0

उच्च शिक्षा के लिए भारतीयों को भाया विदेश

बुधवार,जुलाई 15, 2015
0
1
अमेरिका के एक प्रमुख विश्वविद्यालय ने हिंदुत्व पर नए पाठ्यक्रम को मंजूरी दी है, जिसमें छात्र उपनिवेशवादी काल से वर्तमान समय तक के हिंदुत्व के विकास के बारे में अध्ययन करेंगे। इंडियाना के ग्रीनकैसल में स्थित निजी क्षेत्र के नेशनल लिबरल आर्ट्स कॉलेज ...
1
2
सन्‌ 1997 में सैन्सस ऑफ इंडिया का भारतीय भाषाओं के विश्लेषण का ग्रन्थ प्रकाशित होने तथा संसार की भाषाओं की रिपोर्ट तैयार करने के लिए यूनेस्को द्वारा सन्‌ 1998 में भेजी गई यूनेस्को प्रश्नावली के आधार पर उन्हें भारत सरकार के केन्द्रीय हिन्दी संस्थान ...
2
3
वि‍देश में पढ़ाई करना, वहाँ बेहतर से बेहतर नौकरी पाना और डॉलर में कमाई कर अपने ही देश लौट आराम से जीवन बि‍ताना भला कि‍से अच्‍छा नहीं लगता। सालों से अमेरि‍का, ऑस्‍ट्रेलि‍या, ब्रि‍टेन, इंग्‍लैंड और कनाडा उन युवाओं की आशा को पूरा करते आ रहे हैं ...
3
4
'करियर के लिए कुछ भी करेगा'। दोस्तो, यह कहना जितना आसान है उतना ही चुनौतीभरा। देश में शिक्षा स्रोत पर्याप्त हैं लेकिन विकसित देशों की तुलना में अभी भी हम पीछे हैं। शायद यही कारण है कि बेहतर करियर बनाने के लिए उच्च शिक्षा पाने विदेशों में जाना पड़ता ...
4
4
5

टफेल का बढ़ता दायरा

शुक्रवार,नवंबर 28, 2008
टफेल (टेस्ट ऑफ इंग्लिश एज एन फॉरेन लैंग्वेज) अब सिर्फ अमेरिका में अध्ययन के लिए ही नहीं बल्कि अन्य कई विदेशी यूनिवर्सिटियों में प्रवेश के लिए भी अनिवार्य है। हावर्ड, ऑक्सफोर्ड, मैकगिल, ईटीएच ज्यूरिश, ऑस्ट्रेलियन नेशनल यूनिवर्सिटी और नेशनल ...
5
6

एसईआई अमेरिका

मंगलवार,नवंबर 18, 2008
सन्‌ 1984 से ही कार्नेजी मेलन सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट (एसईआई) अमेरिका में सरकारी अनुदान से संचालित अनुसंधान तथा विकास केंद्र के रूप में कार्यरत है। एसईआई के स्टाफ के पास एडवांस्ड इंजीनियरिंग सिद्धांतों तथा व्यवहारों का विशद अनुभव तथा ...
6
7
अमेरिका में हिन्दी के अध्यापन के लिए भारत के शिक्षकों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। यहाँ स्थित अमेरिकी दूतावास की विज्ञप्ति में बताया गया कि भारत में अँगरेजी पढ़ाने वाले अध्यापकों को अमेरिका में हिन्दी पढ़ाने के लिए आमंत्रित किया गया है।
7
8

चीनी भाषा बनी आशा...

