संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की किरकिरी

Last Updated: मंगलवार, 26 सितम्बर 2017 (00:39 IST)
संयुक्त राष्ट्र। की महासभा में के झूठे आरोपों और पाकिस्तान की राजदूत की गलत फोटो का भारत ने करारा जवाब दिया है। राइट टू रिप्लाई के तहत भारत की राजनयिक पौलोमी त्रिपाठी ने पाकिस्तान की फर्जी फोटो की पोल खोली और तथ्य संयुक्त राष्ट्र की सभा के सामने रखे। भारत के जवाब से संयुक्त राष्ट्र असेंबली में पाकिस्तान की किरकिरी हुई है।
भारत की राजनयिक ने कहा कि पाकिस्तान ने फर्जी तस्वीर दिखाकर भारत के बारे में झूठ फैलाते हुए असेंबली को भ्रमित किया है। भारत ने कहा कि पाकिस्तान की स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने अपने बयान के जरिए वैश्विक आतंकवाद के हब के तौर पर पाकिस्तान की भूमिका से ध्यान हटाने की कोशिश की।
पौलोमी त्रिपाठी ने भारत ने उमर फयाज की तस्वीर दिखाते हुए कहा कि ये है यह एक वास्तविक तस्वीर है, जम्मू-कश्मीर के युवा अफसर उमर फैयाज की, जिन्हें पाकिस्तान समर्थित आतंकवादियों ने बुरी तरह सताकर मार डाला था। उन्होंने दोनों फोटो दिखाए और कहा कि ये वास्तविकता है और ये सभा देखे।
पाकिस्तानी प्रतिनिधि ने दिखाई थी तस्वीर : संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की स्थाई प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने एक बड़ी चूक करते हुए फिलिस्तीनकी एक घायल लड़की की तस्वीर दिखाते हुए आरोप लगाया कि वह कश्मीर में पैलेट गन का शिकार हुई है। हालांकि उस लड़की का भारत से कोई संबंध नहीं था।

इसराइली हमले की कथित शिकार फिलिस्तीन की 17 वर्षीय राव्या अबु जोमा की तस्वीर वास्तव में पुरस्कार विजेता अमेरिकी फोटो पत्रकार हीदी लेवाइन ने जुलाई 2014 में ली थी। इस तस्वीर को न्यूयॉर्क टाइम्स ने 24 मार्च 2015 को प्रकाशित किया था। यह तस्वीर कई समाचार वेबसाइटों पर उपलब्ध है। साफ तौर पर इस तस्वीर का कश्मीर से कोई लेना-देना नहीं था।

सुषमा के प्रहार से तमतमाया पाकिस्तान : संयुक्त राष्ट्र में शनिवार को अपने भाषण के दौरान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दुनिया के सामने एक बार फिर पाकिस्तान पर आतंकवाद को लेकर जमकर प्रहार किए थे।
सुषमा ने अपने भाषण में कहा कि भारत और पाकिस्तान एकसाथ आजाद हुए थे। आजाद होने के बाद आज भारत डॉक्टर और वैज्ञानिक पैदा कर रहा है तो पाकिस्तान आतंकवादी और जिहादी पैदा कर रहा है।

सुषमा ने आगे कहा कि भारत ने आईआईटी, आईआईएम, एम्स जैसे संस्थान बनाए तो पाकिस्तान ने लश्कर-ए-तैयबा और जैश-ए-मोहम्मद जैसे आतंकी संगठन पैदा किए। सुषमा स्वराज के जबरदस्त हमले के बाद पाकिस्तान ने जवाब देने के लिए संयुक्त राष्ट्र में झूठ का सहारा लिया था।
राइट टू रिप्लाई के तहत पाकिस्तान की संयुक्त राष्ट्र में स्थाई प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने भारत पर हमला बोलते हुए एक जख्मी लड़की की तस्वीर दिखाई थी। तस्वीर दिखाते हुए लोधी ने कहा कि यह भारत के लोकतंत्र की असली तस्वीर है। इस तस्वीर में एक लड़की का चेहरा बुरी तरह जख्मी था। लोधी ने आरोप लगाया कि भारतीय सुरक्षाबलों की ज्यादती की वजह से लड़की की यह हालत हुई है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :