स्लो ओवर के लिए दोषी टीमों के कप्तानों को निलंबित नहीं करेगा आईसीसी, कॉम्पटीशन अंक में होगी कटौती

पुनः संशोधित शुक्रवार, 19 जुलाई 2019 (17:11 IST)
दुबई। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने अंतरराष्ट्रीय मैचों में रेट के लिए दोषी टीमों के कप्तानों को नहीं करने की क्रिकेट समिति की सिफारिश पर अपनी सहमति दे दी है।
आईसीसी ने अपने इस अहम फैसले में बताया कि वह अब किसी अंतरराष्ट्रीय मैच में स्लो ओवर रेट के लिए के को निलंबित करने के बजाय 'कॉम्पटीशन अंक' में कटौती कर देगा तथा पूरी टीम पर जुर्माना लगाया जाएगा ताकि भविष्य में इन मामलों को कम किया जा सके।
आगामी टेस्ट चैंपियनशिप से यह नियम प्रभावी हो जाएगा। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप अगस्त-2019 से शुरू हो जाएगी तथा इसका फाइनल जून 2021 में 2 शीर्ष टीमों के बीच आयोजित होगा। यह चैंपियनशिप 1 अगस्त को एशेज के साथ शुरू होगी।

आईसीसी ने जारी बयान में कहा कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में स्लो ओवर रेट के नए नियम को लागू किया जाएगा और मैच के आखिर में निर्धारित समय में कोई भी टीम जितने ओवर से पीछे होगी, उसके प्रति ओवर के हिसाब से 2 काम्पटीशन अंक काट लिए जाएंगे।
हालांकि इसमें अहम यह है कि वैश्विक संस्था ने अब स्लो ओवर रेट का दोषी पाए जाने वाली टीमों के कप्तानों को निलंबित करने के अपने पूर्व के नियम को समाप्त कर दिया है। आईसीसी ने कहा कि स्लो ओवर रेट के नियम का उल्लंघन करने पर अब कप्तानों को निलंबित नहीं किया जाएगा।

सभी खिलाड़ियों को इसके लिए बराबरी से दोषी माना जाएगा और कप्तान के साथ-साथ सभी खिलाड़ियों पर जुर्माना लगाया जाएगा। आईसीसी के पिछले नियम के अनुसार जो भी टीम 1 वर्ष में 2 बार स्लो ओवर रेट की दोषी पाई जाती थी, उसके कप्तान को निलंबित कर दिया जाता था।
आईसीसी ने क्रिकेट समिति की एक अन्य सिफारिश पर भी सहमति जताई है जिसमें नोबॉल के लिए रिप्ले के अन्य विकल्पों को तलाशना शामिल है। इसके लिए आने वाले महीनों में ट्रॉयल किया जाएगा। (वार्ता)

 

और भी पढ़ें :