गुरुवार, 9 फ़रवरी 2023
  1. धर्म-संसार
  2. ज्योतिष
  3. ज्योतिष आलेख
  4. kamal gatta ke upay
Written By
पुनः संशोधित सोमवार, 28 नवंबर 2022 (15:39 IST)

कमलगट्टे के शुभ उपाय, तिजोरी और पर्स में रखने से होगा यह कमाल

कमल पुष्प के बीजों की माला को कमलगट्टे की माला कहा जाता है। कमलगट्टे की माला और सब्जी बनती है। इस माला को धारण करने वाला शत्रुओं पर विजयी होता है। तुलसी के बीज से या कमल के बीज से बनी माला से जप किया जाता है। कमलगट्टे के ज्योतिष में कई तरह के प्रयोग बताए गए हैं। आओ जानते हैं कि किस तरह यह लोगों को धनवान बना सकता है। 
 
1. कमलगट्टे की माता लक्ष्मी के साथ पूजा करके उसे घर की तिजोरी या पर्स में रखने से धन की आवक बनी रहती है। धन समृद्धि के सभी द्वार खुल जाते हैं। शुक्रवार के दिन माता लक्ष्मी को कमलगट्टे की माला अर्पित करें और इसकी पूजा करके इसे सिद्ध कर लें। फिर इसे तिजोरी में रख दें। कभी भी धन की कमी नहीं आएगी।
 
2. माता लक्ष्मी की उपासना के लिए कमल गट्टे की माला शुभ मानी गई है। इसको धारण करने से लक्ष्मी की विशेष कृपा प्राप्त होती है। इसके अलावा भुने हुए कमल के बीज या मखाने की खीर बनाकर मां लक्ष्मी को अर्पित करने से मां लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती हैं।
 
3. इस माला से कालीका माता की पूजा करने से वह जल्दी प्रसन्न होती है। मां काली की उपासना के लिए काली हल्दी अथवा नीलकमल की माला का प्रयोग करना चाहिए।
 
4. इसे पूजाघर में रखना चाहिए और जब भी आप इस माला को फेरते हुए अपने इष्टदेव का 108 बार नाम लेंगे तो इससे घर और मन में सकारात्मक वातावरण और भावों का संचार होगा।
5. अक्षय तृतीया, दीपावली, अक्षय नवमी के दिन इस माला से कनकधारा स्तोत्र का जप करने वाले को धनलाभ के अवसर मिलते रहते हैं।
 
6.कमलगट्टे के 108 बीज को घी में भिगोकर उसकी 108 बार आहुति देने से गरीबी मिट जाती है। कुछ लोग लगातार 21 दिन तक ऐसा करते हैं। कुछ लोग इसमें शहद मिलाकर भी हवन करते हैं।
 
7. किसी दुकान, ऑफिस या प्रतिष्ठान में कमलगट्टे की माला बिछाकर उसके ऊपर मां लक्ष्मी का चित्र रखकर पूजा करने से व्यापार में दिन-रात तरक्की होती हैं।
 
8. कमलगट्टे की माला धारण करने के लिए शुक्रवार के दिन प्रात: स्नान करने के बाद 108 बार ''ॐ श्रींश्रीं महालक्ष्म्यै' का जाप करें और फिर इस माला को धारण करें।
ये भी पढ़ें
mental health care in 2023: नए साल में अपनी मानसिक सेहत का कैसे रखें ध्यान