गर्भावस्था में करवाचौथ : डॉक्टर्स से जानें क्या करें, क्या नहीं


गर्भावस्था में सेहत का विशेष ख्याल रखना आवश्यक है, ऐसे में अगर आप करवाचौथ का व्रत कर रही हैं तो आपको और भी ज्यादा ध्यान रखने की जरूरत है। धार्मिक ग्रंथों में भी इस अवस्था में व्रत-उपवास में कुछ चीजों की छूट का जिक्र मिलता है। लेकिन सेहत के लिहाज से डॉक्टर्स भी व्रत के दौरान कुछ बातों का ध्यान रखने की सलाह देते हैं। जानिए इस अवस्था में व्रत के दौरान क्या करें क्या न करें - 
डॉक्टर्स का कहना है कि गर्भावस्था में का व्रत रखने वाली महिलाओं को भूखे पेट बिल्कुल नहीं रहना चाहिए और निर्जल उपवास तो बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। यह मां के साथ-साथ गर्भस्थ शिशु के लिए बेहद खतरनाक हो सकता है। इस अवस्था में पूरे दिन बगैर खाए-पिए उपवास करने से न केवल डिहाइड्रेशन हो सकता है बल्कि शरीर में हाइपोग्लाइसिमिक शुगर का स्तर भी कम हो जाता है।
 
ऐसे में गर्भस्थ शिशु की देखभाल के लिए जरूरी है कि महिलाएं हर दो घंटे में कुछ न कुछ खाती रहे। आप चाहें तो फलों और तरह पदार्थों का भरपूर सेवन कर भी इस व्रत को रख सकती हैं। इसके अलावा व्रत शुरु करने से पहले ड्रायफ्रूट्स और अन्य पौष्ट‍िक व भारी चीजों का सेवन करें ताकि शरीर में ऊर्जा का स्तर बना रहे।
इसके अलावा आपको अपने आराम पर भी विशेष ध्यान देना होगा। ऐसे समय में थकान जल्दी हो जाती है, अत: लंबे समय तक शरीर से काम न लें बल्क भरपूर आराम करें। आखिर आपकी और होने वाले शिशु की सेहत का ख्याल है।


और भी पढ़ें :