1. खबर-संसार
  2. »
  3. समाचार
  4. »
  5. राष्ट्रीय
Written By WD

रतन टाटा के बारे में 25 रोचक जानकारियां

FILE
रतन टाटा अपने 75वें जन्मदिन पर टाटा समूह से रिटायरमेंट ले रहे हैं। उन्होंने टाटा समूह को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया है।

टाटा समूह की कमान वे साइरस मिस्त्री को सौंपने जा रहे हैं। आइए जानते हैं स्टील मैन रतन टाटा के बारे में 25 रोचक जानकारियां-

1. रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर 1937 को हुआ।

2. वे टाटा समूह के संस्थापक जमशेदजी टाटा के दत्तक पोते नवल टाटा के बेटे हैं।

3. रतन टाटा की स्कूल शिक्षा मुंबई में हुई।

4. रतन टाटा ने कॉर्नेल यूनिवर्सिटी से आर्किटेक्चर बीएस और हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से एडवांस मैनेजमेंट प्रोग्राम किया।

5. रतन टाटा ने 1962 में टाटा समूह के साथ अपना करियर प्रारंभ किया।

6. रतन टाटा 1991 में जेआरडी टाटा के बाद समूह के पांचवें अध्यक्ष बने।

7. रतन टाटा को 2000 में पद्‍मभूषण और 2008 में पद्‍मविभूषण से सम्मानित किया गया।

8. रतन टाटा ने टेटली, जगुआर लैंड रोवर और कोरस जैसी कंपनियों का टाटा समूह में अधिग्रहण किया।

9. रतन टाटा ने नैनो जैसी लखटकिया कार बनाकर आम आदमी का कार का सपना साकार किया।

10. वे इंडिका जैसी कार भी बाजार में लाए।

अगले पन्ने पर पढ़ें, रतन टाटा के क्या हैं शौक


FILE
11. रतन टाटा के टाटा परिवार से खून के रिश्ते नहीं हैं। उनके पिता नवल एच टाटा सर रतन टाटा और उनकी बीवी नवजबाई सेठ के गोद लिए हुए बेटे थे।

12. बचपन में ही रतन टाटा के माता-पिता अलग हो गए थे लेकिन वे तब भी अपनी मां के करीब थे।

13. जब रतन टाटा समूह में आए थे, तब कपंनी का कुल कारोबार 10000 करोड़ रुपए था, जबकि 2011-12 में समूह का राजस्व ही 475.721 करोड़ रुपए हो गया है।

14. टाटा ने विकसित देशों की कई ऐसी कंपनियों का अधिग्रहण कर लिया जो अपने देश में सुपर ब्रांड थीं।

15. रतन टाटा रिटायरमेंट के बाद अपने पसंदीदा पियानो और विमान उड़ाने के शौक को पूरा करेंगे।

16. आज 80 देशों में टाटा समूह की कंपनियां मौजूद हैं।

17 रतन टाटा के नेतृत्व में ही पिछले वित्त वर्ष में टाटा समूह का राजस्व 379675 करोड़ रुपए रहा।

18. रिटारमेंट के बाद रतन टाटा मुंबई के कोलाबा स्थित बंगले में रहेंगे। 13350 वर्गफुट पर बना यह सी-फेसिंग बंगला तीन मंजिला है।

19. रतन टाटा की फिलॉसफी है- क्या कंपनी के लिए अच्छा है, क्या दुनिया के लिए अच्छा है।

20. रतन टाटा ने 21 साल के अपने करियर में टाटा समूह को नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया है।

विवादों से भी रहा टाटा का नाता, पढ़ें अगले पन्ने पर


FILE
21. मुंबई आतंकी हमले के दौरान मुंबई में उनकी पांच सितारा होटल को निशाना बनाया गया, तब उन्होंने अपने कर्मचारियों की खुले हाथों से मदद की।

22. ताज होटल पर हमले के बाद रतन टाटा खुद वहां पहुंचे थे। टाटा खुद हर घायल के घर गए और परिजनों को भरोसा दिलाया।

23. रतन टाटा ने अपने कर्मचारियों की ही नहीं, हमले में प्रभावित आसपास के ठेलेवालों की भी मदद की।

24. 2010 में कॉर्पोरेट लॉबिस्ट नीरा राडिया टैप मामले में टाटा का नाम भी उछला था।

25. टाटा इससे पहले दो बार रिटायरमेंट की घोषणा कर चुके हैं। 2002 में टाटा 65 साल के हुए थे, तब कंपनी ने उन्हें रिटायर नहीं होने दिया। तीन साल बाद फिर ऐसे ही हालात बने तो बोर्ड ने कंपनी में सेवानिवृत्ति की आयु 75 साल कर दी।