बुधवार, 4 अक्टूबर 2023
  1. खेल-संसार
  2. क्रिकेट
  3. वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल
  4. Cameron Green to come out as a slayer attitude against India in WTC Final
Written By
Last Updated : सोमवार, 5 जून 2023 (18:25 IST)

WTC Final में ऑस्ट्रेलिया का प्रमुख अस्त्र साबित हो सकते हैं कैमरन ग्रीन, गेंद और बल्ले से करेंगे आक्रमण

WTC Final में ऑस्ट्रेलिया का प्रमुख अस्त्र साबित हो सकते हैं कैमरन ग्रीन, गेंद और बल्ले से करेंगे आक्रमण - Cameron Green to come out as a slayer attitude against India in WTC Final
Australia ऑस्ट्रेलिया के उभरते हुए ऑलराउंडर Cameron Green कैमरन ग्रीन Indian Premiere Leagueइंडियन प्रीमियर लीग की अपनी प्रभावशाली फॉर्म को भारत के खिलाफ World Test Championship विश्व टेस्ट चैंपियनशिप WTC Final (डब्ल्यूटीसी) के फाइनल में दोहराना चाहते हैं और उनका मानना है कि टी20 से पारंपरिक प्रारूप में बदलाव के बावजूद उन्हें अपने आक्रामक खेल में लगाम लगाने की जरूरत नहीं है। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच डब्ल्यूटीसी फाइनल द ओवल में सात जून से खेला जाएगा।

इस साल के आईपीएल में ग्रीन ने शानदार प्रदर्शन करते हुए 16 पारियों में 160 के स्ट्राइक रेट से 452 रन बनाए जिसमें 47 गेंद में जड़ा शतक भी शामिल है। उनके शतक की बदौलत मुंबई इंडियन्स ने प्ले ऑफ में जगह बनाई।
बुधवार से द ओवल में शुरू हो रहे डब्ल्यूटीसी फाइनल से पहले ‘क्रिकेट.कॉम.एयू’ ने ग्रीन के हवाले से कहा, ‘‘इंग्लैंड की टीम अभी काफी आक्रामक क्रिकेट खेल रही है इसलिए शायद आपको अपने खेल में अधिक बदलाव करने की जरूरत नहीं है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पिछले साल पारी की शुरुआत में मैंने रन बनाने की कोशिश करने की जगह संभवत: थोड़ा अधिक रक्षात्मक होकर खेलने का प्रयास किया। आप अच्छी गेंद के खिलाफ रक्षात्मक रुख अपना सकते हैं, आपको क्रीज पर अच्छे फैसले करने होते हैं।’’

ग्रीन ने कहा, ‘‘इस बार मैं रन बनाने पर ध्यान दूंगा और अगर गेंद अच्छी हुई तो रक्षात्मक खेल दिखाऊंगा।’’बल्लेबाजी के अलावा ग्रीन ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाजी आक्रमण का भी अहम हिस्सा होंगे और यह 24 वर्षीय तेज गेंदबाज इंग्लैंड में ड्यूक गेंद से गेंदबाजी करने की चुनौती के लिए तैयार है।

ग्रीन ने कहा, ‘‘सभी, विशेषकर गेंदबाज, स्विंग के कारण यहां (इंग्लैंड) आने को लेकर उत्साहित रहते हैं। सामान्यत:, जब मैं ऑस्ट्रेलिया में गेंदबाजी करता हूं तो काफी मूवमेंट नहीं मिलती इसलिए मैं रोमांचित हूं कि यहां हालात का फायदा उठा सकता हूं।’’
टीम के साथियों ने कहा, भारत में सफलता के बाद ऑस्ट्रेलिया के ड्रेसिंग रूम में ग्रीन का प्रभाव बढ़ेगा

ऑस्ट्रेलिया के ऑलराउंडर कैमरन ग्रीन के साथी खिलाड़ी उनकी मैच का रुख बदलने की क्षमता से अच्छी तरह वाकिफ हैं और उनका मानना है कि पिछले चार महीने में भारतीय उपमहाद्वीप में सफलता के बाद ड्रेसिंग रूम में उनका अलग प्रभाव होगा। ग्रीन ने इस साल भारत के अपने पहले टेस्ट दौरे पर अपना पहला टेस्ट शतक जड़ा। उन्होंने मार्च में अहमदाबाद में बोर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के चौथे टेस्ट में 143 गेंद में 114 रन की पारी खेली।

ग्रीन ने इस प्रभावी फॉर्म को आईपीएल में भी बरकरार रखते हुए मुंबई इंडियन्स की ओर से 16 पारियों में 160 के स्ट्राइक रेट से 452 रन बनाए जिसमें 47 गेंद में जड़ा शतक भी शामिल है।

ऑस्ट्रेलिया के सीनियर ऑफ स्पिनर नाथन लियोन ने कहा, ‘‘अहमदाबाद में शतक जड़ने और आईपीएल का हिस्सा होने के बाद निश्चित तौर पर उनकी (ग्रीन) टीम में मौजूदगी के मायने बदल गए हैं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘उसका आत्मविश्वास बढ़ा है। मुझे लगता है कि यह आईपीएल में खेलने और रोहित शर्मा (मुंबई इंडियन्स और भारत के टेस्ट कप्तान) तथा साथी खिलाड़ियों के साथ खेलने और उनसे सीखने का असर है।’
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच डब्ल्यूटीसी फाइनल द ओवल में बुधवार से खेला जाएगा।

अहमदाबाद में भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट में ग्रीन के साथ पांचवें विकेट के लिए 208 रन की साझेदारी करने वाले ऑस्ट्रेलिया के सलामी बल्लेबाज उस्मान ख्वाजा ने कहा कि इस पारी ने इस ऑलराउंडर को पूरी तरह से बदल दिया।

ख्वाजा ने कहा, ‘‘मुझे पता है कि इससे कैसा महसूस होता है- मुझे अपना पहला टेस्ट शतक जड़ने में लगभग चार साल में नौ या 10 टेस्ट लगे। मुझे पता है कि इसे हासिल करने का अहसास कैसा होता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘पहला शतक लगाने के बाद मेरे लिए रास्ते खुल गए और हमेशा ऐसा ही होता है। पहला शतक जड़ने के बाद आप और शतक बनाते हो क्योंकि आप ऐसा कर चुके होते हो। टीम के साथियों के रूप में हम सभी को यह पता है।’’(भाषा)