1. धर्म-संसार
  2. गणेश चतुर्थी 2022
  3. गणेश चतुर्थी: इतिहास-संस्कृति
  4. Ganesh Murti Sthapana Rules
Written By
Last Updated: मंगलवार, 30 अगस्त 2022 (14:34 IST)

Ganesh Chaturthi 2022 : गणेश स्थापना के 10 नियम

Ganesh sthapana vidhi Niyam: 31 अगस्त 2022 बुधवार से गणेश उत्सव प्रारंभ हो रहे हैं। भाद्रपद के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी यानी गणेश चतुर्थी के दिन घर में 10 दिनों के लिए गणेशजी की मूर्ति की स्थापना की जाती है। घर में गणेश प्रतिमा स्थापित स्थापित करने जा रहे हैं तो स्थापना के 10 खास नियम जरूर जान लें, अन्यथा पूजा का पुण्य फल शायद न मिले।
 
1. मिट्टी की मूर्ति स्थापित करें, जिसकी सूंड दाईं ओर हो, मूषक हो और जनेऊधारी हो। बैठी हुई मूर्ति हो।
 
2. शुभ मुहूर्त में ही स्थापित करें, खासकर मध्यानकाल में किसी मुहूर्त में स्थापित करें।
 
3. गणेश मूर्ति को घर की उत्तर दिशा या ईशान कोण में ही स्थापित करें। वह जगह शुद्ध और पवित्र होना चाहिए।
 
4. गणेशजी की मूर्ति का मुख पश्चिम दिशा की ओर होना चाहिए।
 
5. लकड़ी के पाट पर लाल या पीला वस्त्र बिछाकर ही स्थापित करें।
 
6. एक बार गणेश मूर्ति को जहां स्थापित कर दें फिर वहां से हटाएं या हिलाएं नहीं। विसर्जन के समय ही मूर्ति को हिलाएं।
 
7. गणपति स्‍थापना के दौरान अपने मन में बुरे भाव न लाएं और न ही कोई बुरे कार्य करें।
 
8. गणेश स्‍थापना के दौरान घर में किसी भी प्रकार का तामसिक भोजन न बनाएं। सात्विक भोजन करें।
 
9. गणेशजी की स्थापना कर रहें हैं तो विसर्जन तक प्रतिदिन सुबह-शाम पूजा करें और भोग लगाएं।
 
10. स्थापना के बाद गणपतिजी की विधि विधान से पूजा-आरती करें और फिर प्रसाद वितरण करें।