0

रमा एकादशी पर लक्ष्मी के साथ करें विष्णुजी का पूजन, पढ़ें पौराणिक व्रतकथा

शनिवार,अक्टूबर 14, 2017
0
1
भगवान श्रीकृष्ण कहने लगे कि हे युधिष्ठिर! पापांकुशा एकादशी के दिन मनुष्य को विधिपूर्वक भगवान पद्‍मनाभ की पूजा करनी ...
1
2
यह एकादशी हमेशा श्राद्ध पक्ष में आती है इसलिए इस व्रत का फल पितरों की शांति से जोड़ा गया है। लेकिन इसके अलावा भी इंदिरा ...
2
3
प्राचीनकाल में सतयुग के समय में महिष्मति नाम की एक नगरी में इंद्रसेन नाम का एक प्रतापी राजा धर्मपूर्वक अपनी प्रजा का ...
3
4
जो मनुष्य इस एकादशी के दिन मेरी (वामन रूप की) पूजा करता है, उससे तीनों लोक पूज्य होते हैं। अत: मोक्ष की इच्छा करने वाले ...
4
4
5
भाद्रपद कृष्ण एकादशी का नाम अजा है। यह सब प्रकार के समस्त पापों का नाश करने वाली है। इस एकादशी के दिन भगवान श्री विष्णु ...
5
6
श्री युधिष्ठिर कहने लगे कि हे भगवान! श्रावण शुक्ल एकादशी का क्या नाम है? व्रत करने की विधि तथा इसका माहात्म्य कृपा करके ...
6
7
श्रीकृष्ण भगवान कहने लगे कि हे युधिष्ठिर! कामिका एकादशी की कथा एक समय स्वयं ब्रह्माजी ने देवर्षि नारद से कही थी, वही ...
7
8
एकादशी व्रत कैसे प्रारंभ हुआ? भगवती एकादशी कौन है, इस संबंध में पद्म पुराण में कथा है कि एक बार पुण्यश्लोक धर्मराज ...
8
8
9
देवशयनी एकादशी का व्रत सब व्रतों में उत्तम है। इस व्रत से समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं और जो मनुष्य इस व्रत को नहीं करते ...
9
10
आषाढ़ कृष्ण एकादशी का नाम योगिनी है। इसके व्रत से समस्त पाप नष्ट हो जाते हैं। यह इस लोक में भोग और परलोक में मुक्ति ...
10
11
जेष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की जो एकादशी आती है, उसका नाम निर्जला है। इस एकादशी के व्रत में स्नान और आचमन के सिवा जल वर्जित ...
11
12
अचला/ अपरा एकादशी की प्रचलित कथा के अनुसार प्राचीनकाल में महीध्वज नामक एक धर्मात्मा राजा था। उसका छोटा भाई वज्रध्वज ...
12
13
भगवान श्रीकृष्ण कहने लगे ज्येष्ठ कृष्ण एकादशी ‘अचला’ तथा 'अपरा' दो नामों से जानी जाती है। पुराणों के अनुसार यह एकादशी ...
13
14
धर्मराज युधिष्ठिर कहने लगे कि हे कृष्ण! वैशाख मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी का क्या नाम है तथा उसकी कथा क्या है? इस व्रत ...
14
15
प्राचीन काल में नर्मदा नदी के तट पर मान्धाता नामक राजा राज्य करता था। वह अत्यंत दानशील तथा तपस्वी था। एक दिन जब वह जंगल ...
15
16
वैशाख मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी का नाम वरूथिनी है। यह सौभाग्य देने वाली, सब पापों को नष्ट करने वाली तथा अंत में मोक्ष ...
16
17
वरूथिनी एकादशी का व्रत करने वालों को दशमी के दिन निम्नलिखित वस्तुओं का त्याग करना चाहिए।
17
18
कामदा एकादशी की कथा के अनुसार प्राचीनकाल में भोगीपुर नामक एक नगर था। वहां पर अनेक ऐश्वर्यों से युक्त पुण्डरीक नाम का एक ...
18
19
चैत्र मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी का नाम पापमोचनी एकादशी है। इसके व्रत के प्रभाव से मनुष्‍य के सभी पापों का नाश होता ...
19