0

लोकसभा चुनाव 2019 : राजनीतिक दलों को राज्यवार मिलीं सीटें

शुक्रवार,मई 24, 2019
0
1
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सुनामी एवं करिश्माई नेतृत्व के चलते भाजपा ने लोकसभा चुनाव 2019 में 303 का करिश्माई आंकड़ा छू लिया। भाजपा ने इस चुनाव में अपने सहयोगियों के साथ मिलकर 352 सीटें जीत लीं। वहीं कांग्रेस मात्र 52 अंकों पर सिमट गई।
1
2
बैतूल। लोकसभा चुनाव के लिए होने वाले मतदान के चलते एक दुल्हन और दूल्हे द्वारा अपनी शादी एक दिन टालने का दिलचस्प मामला मध्यप्रदेश के बैतूल में देखने को मिला, जहां दूल्हे और दुल्हन ने 6 मई को होने वाली शादी सिर्फ इसलिए एक दिन आगे बढ़ा दी, ताकि बाराती ...
2
3
नई दिल्ली। विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के चुनावी इतिहास में सबसे अधिक मतों से जीत हासिल करने का रिकॉर्ड मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के अनिल बसु के नाम दर्ज हैं तो सबसे कम वोट से विजय प्राप्त कर लोकसभा पहुंचने का सौभाग्य भारतीय जनता पार्टी ...
3
4
पत्थलगांव। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में इन दिनों आदर्श आचार संहिता के कारण जंगली हाथियों की मुश्किलों में खासा इजाफा हो गया है।
4
4
5
नई दिल्ली। लोकसभा के अब तक हुए चुनावों में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के अनिल बसु के नाम है, जो उन्होंने 2004 के चुनाव में बनाया था।
5
6
लखनऊ। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव की संपत्ति में वर्ष 2014 की तुलना में तीन करोड़ रुपए से ज्यादा की गिरावट आई है। यादव ने मैनपुरी सीट से सपा प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल करते वक्त हलफनामे में यह जानकारी दी है। मुलायम के मुताबिक वे बेटे अखिलेश ...
6
7
देवरिया। आपातकाल के बाद 1977 में हुए लोकसभा के चुनाव में कांग्रेस को करारी हार का सामना करना पड़ा था। उस चुनाव में स्वयं इंदिरा गांधी के साथ उनके सभी दिग्गजों को करारी हार का सामना करना पड़ा था और श्रीमती गांधी को जेल भी जाना पड़ा था।
7
8
बीकानेर। राजस्थान में लोकसभा चुनाव में बीकानेर संसदीय सीट पर मौसेरे भाइयों के बीच चुनावी मुकाबला होगा।
8
8
9
पांचवीं लोकसभा में शरद यादव भी पहुंचे थे, लेकिन 1974 में उपचुनाव के जरिए। यह उपचुनाव उन्होंने मध्यप्रदेश की जबलपुर सीट से जीता था जो सुप्रसिद्ध हिंदी सेवी सेठ गोविंददास के निधन से खाली हुई थी। यह उपचुनाव कई मायनों में बेहद महत्वपूर्ण था।
9
10
भोपाल। लोकसभा चुनाव में मतगणना का दिन चुनाव आयोग के लिए काफी अहम होता है। आयोग मतगणना स्थल शांति बनी रहे इसके लिए काफी तैयारी करता है, लेकिन अगर सोचिए कोई व्यक्ति चुनाव आयोग से मांग करे कि उसे मतगणना स्थल पर केक काटकर अपना जन्मदिन मानना है तो क्या ...
10
11
अखबार मालिकों और उद्योगपतियों के राज्यसभा में जाने के तो कई उदाहरण हैं और आगे भी मिलते रहेंगे लेकिन ऐसे उदाहरण कम ही हैं कि अखबार मालिक लोकसभा चुनाव लड़े हों।
11
12
चंडीगढ़। पंजाब निर्वाचन कार्यालय ने कहा कि अगर कोई चुनाव प्रत्याशी अपने समर्थकों को चाय का एक कप और एक समोसा देते हैं तो इसकी कीमत कम से कम 18 रुपए होनी चाहिए।
12
13
नई दिल्ली। नई टेक्नोलॉजी का असर अब चुनाव चिन्हों पर भी दिखने लगा है और चुनाव आयोग ने जमाना बदलने के साथ-साथ नए चुनाव चिह्नो को जोड़ा है जिनमें लैपटॉप से लेकर पेन ड्राइव और कंप्यूटर माउस भी शामिल हैं।
13
14
नई दिल्ली। देश में यूं तो आम चुनाव हर 5 वर्ष में होता है लेकिन एक ऐसा दौर भी आया था जब 10 वर्ष में लोकसभा के पांच बार चुनाव हुए और छ: प्रधानमंत्री बने।
14
15
दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत में पहली बार लोकसभा चुनाव 1951-52 में हुए थे। यह चुनावी यात्रा तब से सतत जारी है। पाठकों की जानकारी के लिए हम यहां लोकसभा चुनाव से जुड़े कुछ रोचक तथ्य दे रहे हैं। आइए, जानते हैं ऐसे ही 25 रोचक तथ्य...
15
16
भारत के प्रधानमंत्री रहे अटल बिहारी वाजपेयी जैसे लोकप्रिय नेता की चुनाव में जमानत जब्त हो जाए, यह सुनने में अजूबा लगता है, लेकिन ऐसा हो चुका है।
16
17
जम्मू। पिछले 21 सालों से जिस अनंतनाग संसदीय क्षेत्र को पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी अर्थात पीडीपी के दिवंगत संस्थापक मुफ्ती मुहम्मद सईद अपनी बपौती समझते रहे हैं, उस पर इस बार एक नया प्रयोग होने जा रहा है। देश में ऐसा पहली बार होगा कि किसी लोकसभा सीट ...
17