0

सुगंध का प्रयोग कर इन 8 तरह की परेशानी से बचें, शर्तिया लाभ होगा

रविवार,अप्रैल 21, 2019
0
1
भोजन, पानी और हवा गुणवत्तापूर्ण नहीं है तो रोग उत्पन्न होते हैं। हिन्दू शास्त्रों और आयुर्वेद में इस संबंध में कई तरह ...
1
2
ऐसे बहुत से कार्यों का धर्म शास्त्रों और अयुर्वेद में उल्लेख है जिन्हें करने से व्यक्ति की आयु कम हो जाती है। अर्थात वह ...
2
3
आपको यह सुनकर संभवत: विश्वास न हो लेकिन इस पर विचार किए जाने में कोई बुराई नहीं है। दरअसल, भारत के लोगों ने दूसरों के ...
3
4
शास्त्रों के अनुसार देवराज इन्द्र के स्वर्ग में 11 अप्सराएं प्रमुख सेविका थीं। ये 11 अप्सराएं हैं- कृतस्थली, ...
4
4
5
महाभारत में कृष्ण के पास पाञ्चजन्य, अर्जुन के पास देवदत्त, युधिष्ठिर के पास अनंतविजय, भीष्म के पास पोंड्रिक, नकुल के ...
5
6
पैदा होने के बाद जब मां की नाल से जुड़ी बच्चे की गर्भनाल हो डॉक्टर्स द्वारा बांधकर अलग किया जाता है तो बच्चे के पेट पर ...
6
7
हनुमानजी आज भी सशरीर धरती पर मौजूद हैं। कलिकाल में हनुमानजी की भक्त ही उत्तम और फलदायी है। जो भक्त नित्य हनुमानजी की ...
7
8
श्रीरामचरितमानस में गोस्वामी तुलसीदासजी ने मुख्य रूप से श्रीराम के पैर के 5 ही चिह्न का वर्णन किया है- ध्वज, वज्र, ...
8
8
9
आधुनिक युग में भौतिक सुख रुपया सबसे महत्वपूर्ण हो गया है। पढ़े-लिखे या धन संपन्न परिवार में बिखराव ज्यादा देखने को ...
9
10
पौराणिक काल में ऐसी कई महिलाएं हुई हैं जिन्हें हम आदर्श और उत्तम चरित्र की महिलाएं मानते हैं। लेकिन उनमें से सर्वोत्तम ...
10
11
सब कहते हैं कि मरने के बाद कुछ भी साथ नहीं जाता है सब यहीं का यहीं धरा रह जाता है। आदमी खाली हाथ आया था और खाली हाथ चला ...
11
12
गौतम बुद्ध का जन्म ईसा से 563 साल पहले नेपाल के लुम्बिनी वन में हुआ। उनकी माता कपिलवस्तु की महारानी महामाया देवी जब ...
12
13
'राम' यह शब्द दिखने में जितना सुंदर है उससे कहीं महत्वपूर्ण है इसका उच्चारण। राम कहने मात्र से शरीर और मन में अलग ही ...
13
14
प्रभु श्रीराम जब सीता माता की खोज करते हुए कर्नाटक के हम्पी जिला बेल्लारी स्थित ऋष्यमूक पर्वत पर्वत पहुंचे तो वहां उनकी ...
14
15
युग की धारणा हमें पुराण और ज्योतिष में तीन तरह से मिलती है। पहली वह जिसमें एक युग लाखों वर्ष का होता है और दूसरी वह ...
15
16
नवरात्र शब्द से 'नव अहोरात्र' अर्थात विशेष रात्रियों का बोध होता है। इन रात्रियों में प्रकृति के बहुत सारे अवरोध खत्म ...
16
17
सचमुच ही बहुत से लोग यह समझ नहीं पाते हैं कि आज अष्टमी है या नवमी। एक बार ऐसा हुआ था कि आज भी होली का त्योहार है और कल ...
17
18
दुनियाभर के हजारों तरह के कैलेंडर प्रचलित है। संभवत: हर माह एक नया वर्ष प्रारंभ होता होगा। कोई चंद्र पर आधारित है, कोई ...
18
19
कुंती एक अद्भुत महिला थीं। पति की मृत्यु के बाद कैसे उन्होंने अपने पुत्रों को हस्तिनापुर में दालिख करवाकर गुरु ...
19