घर की साफ-सफाई के 9 वास्तु नियम

Vastu Tips
अनिरुद्ध जोशी| पुनः संशोधित सोमवार, 21 जून 2021 (18:11 IST)
तो हर कोई ग्रहणी नियमित रूप से करती ही है। परंतु घर की साफ सफाई करते वक्त कुछ बातों का ध्यान हो सकता है कि सभी को ना हो। यहां जानिए साफ सफाई के सामान्य नियम।

1. कभी भी ब्रह्ममुहूर्त या संध्याकाल को झाड़ू नहीं लगाना चाहिए।

2. घर के चारों कोने साफ हों, खासकर ईशान, उत्तर और वायव कोण को हमेशा खाली और साफ रखें।

3. अपने नाक की या मुंह की गंदी को इधर उधर ना फेंके। बार-बार थूकने, झींकने या खासने की आदत को बदलें।

4. घर में हर कही गंदगी फैलाने का कार्य न करें। घर को साफ सुधरा और सुंदर बनाकर रखें।
5. सप्ताह में एक बार (गुरुवार को छोड़कर) समुद्री नमक से पोंछा लगाने से घर में शांति रहती है। घर की सारी नकारात्मक ऊर्जा समाप्त होकर घर में झगड़े भी नहीं होते हैं तथा लक्ष्मी का वास स्थायी रहता है।

6. घर में या वॉशरूम में कहीं भी मकड़ी का जाला न बनने दें। बॉथरूप और टॉयलेट को हमेशा साफ सुधरा रखें।

7. घर में कहीं भी कचरा या अटाला जमान न होने दें।

8. छपर पर बांस न रखें और किसी भी प्रकार की अनुपयोगी वस्तुएं भी न रखें।
9. घर की वस्तुओं को वास्तु अनुसार रखकर प्रतिदिन घर को साफ और स्वच्छ कर प्रतिदिन देहरी पूजा करें। घर के बाहर देली (देहली या डेल) के आसपास स्वस्तिक बनाएं और कुमकुम-हल्दी डालकर उसकी दीपक से आरती उतारें। इसी के साथ ही प्रतिदिन सुबह और शाम को कर्पूर भी जलाएं और घर के वातावरण को सुगंधित बनाएं।



और भी पढ़ें :