Fact Check: किसानों के समर्थन में जर्मनी के किसानों ने किया प्रदर्शन? जानिए वायरल PHOTOS का सच

Last Updated: गुरुवार, 18 फ़रवरी 2021 (11:55 IST)
सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें वायरल हो रही हैं। दावा किया जा रहा है कि भारत में चल रहे के समर्थन में जर्मनी के किसानों ने प्रदर्शन किया। हालांकि, वेबदुनिया की पड़ताल में सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा फर्जी निकला। वायरल तस्वीरें नवंबर 2019 की हैं, जब जर्मनी में किसानों ने कृषि से जुड़ी नीतियों के विरोध में प्रदर्शन किया था।

क्या है वायरल-


Amar Sidhu नाम के ट्विटर यूजर ने तीन तस्वीरें शेयर करते हुए लिखा है, ‘जर्मन की राजधानी बर्लिन में आज किसानों का आंदोलन। शहर के केंद्र के प्रमुख स्थल ब्रांडेनबर्ग गेट पर किसान अपने ट्रैक्टरों के साथ आ गए। लोकतंत्र ऐसे काम करता है।’



वहीं, कई यूजर तस्वीरें शेयर करते हुए दावा कर रहे हैं कि जर्मनी के किसानों ने भारत में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में प्रदर्शन किया।




क्या है सच-


पहली फोटो को रिवर्स सर्च करने हमें न्यूज एजेंसी AP की एक रिपोर्ट में यह फोटो मिली। फोटो के कैप्शन के मुताबिक, 26 नवंबर 2019 को जर्मनी में किसानों ने कृषि से जुड़ी नीतियों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए बर्लिन में ब्रैंडनबर्ग गेट और यूनिवर्सिटी के बीच सड़क पर अपने ट्रैक्टर खड़े कर दिए थे।

रिवर्स सर्च करने पर दूसरी फोटो हमें स्टॉक फोटो वेबसाइट ‘agefotostock’ पर मिली। फोटो के कैप्शन के मुताबिक, यह फोटो 26 नवंबर, 2019 को क्लिक की गई है। जब प्रदर्शन के दौरान किसानों ने बड़ी संख्या में अपने ट्रैक्टर विक्ट्री कॉलम के सामने खड़े कर दिए थे।

वहीं, रिवर्स सर्च करने पर तीसरी फोटो हमें यूके की वेबसाइट Farmers Weekly पर मिली। फोटो का क्रेडिट यूरोपियन प्रेसफोटो एजेंसी को दिया गया है।

यूरोपियन प्रेसफोटो एजेंसी पर दिए गए फोटो के डिस्क्रिप्शन में भी यही बताया गया है कि फोटो नवंबर 2019 में क्लिक की गई थी। फोटो की लोकेशन भी बर्लिन के 17 जूनी स्ट्रीट में ब्रैडनबर्ग गेट के सामने की ही बताई गई है।




और भी पढ़ें :