छठ पर्व के 5 सूर्य मंत्र : अर्घ्य देते समय पढ़ना न भूलें


पर का 108 बार जाप करने से अवश्य लाभ मिलता है। ये सूर्य मंत्र यश, सुख, समृद्धि, संतान, वैभव, सफलता, कीर्ति, पराक्रम, ऐश्वर्य, सौभाग्य, धन, संपदा और सुंदरता का वरदान देते हैं।

भगवान सूर्य के सरल मंत्र

1. ॐ घृ‍णिं सूर्य्य: आदित्य:

2. ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय सहस्रकिरणाय मनोवांछित फलम् देहि देहि स्वाहा।।

3. ॐ ऐहि सूर्य सहस्त्रांशों तेजो राशे जगत्पते, अनुकंपयेमां भक्त्या, गृहाणार्घय दिवाकर:।

4. ॐ ह्रीं घृणिः सूर्य आदित्यः क्लीं ॐ ।

5. ॐ ह्रीं ह्रीं सूर्याय नमः ।

. ॐ सूर्याय नम: ।
. ॐ घृणि सूर्याय नम: ।

इसके साथ ही अगर भाषा व उच्चारण शुद्ध हो तो आदित्य ह्रदय स्तोत्र का पाठ अवश्य करना चाहिए।





और भी पढ़ें :