0

कर्पूर के ये 10 उपाय कर लिए, तो हर समस्या होगी दूर, बरसेगा धन और मिलेगा हर सुख

रविवार,जनवरी 20, 2019
karpoor ke totke
0
1
रविवार का दिन सूर्यदेव का दिन है, अत: इस दिन विशेष रूप से सूर्य आराधना कर उन्हें प्रसन्न किया जाता है। कुंडली में सूर्य ...
1
2
वर्ष 2019 शनि प्रधान माना जा रहा है यानी पूरे साल उनके प्रभाव दिखाई देंगे। 15 दिसंबर 2018 से अस्त शनि 19 जनवरी को उदय ...
2
3
सम्मानजनक पद के रिश्तों वाली स्त्रियों को कष्ट देना, जैसे माता, नानी, दादी, सास और ननद आदि को कष्ट देने से चंद्र अशुभ ...
3
4
वर्ष 2019 में विवाह के शुभ मुहूर्त जानना चाहते हैं तो यह आलेख आपके लिए है।। वर्ष 2019 में 63 दिन शादी के मुहूर्त हैं, ...
4
4
5
ज्‍योतिष का एक डायमेंशन है, एक आयाम है। फिर भविष्‍य को जानने के और आयाम भी हैं। मनुष्‍य के हाथ पर खींची हुई रेखाएं हैं,
5
6
अगर किसी की कुंडली में पितृदोष हो तो शुक्ल पक्ष के प्रथम शनिवार को सायं काल पानी वाला नारियल अपने ऊपर से 7 बार उतार कर, ...
6
7
हिन्दू कैलेंडर की तिथियों के अनुसार तेरहवें दिन यानी त्रयोदशी के दिन प्रदोष होता है। यह तिथि हर महीने में दो बार आती ...
7
8
कई बार मंदिर में भगवान के दर्शन करने के बाद आपके जूते या चप्पल चोरी या गुम हो जाती है। यह घटना आपके लिए शनि के शुभ ...
8
8
9
पौराणिक प्रदोष व्रत कथा के अनुसार प्राचीनकाल में एक गरीब पुजारी हुआ करता था। उस पुजारी की मृत्यु के बाद उसकी विधवा ...
9
10
ज्योतिष शास्त्र की गोचर गणनानुसार 14 जनवरी 2019, सोमवार से सूर्य ने सायं 7 बजकर 45 मिनट पर मकर राशि में प्रवेश किया है। ...
10
11
अगर आप चाहते हैं कि इस साल आपकी शादी पक्की हो जाए तो हम आपको बता रहे हैं गुरुवार के दिन आजमाए जाने वाले अचूक टोटके...
11
12
पुत्रदा एकादशी, अपने नाम के अनुसार ही यह एकादशी श्रेष्ठ संतान सुख प्रदान करने वाली मानी जाती है। पद्मपुराण में इस ...
12
13
आत्माओं को जब तक मुक्ति नहीं मिल जाती है वह लोक और परलोक के बीच भटकती रहती हैं। कई बार अपने होने का एहसास भी दिलाती ...
13
14
हम कई तरह के चीजों को खाते हुए सपना देखते हैं। आइए जानते हैं सपने में खाने की चीजें देखने का क्या मतलब होता है।
14
15
'वेबदुनिया' के पाठकों के लिए 'पाक्षिक-पंचांग' श्रंखला में प्रस्तुत है माघ कृष्ण पक्ष का पाक्षिक पंचांग-
15
16
बिस्तर से उठने के बाद सबसे पहले अपने हाथों को देखना चाहिए और शुभ व सरल मंत्र बोलना चाहिए। आइए अब जानते हैं कौन सी वे ...
16
17
हमारे धर्मशास्त्रों के मतानुसार कुंभ 12 कल्पित हैं जिनमें से 4 भारतवर्ष में प्रयाग, हरिद्वार, उज्जैन व नासिक में होते ...
17
18
शाकंभरी नवरात्रि पौष माह की शुक्ल पक्ष की अष्टमी से पूर्णिमा तक मानी जाती है। मकर संक्रांति से माता शाकंभरी नवरात्र का ...
18
19
जैसा कि हमने पूर्व में ही उल्लेख किया है कि अमृत कलश के संरक्षण में सूर्य, चंद्र और देवगुरु बृहस्पति का विशेष योगदान ...
19