0

कैसा होगा रक्षाबंधन सितारों का

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
0
1

राखी का संदेश

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
रक्षा-बंधन के इस पावन अवसर पर भाई-बहन के प्रति अपने प्यार को अभिव्यक्त करने का एक मंच वेबदुनिया ने प्रदान किया। प्रस्तुत है आपके मंच पर आपकी प्यार भरी अभिव्यक्तियाँ...
1
2
कहते हैं कि दुनिया में अगर कुछ शाश्‍वत है तो वह है - परिवर्तन। समय बदला, मूल्‍य बदले, मान्‍यताएँ बदलीं और परंपराएँ भी बदल गईं। राखी भाई-बहन के प्‍यार का प्रतीक है। भाई-बहन का प्‍यार तो वही है पर इस प्‍यार भरे त्‍योहार को मनाने का ढ़ंग काफी बदल
2
3
1) आपका बड़ा भाई अक्‍सर आपको छोड़ने बस स्‍टॉप तक आ जाता है। उसके इस व्‍यवहार को आप किस तरह देखती हैं :
3
4

जानिए कितने अच्‍छे भाई है, आप

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
1. आपकी बहन अक्‍सर आपकी आलमारी, टेबल और बैग आदि व्‍यवस्थित करती है। उसके इस व्‍यवहार को आप किस तरह देखते हैं:
4
4
5

मेरे भैया

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
मेरे घर में हम सात बहनें थीं। हमारा कोई भाई नहीं था। बचपन में चचेरे और मौसेरे भाई और कभी-कभी अड़ोस-पड़ोस के लड़के भी हमारे घर में राखी बँधवाने आ जाते थे। इस तरह से केवल राखी के दिन यूँ उनका हमारे घर में आ जाना
5
6

मेरे भईया को कोई दे दो संदेश...

शुक्रवार,जनवरी 11, 2008
सावन की फुहारें जहाँ लोगों का मन हर्षाती हैं, वहीं रक्षाबंधन का पर्व इसके खत्म होने के साथ ही आता है। सावन में भले ही औरतें झूलों और पकवानों का आनंद लेती हों, लेकिन जो बहनें रक्षाबंधन पर अपने भाई की कलाई पर नेह का बंधन नहीं सजा
6
7

राखी का संदेश यहाँ पढ़ें

सोमवार,अगस्त 27, 2007
हमारे अनुरोध पर वेबदुनिया के ढेर सारे सुधी पाठकों ने अपने भाइयों और बहनों के लिए राखी का संदेश भेजा है। ये संदेश वेबदुनिया पोर्टल पर प्रकाशित किए गए हैं। आप नीचे दिए गए लिंक पर अपने संदेश पढ़ सकते हैं और अपने प्रिय भाई-बहनों को भी पढ़ा सकते हैं।
7
8

डिजिटल हो गई, रेशम की डोर

सोमवार,अगस्त 27, 2007
भाई की कलाई पर बाँधी जानी वाली रेशम की डोर इन दिनों डिजिटल हो गई है। इंटरनेट की नई दुनिया में जहाँ हमारी जिंदगी ही डिजिटल होती जा रही है, वहाँ भाई-बहन के प्‍यार का प्रतीक राखी भला क्‍यों न डिजिटल होती।
8
8
9
रेशम के धागे में लिपटा विश्वास की कोमलता में सिमटा श्रद्धा की लरियों से सजा राखी का स्वरूप धरा प्यार
9
10
आज मुझे सब याद आता है, भैया की दी हुई वह किताब, मेरा सोने की चेन के लिए लड़ना-झगड़ना, मुझे मनाने के लिए भैया द्वारा कहे गए वे शब्द... मेरे अच्छे कॉलेज में प्रवेश के लिए उनकी जी-तोड़ मेहनत...
10
11

आया राखी का मौसम

शुक्रवार,अगस्त 24, 2007
राखी का पर्व जैसे-जैसे करीब आने लगता है, रोजाना हजारों की संख्या में राखी वाले डाक देश के कोने-कोने से आते हैं। देश के बड़े शहरों से लेकर छोटे-छोटे कस्बों में हर साल राखी के मौके पर हजारों की तादाद में डाक आते हैं
11
12

राखी वही जो भईया के मन भाए

शुक्रवार,अगस्त 24, 2007
रक्षाबंधन का त्योहार करीब आ रहा है और हर ओर दुकानें राखियों से सज रही हैं। किसी को बड़ी राखी पसंद है तो किसी को छोटी। कोई रंग-बिरंगी, चमकीली रा‍खियों की ओर आकृष्‍ट हो रहा है ‍तो किसी को चाँदी की राखियाँ लेनी
12
13

वो दिन कब आएगा...

शुक्रवार,अगस्त 24, 2007
एक दिन पहले से ही पूरे घर में उत्सव-सा माहौल था। मैं पूरी तैयारियों में जुटी थी। अगले दिन रक्षाबंधन जो था। भाई चेन्नई से कई सालों बाद लौट रहा था। जाहिर है, रक्षाबंधन की खुशी और भी दुगुनी हो गई थी। माँ के साथ मैं भी मिठाइयाँ बनाने में व्यस्त थी
13
14

इतिहास और परंपरा का सूत्र

शुक्रवार,अगस्त 24, 2007
रक्षाबंधन भाई-बहनों के स्नेह और उल्लास का पर्व माना जाता है। भारत के प्रमुख पर्वों में राखी भी प्रमुखता से मनाई जाती है। यह एकमात्र ऐसा पर्व है, जिस दिन लड़कियों का अत्यधिक महत्व होता है
14
15

मेरा तोहफा सबसे हसीं...

शुक्रवार,अगस्त 24, 2007
रक्षाबंधन का मौका हो और उपहारों की बात न की जाए, ये कैसे हो सकता है। हर भाई या बहन इस मौके पर सबसे खूबसूरत तोहफा देना चाहते हैं। भाई-बहनों को उनकी उम्र के अनुसार ही उपहार देना चाहिए। भाई 5 साल के भी हो सकते हैं और पचास के भी
15