श्रीलंका ने पॉवरप्ले में मैच छीन लिया : धवन

कोलंबो| पुनः संशोधित बुधवार, 7 मार्च 2018 (14:41 IST)
कोलंबो। त्रिकोणीय सीरीज के शुरुआती मैच में हार का मुंह देखना पड़ा और सलामी बल्लेबाज भी यही मानते हैं जिन्होंने मेजबानों की जीत का श्रेय शानदार पारी खेलने वाले कुसाल परेरा को दिया। भारत ने शुरुआती मैच 5 विकेट से गंवा दिया जिसमें परेरा ने मेहमान टीम के कम अनुभवी गेंदबाजी आक्रमण के खिलाफ 37 गेंदों में 66 रनों की पारी खेली।
भारतीय टीम पहले 6 ओवरों में 2 विकेट गंवाकर केवल 40 रन ही बना सकी, उसने 2 ओवरों में 9 रन पर 2 विकेट खो दिए थे, वहीं दूसरी ओर श्रीलंका ने पॉवरप्ले में 2 विकेट खोकर 75 रन बना लिए जिसमें परेरा ने दूसरे ओवर में शार्दुल ठाकुर पर 5 चौके और 1 छक्के से 27 रन जोड़े।

धवन ने कहा कि पहले 6 ओवरों में उन्होंने हमसे मैच छीन लिया। 6 ओवर के बाद वे इतनी जल्दी जल्दी गेंद को हिट नहीं कर रहे थे। मध्य के ओवरों में ऐसा नहीं था कि उन्होंने स्पिनरों के खिलाफ 1 ओवर में 10 रन जुटा लिए थे। ऐसा इसलिए क्योंकि विकेट थोड़ा धीमा था।
धवन ने परेरा की तारीफ की जिन्होंने शानदार पारी से दर्शकों को रोमांचित किया जिसमें आधा दर्जन चौके और 4 छक्के जड़े थे। उन्होंने कहा कि जिस तरह से कुसाल ने उस ओवर में 27 रन बनाए, उससे वे 6 ओवरों के बाद 75 रन पर पहुंच गए, इसी ने अंतर पैदा कर दिया।

धवन 49 गेंदों में 6 चौके और इतने ही छक्के से 90 रन बनाकर भारत के लिए शीर्ष स्कोरर रहे। उन्होंने कहा कि शुरू में 2 विकेट गंवाना भारी पड़ा। पहले 2 ओवरों में उन्होंने 2 विकेट झटक लिए जिससे नुकसान हुआ। हमने अगर ये 2 विकेट नहीं गंवाए होते तो हम ज्यादा आक्रामक हो सकते थे। हमें सुनिश्चित करना चाहिए था कि हम और ज्यादा विकेट नहीं गंवाए और रन भी बनाएं।
'मैन ऑफ द मैच' परेरा को भी यही लगता है कि श्रीलंका के पॉवरप्ले में शानदार प्रदर्शन ने अंतर पैदा किया। उन्होंने मैच के बाद कहा कि हमें पहले 6 ओवरों में आक्रमण करना था। लक्ष्य 175 रन का था तो हमें कुछ लय की जरूरत थी।

उन्होंने कहा कि जब आपको इस तरह की शुरुआत मिलती है तो पारी को आसानी से आगे बढ़ाने में मदद मिलती है। लेकिन ये भी सच है कि आपको हर मैच में इस तरह की शुरुआत नहीं मिलती। पहले 6 ओवरों का मैच पर काफी असर पड़ा। (भाषा)


और भी पढ़ें :