बिकवाली के दबाव में बाजार लुढ़का, सेंसेक्‍स और निफ्टी टूटे

Bombay Stock Exchange
पुनः संशोधित बुधवार, 21 नवंबर 2018 (16:49 IST)
मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच आईटी और टेक कंपनियों में हुई बिकवाली से घरेलू लगातार दूसरे दिन बुधवार को गिरावट में बंद हुए। बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 274.71 अंक टूटकर 35,199.80 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 56.15 अंक फिसलकर 10,600.05 अंक पर बंद हुआ।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में बुधवार को कच्चा तेल 6 फीसदी से अधिक लुढ़क गया। लंदन का ब्रेंट क्रूड वायदा 6.40 प्रतिशत यानी 4.26 डॉलर की गिरावट में 62.53 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। कच्चे तेल के लुढ़कने से तेल एवं गैस समूह में 0.12 फीसदी की गिरावट रही।

टेक कंपनियों के प्रदर्शन को लेकर उपजी आशंका और डॉलर की तुलना में रुपए की मजबूत होती स्थिति से आईटी समूह के सूचकांक में सबसे अधिक 29.2 और टेक समूह के सूचकांक में 2.47 फीसदी की गिरावट रही। बिजली समूह भी 1.04 प्रतिशत की गिरावट में रहे।

सेंसेक्स की कंपनियों में सबसे अधिक नुकसान टीसीएस को हुआ। टीसीएस के शेयरों में 3.51 फीसदी की गिरावट रही। इंफोसिस और विप्रो के शेयर भी लुढ़क गए। सेंसेक्स तेजी के साथ 35,492.62 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 35,494.25 अंक के उच्चतम स्तर तक पहुंचा।

इसके बाद पूरे कारोबार के दौरान यह दबाव में रहा। यह 35,112.49 अंक के दिवस के निचले स्तर तक लुढ़का और अंतत: गत दिवस की तुलना में 0.77 फीसदी की गिरावट में 35,199.80 अंक परबंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 10 कंपनियां हरे निशान में रहीं जबकि भारती एयरटेल के शेयरों के भाव दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित बंद हुए।

निफ्टी भी तेजी के साथ 10,670.95 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 10,671.30 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,562.35 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.53 प्रतिशत की गिरावट में 10,600.05 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 26 कंपनियां गिरावट और 24 तेजी में रहीं। दिग्गज कंपनियों की तुलना में छोटी और मझौली कंपनियों में निवेशकों का आकर्षण बना रहा।

बीएसई का मिडकैप 0.64 प्रतिशत यानी 94.73 अंक की तेजी में 14,991.12 अंक पर और स्मॉलकैप 0.06 प्रतिशत यानी 8.94 अंक की तेजी में 14,414.49 अंक पर बंद हुआ। बीएसई के 20 समूहों में 10 समूहों में तेजी और 10 में गिरावट रही। बीएसई में कुल 2,725 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 1,314 में गिरावट और 1,268 में तेजी रही जबकि 143 कंपनियों के शेयरों के भाव दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अपरिवर्तित बंद हुए।


और भी पढ़ें :