बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स फिसला, निफ्टी भी लुढ़का

Bombay Stock Exchange
पुनः संशोधित मंगलवार, 20 नवंबर 2018 (16:41 IST)
मुंबई। अधिकतर विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों के बीच यस बैंक और टाटा स्टील जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई बिकवाली के दबाव में बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स मंगलवार को 300.37 अंक फिसलकर 35,474.51 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 107.20 अंक गिरकर 10,656.20 अंक पर बंद हुआ।

में आज शुरुआत से ही कारोबारी धारणा नकारात्मक रही। टेक कंपनियों के कमतर प्रदर्शन से यूरोपीय बाजारों के साथ-साथ एशियाई बाजारों में भी गिरावट रही। भारतीय रिजर्व बैंक की सोमवार को हुई बैठक से निवेशकों को निराशा हाथ लगी।

अमेरिकी डॉलर की तुलना में भारतीय मुद्रा की मजबूती से टेक कंपनियों के शेयरों में गिरावट रही। निजी क्षेत्र के यस बैंक के स्वतंत्र निदेशक आर. चंद्रशेखर के तत्काल प्रभाव से अपने पद से इस्तीफा देने की खबरों से सेंसेक्स में सबसे अधिक घाटा बैंक को उठाना पड़ा। यस बैंक के शेयरों की कीमत में 6.10 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई।

विश्लेषकों के मुताबिक निवेशकों को आरबीआई की बोर्ड की बैठक से ऐसे निर्णयों की उम्मीद थी जिनका प्रभाव तत्काल हो लेकिन रिजर्व बैंक की घोषणाओं का असर होने में देर लगेगी जिससे निवेशक हतोत्साहित रहे। विदेशी बाजारों में गिरावट हावी रही।

यूरोपीय बाजारों में ब्रिटेन का एफटीएसई 0.40 और जर्मनी का डैक्स 0.95 प्रतिशत की गिरावट में रहा। एशियाई बाजारों में जापान का निक्की 1.09, हांगकांग का हैंगशैंग 2.02, दक्षिण कोरिया का कोस्पी
0.86 और चीन का शंघाई कंपोजिट 2.13 प्रतिशत की गिरावट में बंद हुआ।

विदेशी बाजारों से मिले कमजोर संकेतों से सेंसेक्स गिरावट के साथ 35,730.77 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 35,731.67 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर और 35,416.18 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.84 प्रतिशत की गिरावट में 35,474.51 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से मात्र चार कंपनियां हरे निशान में जगह बना पाईं।

निफ्टी भी गिरावट के साथ 10,740.10 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 10,740.85 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,640.85 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में एक फीसदी की गिरावट के साथ 10,656.20 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 44 कंपनियां गिरावट में और छह तेजी में रहीं। बीएसई के सभी 20 समूहों के सूचकांक गिरावट में रहे।

दिग्गज कंपनियों की तुलना में मझोली और छोटी कंपनियों को अधिक बिकवाली झेलनी पड़ी। बीएसई का मिडकैप 1.02 प्रतिशत यानी 153.40 अंक की गिरावट में 14,896.39 अंक पर और स्मॉलकैप 0.92 प्रतिशत यानी 133.10 अंक की गिरावट में 14,405.55 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,741 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 149 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढाव के बाद अपरिवर्तित बंद हुए, जबकि 1,726 में गिरावट और 866 में तेजी रही।


और भी पढ़ें :