शारजाह में 14 चौकों और 22 छक्कों की बारिश के बीच मोहम्मद शमी ने बनाया रिकॉर्ड, गेल नहीं हुए 'फेल'

Author सीमान्त सुवीर| Last Updated: शुक्रवार, 16 अक्टूबर 2020 (12:30 IST)
अमूमन शारजाह को क्रिकेट का गढ़ इसीलिए माना जाता है क्योंकि यहां बल्ले से रन बनते नहीं, बरसते हैं...रनों का सैलाब बहता है, जिसमें डूबने के लिए दर्शक हमेशा बेताब रहते हैं। कोरोना के कारण भले ही स्टेडियम सूने हो लेकिन टीवी पर आ रहे इन मैचों के आखिरी लम्हे दिलों की धड़कनों को कई गुना बढ़ा देते हैं। ऐसा ही एक सांस रोक देने वाला मैच गुरुवार रात और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के बीच हुआ, जिसमें आखिरी गेंद पर विजयी छक्के से फैसला हुआ। कुल 14 बार गेंद सीमा रेखा के पार गई और 22 छक्के उड़ाए गए।
शारजाह का मैदान छोटा है और यहां पर जब भी गेंद 81 से 85 मीटर की दूरी के सफर पर गई तो फिर कभी लौटकर नहीं आती। स्टेडियम के पार कभी किसी कार के पास गिरती है तो कभी राहगीर कौतुक की तरह आसमान को देखते हुए बुदबुदाता है कि 'ये कहां से टपकी'? गुरुवार रात किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान यानी कमाल लाजवाब राहुल ने 3 मर्तबा और यूनिवर्स बॉस के रूप में मशहूर ने 2 बार गेंद स्टेडियम के पार पहुंचाई।
जिन लोगों ने 2020 का यह मैच नहीं देखा उन्होंने कुछ नहीं देखा। वे सिर्फ यह परिणाम कि पंजाब ने विराट कोहली को 8 विकेट से हराया, को जानकर यह कह रहे हों कि पंजाब कम से कम प्लेऑफ से बाहर नहीं हुआ, वे शायद इस मैच के रोमांच से महरूम हो गए हैं क्योंकि जब पंजाब को अंतिम 6 गेंदों में जीत के लिए केवल 2 रनों की जरूरत थी, तब युजवेंद्र चहल ने करिश्माई गेंदबाजी की।
यह मैच का सनसनीखेज रोमांच 3 गेंद 1 रन, 2 गेंद 1 रन पर आ गया। तभी क्रिस गेल आउट हो गए। यानी स्कोर 171-171 बराबरी पर आ गया था और कॉमेंट्री बॉक्स से 'सुपर ओवर' तक की आवाजें आनी शुरु हो गई थी। पंजाब को जीत के लिए 1 रन की दरकार थी और गेंद बची थी 1 लेकिन निकोलस ने चहल की फुलटॉस गेंद पर विजयी छक्का जड़कर पंजाब को भांगड़ा करने की खुली आजादी दे दी।
विराट कोहली ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी चुनी। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 171 रन बनाए। जवाब में किंग्स इलेवन पंजाब ने 20 ओवर में 2 विकेट पर 177 रन बनाकर मैच 8 विकेट से जीत लिया। पंजाब ने जो 2 विकेट खोए वे मयंक अग्रवाल (45) और क्रिस गेल (53 रन, 45 गेंद, 1 चौका, 5 छक्के) के थे।

पंजाब के टीम प्रबंधन ने क्रिस गेल को आईपीएल के 7 मैचों में 'डग आउट' में बैठाकर रखा था। जब टीम को उनकी जरूरत हुई तब वे फूड पॉइजनिंग के कारण अस्पताल के बिस्तर पर आराम कर रहे थे लेकिन 3 दिन पहले खुद गेल ने कहा कि वे आरसीबी के खिलाफ खेलेंगे।
टीम प्रबंधन ने उन्हें मैच में उतारा लेकिन तीसरे नंबर पर क्योंकि राहुल और मयंक की जोड़ी को वे तोड़ना नहीं चाहते थे। गेल ने जो पारी खेली, वो दर्शनीय थी। उन्हें राहुल (नाबाद 61, 49 गेंदें, 1 चौका, 5 छक्के) का अच्छा साथ मिला और इस जोड़ी ने दूसरे विकेट के लिए 93 रन जोड़े। गेल जब आउट हुए, स्कोर 171-171 बराबर हो चुका था।
मैच में शमी ने बनाया रिकॉर्ड : इस मैच में पंजाब के तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी ने एक खास रिकॉर्ड अपने नाम के आगे लिखवा डाला। आरसीबी की बल्लेबाजी के रीड़ कहे जाने वाले विराट कोहली और एबी डिविविलर्स को उन्होंने एक ओवर में पैवेलियन का रास्ता दिखा दिया। आईपीएल के 13 साल के इतिहास में ऐसा कारनामा करने वाले वे आठवें गेंदबाज बन गए हैं।
शमी ने मैच के 18वें ओवर की तीसरी गेंद पर पहले डिविलियर्स (2) को आउट किया और पांचवीं गेंद पर विराट कोहली (48 रन, 39 गेंद, 3चौके) को पैवेलियन की राह दिखाई। शमी ने 4 ओवर में 45 रन की कीमत यही 2 मूल्यवान विकेट अपने खाते में जमा किए।

इन गेंदबाजों ने एक ओवर में विराट और डिविलियर्स को आउट किया था : आईपीएल-13 में मोहम्मद शमी से पहले 2012 में जैक कैलिस ने कोलकाता में, 2013 में मुंबई में, 2015 में आशीष नेहरा ने रांची में, 2016 में क्रुणाल पांड्‍या ने मुंबई में, 2016 थिसारा परेरा ने पुणे में, 2018 में नीतीश राणा ने कोलकाता में, 2019 में श्रेयस गोपाल ने बेंगलुरु में एक ही ओवर में विराट और डिविलियर्स के विकेट हासिल किए थे।



और भी पढ़ें :