Exit Poll 2021 : बंगाल में TMC का पलड़ा भारी, ममता दीदी कर सकती हैं वापसी

Last Updated: गुरुवार, 29 अप्रैल 2021 (23:12 IST)
नई दिल्ली। एक्जिट पोल के रुझान के मुताबिक में सत्तारूढ़ का पलड़ा भारी दिख रहा है, वहीं असम में एक बार फिर भाजपा की वापसी हो सकती है। कांग्रेस और वामपंथी दलों की स्थिति में कोई सुधार होता नहीं दिख रहा है। 294 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए 148 सीटों की दरकार रहेगी। हालांकि इस बार 292 सीटों पर चुनाव है, इसलिए जिस दल को 146 सीटें मिलेंगी, उसकी सरकार बन जाएगी।
पश्चिम बंगाल में सत्ता हासिल करने के लिए पूरी ताकत झोंकने वाली भाजपा को झटका लग सकता है। एबीपी-सी वोटर के मुताबिक बंगाल में एक बार फिर ममता दीदी की वापसी हो सकती है। टीएमसी को 152 से 1564 सीटें मिल सकती हैं, वहीं भाजपा 109 से 121 सीटें जीत सकती हैं।
टाइम्स नाउ के पोल की मानें तो टीएमसी को 158 तथा भाजपा को 115 सीटें मिल सकती हैं। वहीं, अन्य के खाते में 22 सीटें जा सकती हैं। पोल ऑफ पोल्स में भी टीएमसी को 154 सीटें मिलती दिख रही हैं, वहीं भाजपा को 122 सीटें मिल सकती हैं। ईटीवी रिसर्च के मुताबिक टीएमसी 169 सीटों पर बढ़त हासिल कर सकती है, वहीं भाजपा 110 सीटें जीत सकती है। पी-मार्क के सर्वे में भी टीएमसी आगे है। इसके मुताबिक टीएमसी को को 162 सीटें, जबकि भाजपा को 113 सीटें मिल सकती हैं।
कुछ ऐसे एक्जिट पोल भी हैं जो बंगाल में भाजपा की बढ़त बता रहे हैं। रिपब्लिक के मुताबिक भाजपा को 138 से 148 सीटें मिल सकती हैं, जबकि टीएमसी 126 से 136 सीटों पर रुक सकती है। इंडिया न्यूज-जन की बात में भाजपा 162 से 185 सीटें हासिल कर सकती है, वहीं टीएमसी 121 से 140 सीटें जीत सकती है। इंडिया टीवी भाजपा को बंपर सफलता दिखा रहा है। इसके मुताबिक भाजपा को 173 से 192 सीटें मिल सकती हैं, वहीं टीएमसी को 64 से 88 सीटें मिल सकती हैं।
दिल्ली विश्वविद्यालय का सर्वे : इन अनुमानों के बीच दिल्ली विश्वविद्यालय के विकासशील देशों के शोध केंद्र (डीसीआरसी) ने अपने सर्वेक्षण में दावा किया है कि बंगाल में ममता बनर्जी की वापसी होगी जबकि असम में भाजपा अपनी सत्ता बचाने में सफल रहेगी। इस सर्वेक्षण में 1000 छात्रों ने हिस्सा लिया और इसमें पश्चिम बंगाल और असम के विभिन्न विश्वविद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों और शोधकर्ताओं ने भी भागीदारी की है।
इस सर्वेक्षण के मुताबिक बंगाल में तृणमूल कांग्रेस को 149 के करीब सीटें मिलेंगी जबकि भाजपा को 123 के करीब सीटें मिल सकती हैं। इस सर्वेक्षण के मुताबिक असम में भाजपा 99 सीटों के साथ सत्ता में वापसी करती दिख रही है जबकि कांग्रेस 19 सीटों पर सिमट सकती है।

अनुमानों के मुताबिक भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के बीच दोतरफा लड़ाई में कांग्रेस और वामपंथी दल पहले के मुकाबले और सिमट जाएंगे। इंडिया टुडे-एक्सिस के सर्वेक्षण के मुताबिक 126 सदस्यीय असम विधानसभा में भाजपा 75 से 85 सीटें जीतकर एक बार फिर सत्ता में वापसी कर सकती है जबकि कांग्रेस के नेतृत्व वाले गठबंधन को 40 से 50 सीटें मिल सकती हैं।



और भी पढ़ें :