चौतरफा बिकवाली से लुढ़का शेयर बाजार

Bombay Stock Exchange
पुनः संशोधित बुधवार, 5 दिसंबर 2018 (17:03 IST)
मुम्बई। धातु, ऑटो और बिजली सहित सभी समूहों में हुई चौतरफा बिकवाली से घरेलू बुधवार को लगातार दूसरे दिन लाल निशान में बंद हुए। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 249.90 अंक लुढ़ककर 35,884.41 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 84.55 अंक की गिरावट के साथ 10,784.95 अंक पर बंद हुआ।

अमेरिकी ट्रेजरी नोट की ब्याज दर में आई भारी गिरावट से उपजी आर्थिक मंदी की आशंका के कारण विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के बीच शेयर बाजार पर आरंभ से ही दबाव रहा। रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा में ब्याज दर स्थिर रखने की घोषणा के बाद अचानक गिरावट तेज हो गई और सेंसेक्स 350 अंक से ज्यादा टूट गया।

अमेरिकी ट्रेजरी नोट पर ब्याज दर में रही तेज गिरावट ने आर्थिक मंदी की आशंका को हवा दे दी जिससे अमेरिकी शेयर बाजार धराशायी हो गए। आर्थिक मंदी की आशंका और अमेरिका-चीन विवाद के खत्म होने की संभावना के कमजोर पड़ने से यूरोपीय और एशियाई शेयर बाजार भी लाल निशान में आ गए। अमेरिकी तेल भंडार में बढ़ोतरी से लंदन का ब्रेंट क्रूड वायदा आज 1.75 प्रतिशत की भारी गिरावट में 61 डॉलर प्रति बैरल रह गया।

घरेलू बाजार में निवेशक मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक को लेकर आरंभ में सतर्कता बरतते रहे। सेंसेक्स गिरावट में 36,035.65 अंक पर खुला और खुलते ही 36,048.65 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद लगातार लाल निशान में रहा। आरबीआई ने कारोबार के दौरान ही नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं करने के संबंध में घोषणा की जिससे सेंसेक्स तेज गोता लगाता हुआ दिवस के निचले स्तर 35,777.81 अंक पर आ गया।

अंतत: यह गत दिवस की तुलना में 0.69 प्रतिशत की गिरावट में 35,884.41 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से मात्र छह कंपनियां हरे निशान में रहीं। निफ्टी का ग्राफ भी सेंसेक्स की तरह रहा। यह गिरावट में 10,820.45 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 10,821.05 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,747.95 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.74 प्रतिशत की गिरावट में रहता हुआ 10,784.95 अंक पर बंद हुआ।

निफ्टी की 50 में से 40 कंपनियां गिरावट में रहीं। दिग्गज कंपनियों की अपेक्षा मझोली और छोटी कंपनियों में अधिक बिकवाली देखने को मिली। बीएसई का मिडकैप 1.22 प्रतिशत यानी 184 अंक की गिरावट में 14,913.60 अंक पर और स्मॉलकैप 1.21 प्रतिशत यानी 176.32 अंक की गिरावट में 14,337.90 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,718 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,777 में गिरावट और 791 में तेजी रही जबकि 150 कंपनियों के शेयरों के भाव दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित रहे।


और भी पढ़ें :