एशेज सिरीज का इतिहास...

WD|
इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच 1882 से खेली जा रही एशेज सिरीज का इतिहास बहुत रोचक है। इस सिरीज का नामकरण ब्रिटिश मीडिया ने किया था। 1882 में ऑस्ट्रेलिया ने ओवल में पहली बार इंग्लैंड टीम को उसी की धरती पर हराया।

ऑस्ट्रेलिया से मिली इस करारी हार को ब्रिटिश मीडिया बर्दाश्त नहीं पाया। स्पोर्टिंग टाइम्स ने लिखा कि इंग्लैंड क्रिकेट की मौत हो चुकी है और उसकी चिता जलाने के बाद राख (एशेज) ऑस्ट्रेलिया टीम अपने साथ ले जा रही है। इसके बाद इंग्लैंड टीम के ऑस्ट्रेलिया दौरे के समय ब्रिटिश मीडिया ने इस दौरे को इंग्लैंड की प्रतिष्ठा बचाने का अवसर कहा।
इंग्लैंड टीम के ऑस्ट्रेलिया दौरे पर इंग्लैंड के कप्तान इवो ब्लिग को बेल्स की राख (एशेज) तोहफे में दी गई, जो इस सिरीज का प्रतीक बनी।

12 से 18 माह के अंतराल में होने वाली एशेज सिरीज में पाँच टेस्ट खेले जाते हैं। इस सिरीज को ऑस्ट्रेलिया ने सर्वाधिक 31 बार जीता है। इस सिरीज के दौरान सर डॉन ब्रेडमैन के नाम सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड है। ब्रेडमैन ने एशेज सिरीज में कुल 5028 रन बनाए।
एशेज सिरीज में विकेट लेने में ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर शेन वॉर्न सबसे आगे हैं। वॉर्न ने एशेज के दौरान कुल 195 बल्लेबाजों को आउट किया।



और भी पढ़ें :