जन्माष्टमी पर कैसे सजाएं झांकी, पढ़ें 10 decoration ideas

2021


इस वर्ष सोमवार, को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाएगा। Janmashtmi के शुभ अवसर पर पूरा देश बाल गोपाल की भक्ति में लीन रहता है। सभी घरों में इस पर्व को बहुत ही धूमधाम के साथ मनाया जाता है। अभी कोरोना का साया पूरी तरह से समाप्त नहीं हुआ है, ऐसे समय में सावधानी के साथ कदम बढ़ाने की आवश्यकता है, लेकिन आपको निराश होने की बिलकुल भी आवश्यकता नहीं है।

आप अपने घर पर ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी को धूमधाम से मना सकते हैं। बस सबसे जरूरी है जन्माष्टमी के अवसर पर झांकी को खूबसूरत तरीके से सजाना। इसमें घर के पूजा स्थल को सजाने का काफी महत्व होता है।
अभी जन्माष्टमी में कुछ दिन बाकी है। ऐसे समय में आप बाजार से एक सुंदर-सा सिंहासन खरीदकर इस पर्व के आनंद को दोगुना कर सकते हैं। इसके साथ ही आप ऑनलाइन ऑर्डर करके भी मंगवा सकते हैं।

कैसे सजाएं जन्माष्टमी पर झांकी, आइए जानते हैं-

1. अभी पिछले समय से महंगाई ने सबकी कमर तोड़ दी है। ऐसे समय में अगर आप सोना अथवा चांदी का सिंहासन नहीं खरीद पा रहे हैं तो निराश मत होइए, इस बार लेटेस्‍ट ट्रेंड में काफी नए सिंहासन बाजार में उपलब्ध हैं, बाजार में गोल्ड प्लेटेड, लकड़ी से निर्मित सुंदर-सुंदर वुडन के सिंहासन उपलब्ध हैं, आप उन्हें खरीदकर अपनी जन्माष्टमी को बेहतरीन बना सकते हैं।

2. इसके अलावा बाजार में मेटल हैंडीक्राफ्ट झूले, वुडन के झूले, आर्टिफिशियल फूलों से सजाए गए फ्लावर डेकोरेटेड झूले काफी खूबसूरत और आसान कीमत में बाजार में आसानी से मिल जाएंगे, उन्हें लाकर भी आप इस पर्व को मना सकते हैं।

3. जन्माष्टमी पर झांकी सजाने के लिए सबसे पहले भगवान के स्थल को अच्छी तरह से साफ करके सिंहासन रखकर वहां भगवान श्रीकृष्ण की तस्वीर या मूर्ति को सबसे पहले लगा दें या रख दें।
4. अब बालगोपाल को उनके आभूषण पहनाएं, अपनी पसंद के अनुसार झूले को सजाएं, पूजा स्थल को सुंगधित फूलों के साथ सजाएं। आप चाहे तो आर्टिफिशियल फूलों से सजाए गए फ्लावर डेकोरेटेड झूला भी यहां उपयोग में ला सकते हैं।

साथ ही आप पूजा स्थल के आसपास सजावट के लिए आकर्षक पौधे भी लगा सकते हैं, जैसे गरबेरा डेजी का पौधा।

5. रंगोली का पूजा-पाठ व व्रत-त्योहार में काफी महत्व माना जाता है और हर त्योहार की रंगोली के बिना सजावट अधूरी-सी लगती है, ऐसे में आप भगवान के स्थल के सामने और घर के आंगन में एक बढ़िया-सी रंगोली जरूर बनाएं।
6. घरों में छोटी जगह पर ही दही-हांडी को लगाना न भूलें। पूजा स्थल या झांकी की सजावट दही-हांडी के बिना अधूरी है, दही-हांडी को भी अच्छी तरह से सजा लें।

7. आप हांडी को सजाने के लिए गोल्डन लेस या फूल-पत्तियों व मोतियों को चिपकाकर सजा सकते हैं।

8. पूजा स्थल को रंगबिरंगी झालरों के साथ भी सजा सकते हैं। इसे आपका पूजा स्थल जगमगा उठेगा।

9. जन्माष्टमी का कार्यक्रम रात में होता है। ऐसे में आपका पूजा स्थल दीयों की रोशनी से बेहद खूबसूरत लगेगा। आप पूजा स्थल के सामने बनी रंगोली पर भी दीये लगाकर उसे सजा सकते हैं। अत: पूजा स्थल के आस-पास दीये जलाएं।

10. श्रीकृष्ण जी की खूबसूरत पोशाक, नया हिंडोला और सिंहासन आदि से जन्माष्टमी पर्व और अधिक अच्छीतरह से मनाया जा सकता है। इस अवसर श्रीकृष्ण के प्रिय भोग जैसे पंजीरी, माखन-मिश्री के लड्‍डू अवश्य बनाएं। श्रीकृष्ण भक्ति में लीन रहकर उनकी आराधना, पूजा, आरती और मंत्रों का जाप करके इस दिन सार्थक बनाएं।

-आरके.





और भी पढ़ें :