मंगलवार,अक्टूबर 21, 2008
मैनेजमेंट के भारतीय छात्रों के लिए चीनी भाषा में आशा बन गई हैं। मैनेजमेंट के स्टूडेंट्स को यह बात गाँठ से बाँध लेनी चाहिए कि वे केवल भारतीय परिप्रेक्ष्य के लिए ही अपने आपको नहीं ढाल रहे हैं। उनका प्ले-ग्राउंड तो इंटरनेशनल मार्केट है, जहाँ वे अपनी ...
8
8
9
ऑस्ट्रेलिया इंस्टीट्यूट ऑफ प्रोफेशनल काउंसलर में प्रोफेशनल काउंसिलिंग के विभिन्न डिप्लोमा और डिग्री पाठ्यक्रम उपलब्ध हैं। पिछले कुछ सालों में ऑस्ट्रेलिया में शिक्षा लेने के प्रति रुझान बढ़ा है। मेडिकल, मैनेजमेंट, इंजीनियरिंग पाठ्यक्रमों के बाद फैशन ...
9
10
वाल्पो कॉलेजों और विश्वविद्यालयों का एक छोटा तथा विशिष्ट समूह है। यह इंडियाना ड्यून्स / लेक मिशीगन के खूबसूरत किनारे निर्मित हैं, जिसमें शिकागो का रोमांच भी शामिल है। इसकी एक खासियत यह भी है यहाँ के छात्र क्लास रूम चुनौती के लिए सदैव तैयार रहते हैं।
10
11
1978 में डोना फेरिनेला द्वारा न्यूजर्सी में स्थापित डांस वर्ल्ड अकेडमी को दुनिया के श्रेष्ठतम डांस स्कूलों में से एक माना जाता है। अकेडमी की डायरेक्टर डोना को डांस शिक्षा का गहन और सुदीर्घ अनुभव है। वे अमेरिका की ख्यातनाम डांस एजुकेटर मानी जाती हैं
11
12
यूँ तो नेत्र चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में देश-विदेश में कई संस्थान और विश्वविद्यालय संलग्न हैं, लेकिन अमेरिका के फिलाडेल्फिया शहर के हृदयस्थल पर बनी सपनों सी सुंदर द यूनिवर्सिटी ऑफ पेंसील्वेनिया का कोई जवाब नहीं है। सारी दुनिया के 10,000 से अधिक ...
12
13
मेडिकल एजुकेशन में प्रवेश मुश्किल दर मुश्किल होता जा रहा है, डॉक्टर बनने की चाहत स्टूडेंट्स को फॉरेन की डिग्री हासिल करने की दिशा में प्रेरित करती जा रही है। पिछले कुछ दिनों से भारतीय छात्रों का चीन जाकर एमबीबीएस करने का सिलसिला तेजी से चल पड़ा है।
13
14
विदेश जाकर पढ़ाई करने वाले युवाओं के सामने पढ़ाई के बाद जो बात सबसे जरूरी है वह है शिक्षा खर्च। भारत के पढ़ाई खर्च और विदेश के पढ़ाई खर्च में जमीन-आसमान का अंतर है। यदि किसी विश्वविद्यालय में पढ़ाई सस्ती भी हो तो वहाँ रहने और खाने का खर्च भारत की तुलना ...
14
15
किसी भी भाषा का पुख्ता ज्ञान आपकी सफलता में सहायक होता है। अब वह पुरानी बात हो गई जब केवल हिन्दी या अंग्रेजी भाषा में ही करियर बनाया जाता था। अब विदेशी भाषा के बढ़ते बाजार के कारण विदेशी भाषा में करियर की कई संभावनाएँ हैं।
15
16
देश-विदेश में पिछले दो दशकों में फिजियोथैरेपिस्ट की बढ़ती माँग के कारण फिजियोथैरेपी के अंडर ग्रेजुएट्स कार्यक्रम के प्रति युवाओं का आकर्षण भी लगातार बढ़ता दिखाई दे रहा है। इस क्षेत्र के विशेषज्ञों का मानना है कि यदि छात्र कला और वाणिज्य की परम्परागत ...
16
17
यह कैसे हो सकता है कि दूसरों के चेहरे पर नूर बरसाने वाले का करियर चमकदार न हो? डेंटिस्ट्री निश्चित ही आज की नई दुनिया का एक ऐसा प्रोफेशन है, जिसका आज भी चमकदार है और कल तो और भी ज्यादा चमकदार होगा। जहाँ तक भारतीय दंत चिकित्सा क्षेत्र का प्रश्न है
17
18
ऑस्ट्रेलिया सरकार द्वारा समर्थित ऑस्ट्रेलियन यूनिफाईड पाथवे प्रोग्राम (एयूपीपी) के कारण अब बारहवीं पास विद्यार्थियों के लिए अंतरराष्ट्रीय शिक्षा भारतीय लागत में पाना संभव हो गया है। यह जानकारी नाइस कॉलेज द्वारा आयोजित एडमिशन सेमिनार में दी गई।
18
19
स्विट्जरलैंड को सारी दुनिया में विश्वस्तरीय गुणवत्तायुक्त शिक्षा केंद्र माना जाता है। यह पहला देश है जिसने होटल व्यवसाय को उद्योग का दर्जा प्रदान किया। यहाँ छोटे परिवार में चलाए जाने वाले होटलों से लेकर...
19