Tajinder Bagga Arrest : बग्गा की गिरफ्तारी के दौरान सिख धर्म के अपमान का आरोप, अल्पसंख्यक आयोग ने पंजाब सरकार से मांगा जवाब

Tejinderpal Singh Bagga
Last Updated: शनिवार, 7 मई 2022 (21:40 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। Tajinder Bagga Arrest :
भाजपा नेता तेजिंदर बग्गा की गिरफ्तारी का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। अब बीजेपी इस मुद्दे के सहारे केजरीवाल सरकार को घेरने की कोशिश कर रही है, वहीं ये भी आरोप लगाया गया था कि पंजाब पुलिस जब बग्गा को गिरफ्तार करने पहुंची तो उन्होंने धर्म का अपमान किया।

अब राष्ट्रीय ने पंजाब पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए जाने के दौरान भाजपा नेता तेजिंदर पालसिंह बग्गा को ‘पगड़ी नहीं पहनने देने’ को लेकर राज्य सरकार से 7 दिनों के भीतर तथ्यात्मक रिपोर्ट तलब की है।

आयोग की ओर से पंजाब के मुख्य सचिव अनिरुद्ध तिवारी को लिखे गए पत्र में कहा गया है कि पांच मई को जब पुलिस ने बग्गा को गिरफ्तार किया तो ‘उस समय उन्हें पगड़ी नहीं पहनने दी गई जो एक सिख के धार्मिक अधिकारों का गंभीर उल्लंघन है।’
उसने कहा कि आयोग ने इस कथित घटना के संदर्भ में आई खबरों का संज्ञान लिया है और ऐसे में उसे सात दिनों के भीतर यानी 14 मई तक तथ्यात्मक रिपोर्ट मुहैया कराई जाए।


भाजपा की दिल्ली इकाई के नेता बग्गा को पंजाब पुलिस ने 5 मई को उनके घर से गिरफ्तार किया था, जिन्हें पंजाब ले जाते समय हरियाणा में रोक दिया गया और घंटों बाद दिल्ली पुलिस उन्हें वापस राष्ट्रीय राजधानी लाई। इस घटना को लेकर राजनीतिक आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है।
भाजपा ने पंजाब पुलिस पर अपने नेता का ‘अपहरण’ करने का आरोप लगाया है। बग्गा, अरविंद केजरीवाल की मुखर आलोचक रहे हैं और उन्होंने आप प्रमुख पर राज्य पुलिस के जरिये बदले की राजनीति करने का आरोप लगाया है।

आप ने उनके आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि बग्गा को पंजाब में सांप्रदायिक तनाव भड़काने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। दिल्ली पुलिस ने बग्गा के पिता प्रीतपाल सिंह की शिकायत पर अपहरण का मामला दर्ज किया।
भाजपा नेताओं का प्रदर्शन : शनिवार को भाजपा नेताओं ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन किया और उन्हें 'तानाशाह' कहा। दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने आरोप लगाया कि बग्गा की गिरफ्तारी से यह स्पष्ट हो गया है कि आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल ने निजी फायदे के लिए पंजाब पुलिस का 'दुरुपयोग' किया है।
गुप्ता ने कहा, 'केजरीवाल एक तानाशाह हैं। बग्गा का क्या अपराध था? उन्होंने बस '(द) कश्मीर फाइल्स' पर केजरीवाल की टिप्पणी को लेकर उनसे स्पष्टीकरण मांगा था। गिरफ्तारी के दौरान उन्हें पगड़ी पहनने तक की इजाजत नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि भाजपा 'पगड़ी का अपमान बर्दाश्त नहीं करेगी ।'

दरअसल , पंजाब पुलिस ने शुक्रवार को बग्गा को दिल्ली के जनकपुरी स्थित उनके आवास से गिरफ्तार कर लिया था, लेकिन दिल्ली पुलिस उन्हें यह कहते हुए हरियाणा से राजधानी वापस ले आई कि पंजाब पुलिस ने उसे गिरफ्तारी की सूचना नहीं दी।
दिल्ली पुलिस ने बग्गा के पिता प्रीतपाल सिंह बग्गा की शिकायत के आधार पर अपहरण का मामला भी दर्ज किया। प्रीतपाल ने आरोप लगाया कि 'कुछ लोग' सुबह करीब 8 बजे उनके घर आए और उनके बेटे को ले गए।

भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय सचिव बग्गा को पिछले महीने मोहाली में उनके खिलाफ दर्ज एक मामले के सिलसिले में गिरफ्तार किया गया था। उन्हें वापस राजधानी लाने के बाद शुक्रवार देर रात मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया।



और भी पढ़ें :