विश्‍व की नंबर 1 टीम इंग्‍लैंड को स्कॉटलैंड ने 6 रन से हराया

पुनः संशोधित सोमवार, 11 जून 2018 (08:59 IST)
एडिनबर्ग। दुनिया की नंबर 1 टीम इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए एकमात्र वनडे मैच में स्कॉटलैंड ने उसे 6 रन से हरा दिया। इससे पहले इंग्लैंड ने टॉस जीतकर स्कॉटलैंड को पहले बैटिंग करने का न्योता दिया था। स्कॉटलैंड ने इंग्‍लैंड को जीत के लिए 372 रनों का लक्ष्य दिया था, जिसके जवाब में इंग्‍लैंड टीम 7 गेंद शेष रहते 365 रनों पर ही ऑलआउट हो गई।

वनडे अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में इंग्लैंड के खिलाफ स्कॉटलैंड की यह पहली जीत है। स्कॉटलैंड के लिए कैलम मैकलोयड ने सबसे ज्यादा 94 गेंदों पर नाबाद 140 रन बनाए। मैकलोयड ने अपनी इस शानदार पारी में 3 छक्के और 16 चौके जड़े, जबकि मार्क वाट ने 10 ओवर में 55 रन देकर 3 विकेट लिए। लक्ष्‍य का पीछा करनी उतरी इंग्लैंड को जोनी बेयरस्टो और जैसन रॉय की जोड़ी ने शानदार शुरुआत दी।

इन दोनों बल्लेबाजों ने 10 ओवर में बिना कोई विकेट गंवाए 107 रन बनाए। 129 के स्कोर पर मार्क वाट ने रॉय (34) को अपनी ही बॉल पर कैच कर स्कॉटिश टीम को पहली सफलता दिलाई। दूसरे छोर से जॉनी बेयरस्ट्रो ने शानदार पारी खेलते हुए अपना शतक पूरा कर लिया। इंग्लैंड के बल्लेबाज भी अच्छा स्टार्ट लेकर अपनी टीम को जीत के करीब लाते दिखे।

सैफयान शरीफ ने अंतिम विकेट के रूप मार्क वुड को एलबीडब्‍ल्‍यू आउट कर इंग्लैंड को जीत हासिल करने से यहीं पर रोक दिया। इससे पहले इंग्लैंड ने टॉस जीतकर स्कॉटलैंड को पहले बैटिंग का न्योता दिया था। स्कॉटलैंड ने कैलम मैकलियोड के नाबाद शतक की बदौलत 5 विकेट पर 371 का रेकॉर्ड स्कोर बनाया। इंग्लैंड के खिलाफ यह स्काटलैंड का शानदार प्रदर्शन रहा, जो इस समय वनडे रैंकिंग में शीर्ष पर है।

स्काटलैंड ने मैच के पहले 15 वें ओवर तक 2 विकेट पर 107 रन बना लिए थे। मैकलियोड ने इसके बाद शानदार शुरुआत की और जॉर्ज मुनसे (55) के साथ चौथे विकेट के लिए 107 रन की भागीदारी निभाई। 29 वर्षीय मैकलियोड ने महज 70 गेंद में शतक बना लिया था, जो उनका इस स्तर पर 7वां सैकड़ा है, लेकिन सक्रिय टेस्ट देश के खिलाफ पहला है। यह स्कॉटलैंड का पहला मैच था। टीम इंग्लैंड एवं वेल्स में 2019 वर्ल्ड कप के लिए क्वॉलिफिकेशन से करीब से चूक गई थी।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :