बुध का राशि परिवर्तन : 12 राशियों पर होगा बड़ा असर

mercury in Gemini
mercury in Gemini

24 मई 2020 को रात्रि 11:46 (PM) मि. पर गोचरवश अपनी स्वराशि मिथुन में प्रवेश करेंगे। बुध को ज्योतिष शास्त्र में राजकुमार की पदवी हासिल है। वाणी आधारित कार्यों से सम्बन्धित व्यक्तियों जैसे पत्रकारिता, शिक्षा, धर्मगुरुओं, राजनेता आदि के लिए बुध का गोचर विशेष प्रभाव देने वाला होता है।

बुध का अपनी स्वराशि मिथुन में गोचर समस्त अपना प्रभाव पड़ेगा। आइए जानते हैं समस्त 12 राशियों पर बुध का यह गोचर कैसा प्रभाव देगा-
1. मेष- मेष राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार साहस-पराक्रम में कमी महसूस होगी। धन हानि होगी। बन्धु-बान्धवों से विवाद होगा। वाणी आधारित कार्यों से हानि होगी। व्यर्थ का वाद-विवाद होगा। सूद पर दिया गया धन डूबेगा। विद्यार्थी वर्ग का मन पढ़ाई में नहीं लगेगा।
2. वृष- वृष राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार धन लाभ होगा। वाणी आधारित कार्यों में विशेष लाभ होगा। विद्यार्थी वर्ग को विद्याध्ययन में सफ़लता प्राप्त होंगी। सम्बन्धियों से लाभ होगा।
3. मिथुन- मिथुन राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार धनहानि के योग हैं। कटु शब्दों के कारण विवाद होगा। रिश्तेदारों को हानि पहुंचेगी। बन्धन का भय होगा। संचित धन का अपव्यय होगा। शिक्षा से उच्चाटन होगा। बटुक वर्ग को मानसिक कष्ट व संताप होगा।
4. कर्क- कर्क राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार चिन्तित रहेगा। धन हानि होगी। सुख में कमी होगी। शत्रुओं के कारण हानि होगी। कर्यों असफ़लता प्राप्त होगी। विवाद के कारण अशान्ति रहेगी। विद्यार्थियों को विद्याध्ययन में बाधाएं आएंगी। सम्बन्धियों से विवाद होगा।
5. सिंह- सिंह राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार शुभ कार्यों में रुचि बढ़ेगी। धन लाभ होगा। स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। सन्तान सुख प्राप्त होगा। वाणी आधारित कार्यों से लाभ होगा। बटुक वर्ग का मन प्रसन्न रहेगा। विद्यार्थियों की शिक्षा में रूचि बढ़ेगी। वाद-विवाद, मुकदमा आदि में विजय होगी।
6. कन्या- कन्या राशि वाले जातकों को बुध के गोचर नए पद की प्राप्ति होगी। शत्रुओं पर विजय मिलेगी। व्यवसाय में लाभ होगा। मानसिक शान्ति व सुख प्राप्त होगा। कार्यों में सफ़लता प्राप्त होगी। धनागम होगा।
7. तुला- तुला राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार कार्यों विघ्न-बाधाएं आएंगी। यात्रा में कष्ट होगा। यात्रा सफ़ल नहीं होगी। सम्बन्धियों से विवाद व वैमनस्य होगा। धार्मिक कार्यों में अरुचि होगी।
8. वृश्चिक- वृश्चिक राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार धन लाभ होगा। शत्रु परास्त होंगे। मन प्रसन्न रहेगा। कार्यों में सफ़लता मिलेगी। वाणी से लाभ होगा। कथावाचक, वकील, शिक्षक, गायन से जुड़े व्यक्तियों को विशेष लाभ होगा। आध्यात्मिक सुख की उपलब्धि होगी। विद्यार्थी वर्ग प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होंगे।
9. धनु- धनु राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार जीवनसाथी से विवाद होगा। मित्रों व सम्बन्धियों से अनबन होगी। व्यवसाय में हानि व धन नाश होगा। यात्राएं कष्टप्रद व असफ़ल रहेगीं। मानसिक चिन्ता रहेगी।
10. मकर- मकर राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार धर्मशास्त्रों में रुचि बढ़ेगी। आर्थिक लाभ होगा। शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी। मानसिक सुख मिलेगा। सामाजिक प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी।
11. कुम्भ- कुम्भ राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार मानसिक अवसाद के कारण कष्ट होगा। कार्यों में असफ़लता प्राप्त होगी। जीवनसाथी व सन्तान से विवाद होगा। आर्थिक हानि होगी। प्रेम सम्बन्ध असफ़ल होंगे।
12. मीन- मीन राशि वाले जातकों को बुध के गोचर अनुसार माता को सुख प्राप्त होगा। धन लाभ होगा। वाहन सुख प्राप्त होगा। सम्पत्ति से लाभ की प्राप्ति होगी। पारिवारिक सुख प्राप्त होगा। जन सहयोग मिलेगा।
बुध के अशुभ प्रभाव को कम करने हेतु उपयोगी उपाय-

1.बुधवार के दिन बुध का दान करें।
(दान सामग्री- हरा वस्त्र, साबुत मूंग, हरे फ़ल, कांसा,गजदन्त, घी, पन्ना आदि)
2. बुधवार के दिन किन्नरों को हरी चूड़ियां दान करें।
3. बुधवार के दिन तोते को पिंजरे से मुक्त करें।
4. किसी बटुक या विद्यार्थी को धर्मशास्त्र का पढ़ाई हेतु पुस्तक प्रदान करें।
5. 250 ग्राम साबुत मूंग बहते जल में प्रवाहित करें।
(निवेदन-उपर्युक्त विश्लेषण ग्रह-गोचर की गणना पर आधारित है। जन्मपत्रिका में ग्रहस्थिति एवं दशाओं के कारण इसमें परिवर्तन सम्भव है।)

-ज्योतिर्विद् पं. हेमन्त रिछारिया
प्रारब्ध ज्योतिष परामर्श केन्द्र
सम्पर्क: [email protected]


और भी पढ़ें :