Chhath Puja 2021: छठ पूजा त्योहार पहला दिन 8 नवंबर 2021 चतुर्थी तिथि को, नहाय खाय आज

Chhath Puja 2021:पूजा के लिए की जाती है...भगवान सूर्य को समर्पित यह पर्व

बिहार और उत्तर प्रदेश के प्रमुख त्योहारों में से एक है। मुख्य रूप से महिलाओं द्वारा परिवार की संपन्नता और खुशियों के लिए किया जाता है।

चार दिनों तक चलने वाला यह त्यौहार कार्तिक मास की शुक्ल पक्ष चतुर्थी तिथि को नहाय खाय से शुरू होता है और सप्तमी तिथि को उषा अर्घ्य के साथ समाप्त होता है। इस साल छठ पूजा का त्योहार 8 नवंबर 2021 से शुरू हो रहा है। उत्तर भारत और खासतौर से बिहार,यूपी,झारखंड में इस त्योहार का बेहद खास महत्व होता है।

है। छठ व्रत का पालन करने वाली महिलाएं इस दिन गंगा में पवित्र डुबकी लगाती हैं और केवल एक बार भोजन करती हैं। इस साल यह 8 नवंबर को है। सूर्योदय सुबह 6:46 बजे होगा और सूर्यास्त का समय शाम 5:26 बजे है।
छठ पूजा 2021 का शेड्यूल

8 नवंबर 2021,सोमवार- (नहाय-खाय)

9 नवंबर 2021, मंगलवार-(खरना)

10 नवंबर 2021,बुधवार- (डूबते सूर्य को अर्घ्य)

11 नवंबर 2021, शुक्रवार- (उगते सूर्य को अर्घ्य)
पूजन विधि

छठ पूजन पर विशेषतौर से महिलाएं व्रत रखती हैं और पूजा पाठ में सख्त नियमों का पालन किया जाता है। गोबर से लीप कर पूजा स्थल की साफ सफाई होती है. बलराम की पूजा के लिए हल की आकृति बनाई जाती है. इसके लिए भूसे और घास का उपयोग होता है. दिनों के अनुसार खास पूजा होती है।
छठ पूजा की सामग्री (Chhath Puja Samagri List)
सूट या साड़ी, बांस की दो बड़ी-बड़ी टोकरियां, बांस या फिर पीतल का सूप, दूध और जल के लिए एक ग्लास, एक लोटा और थाली, 5 गन्ने पत्ते लगे हुए, शकरकंदी और सुथनी, पान और सुपारी, हल्दी,
मूली और अदरक का हरा पौधा,
बड़ा वाला मीठा नींबू, शरीफा, केला,
नाशपाती, पानी वाला नारियल, मिठाई, गुड़, गेहूं, चावल का आटा, ठेकुआ, चावल, सिंदूर, दीपक, शहद और धूप
छठ पूजा सामग्री में होनी चाहिए।
ALSO READ:
Chhath Puja : कौन हैं छठ मैया, क्यों करते हैं इनकी पूजा, पढ़ें व्रत कथा


ALSO READ:: कब मनाया जाएगा छठ पर्व, जानिए छठ पर्व की खास तारीखें



और भी पढ़ें :