वर्ल्ड कप में भारत-विंडीज की भिड़ंत : मुकाबले से पहले विराट के सामने बड़ा 'संकट'

Last Updated: गुरुवार, 27 जून 2019 (09:35 IST)
में टीम इंडिया का छठा मुकाबला मैनचेस्टर में से आज होगा। भारतीय टीम इस टूर्नामेंट में अभी तक अपराजित रही है। टीम इंडिया ने 5 मैचों में से 4 में जीत दर्ज की है, जबकि न्यूज़ीलैंड के खिलाफ मैच बारिश के कारण नहीं खेला जा सका था और दोनों टीमें अंक बांटने को मजबूर हुई थीं, लेकिन मुकाबले से पहले विराट के सामने एक संकट खड़ा हुआ है, वह है टीम इंडिया के अंतिम 11 के चयन का।

मोहम्मद शमी की बेहतरीन गेंदबाजी और के फिट होने के बाद विराट के सामने यह संकट आ गया है कि वे किसे अंतिम 11 में रखें। भुवनेश्वर पाकिस्तान के खिलाफ मैच के दौरान चोटिल हो गए थे और अफगानिस्तान के खिलाफ नहीं खेल पाए थे। उनकी जगह टीम में आने वाले शमी ने इस मैच में हैट्रिक बनाई थी।

भुवनेश्वर की गेंदबाजी गेल को कर सकती है परेशान : सचिन तेंदुलकर ने अफगानिस्तान के खिलाफ हैट्रिक लेने वाले मोहम्मद शमी की जगह भुवनेश्वर कुमार को अंतिम एकादश में शामिल करने की अपील की। तेंदुलकर ने कहा कि भुवनेश्वर वेस्टइंडीज के सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल को परेशान करते रहे हैं, इसलिए उन्हें मैच में उतारा जाना चाहिए।

तेंदुलकर ने कहा कि भुवी को खिलाने का एकमात्र कारण यही है कि भुवनेश्वर कुमार क्रिस गेल को बाहरी कोण पर गेंद कर सकते हैं जिससे वे असहज महसूस कर सकते हैं। मुझे अब भी याद है कि मैंने जो अंतिम टेस्ट मैच खेला था उसमें भुवनेश्वर कुमार ने किस तरह से क्रिस गेल को परेशान किया था। तेंदुलकर ने कहा कि मैं समझता हूं कि यह मोहम्मद शमी के लिए थोड़ा दुर्भाग्यपूर्ण होगा लेकिन मेरा मानना है कि इस मैच के लिए भुवनेश्वर कुमार को चुना जाना चाहिए।

भुवनेश्वर की खूबी यह है कि वे नई गेंद से बेहद असरदार हैं। साथ ही अगर बल्लेबाज लेफ्टहैंडर है तो भुवी उसे और ज्यादा परेशान करते हैं। पिछले रिकॉर्डों को देखें तो भुवनेश्वर ने क्रिस गेल समेत सभी बाएं हाथ के बल्लेबाजों को खूब परेशान किया है। हालांकि
विरोधी टीम की ताकत-कमजोरी और मैदान की परिस्थितयां देखकर टीम प्रबंधन को ही अंतिम फैसला लेना है।

 

और भी पढ़ें :