बाजार ने भरी उड़ान, सेंसेक्स और निफ्टी उछले

Bombay Stock Exchange
पुनः संशोधित गुरुवार, 29 नवंबर 2018 (16:35 IST)
मुंबई। ब्याज दर के संबंध में दिए गए अमेरिकी फेडरल रिजर्व के प्रमुख जेरोम पॉवेल के बयान से अधिकतर विदेशी बाजारों से मिले सकारात्मक संकेतों और भारतीय मुद्रा की मजबूती से उत्साहित निवेशकों की लिवाली के दम पर गुरुवार को घरेलू ने भी तेज छलांग लगाई।

धातु, बैंकिंग और ऑटो समूहों में हुई लिवाली के दम पर बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 453.46 अंक की तेज बढ़त में लगातार चौथे दिन मजबूती के साथ 36,170.41 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 129.85 अंक की छलांग लगाकर 10,858.70 अंक पर बंद हुआ।

अमेरिकी फेडरल रिजर्व द्वारा दिसंबर में एक बार फिर ब्याज दर बढ़ाए जाने की संभावना से आशंकित निवेशकों को फेड अध्यक्ष जेरोम पॉवेल के बयान से राहत मिली है। पॉवेल ने बुधवार को कहा कि अमेरिका में ब्याज दर न्यूट्रल लेवल यानी तटस्थता के स्तर से बस थोड़ी कम है, जिससे निवेशकों को फेड के नरम रुख के संकेत मिले हैं। पॉवेल ने पिछले ही महीने कहा था कि ब्याज दर न्यूट्रल लेवल से बहुत दूर है जिससे ब्याज दर बढ़ाए जाने की आशंका को बल मिला था।

हालांकि विश्लेषकों का मानना है कि निवेशक फेड अध्यक्ष के बयान से अधिक उत्साहित हो रहे हैं जबकि इस बयान से ब्याज दर में बढ़ोतरी की रफ्तार थमने का कोई संकेत नहीं मिलता है। विदेशी बाजारों से मिली तेजी की खबरों से सेंसेक्स आज बढ़त में 35,997.29 अंक पर खुला। कारोबार के आरंभ में यह 35,946.24 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़क गया।

इसके बाद पूरे कारोबार के दौरान इसमें तेजी रही। यह 36,253.85 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूता हुआ गत दिवस की तुलना में 1.27 प्रतिशत की छलांग लगाकर 36,170.41 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 21 कंपनियां तेजी में रहीं। बजाज ऑटो के शेयरों में सबसे अधिक तेजी रही, जबकि पावर ग्रिड में सबसे अधिक गिरावट रही।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में रही गिरावट और दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के टूटने से ओएनजीसी के शेयरों में गिरावट रही। रेटिंग एजेंसी मूडीज के बाद अब इक्रा और केयर ने भी निजी क्षेत्र के यस बैंक की रेटिंग घटा दी है जिससे बैंक के शेयरों में गिरावट का सिलसिला आज भी जारी रहा। निफ्टी भी बढ़त में 10,808.70 अंक पर खुला।

कारोबार के दौरान यह 10,883.05 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,782.35 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 1.21 प्रतिशत की तेजी में 10,858.70 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 39 कंपनियां तेजी में और 11 गिरावट में रहीं। दिग्गज कंपनियों की तुलना में छोटी और मझोली कंपनियों में लिवाली का जोर कम रहा।

बीएसई का मिडकैप 0.62 प्रतिशत यानी 92.53 अंक की तेजी में 14,955.15 अंक पर और स्मॉलकैप 0.22 प्रतिशत यानी 31.44 अंक की बढ़त में 14,352.88 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,758 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 142 के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित बंद हुए, जबकि 1,317 में तेजी और 1,299 में गिरावट रही।


और भी पढ़ें :