थान पर अंतिम 11 में शामिल किया था और हनुमा ने इसका बखूबी फायदा उठाया है और एक रिकॉर्ड भी अपने नाम किया है। इस शानदार पारी से हनुमा ने टीम मैनेजमेंट व अपने कप्तान विराट कोहली का दिल जीत लिया है। हनुमा से जुड़ीं मुख्य बातें...

1. टीम इंडिया के हनुमा विहारी ने अपना पहला करियर का शतक 200 गेंदों का सामना कर पूरा किया। इन 200 गेंदों में शतक जड़ने के लिए हनुमा ने अपने बल्ले से कुल 15 चौके निकाले।
2. हनुमा विहारी ने 8वें विकेट के लिए ईशांत शर्मा के साथ मिलकर 112 रनों की शतकीय साझेदारी 170 गेंदों में पूरी कर टीम इंडिया के स्कोर को 400 के पार पहुंचाने में बड़ी भूमिका अदा की।
3. इस मैच में हनुमा विहारी ने कप्तान विराट के साथ 5वें विकेट के लिए 38 रन, ऋषभ पंत के साथ 6ठे विकेट के लिए 62 रन जबकि रवीन्द्र जडेजा के साथ 7वें विकेट के लिए 38 रन की साझेदारी की।

4. ने हनुमा विहारी का विकेट गिरा अपने टेस्ट क्रिकेट करियर में विकेटों का शतक पूरा किया और साथ ही 1000 रन बनाने का भी रिकॉर्ड अपने नाम किया।


6.
हनुमा विहारी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टेस्ट की
दूसरी पारी में भी शानदार 93 रन की पारी खेली। वह शतक बनाने से भले ही चूक गए लेकिन अजिंक्य रहाणे के साथ उनकी 135 रन की साझेदारी ने उनकी जगह को अगले कुछ मैचों के लिए पक्का कर दिया था।फोटो साभार ट्विटर

 

और भी पढ़ें :