साबूदाना मांसाहारी है? जानिए सच...


यूं तो साबूदाना या इसके व्यंजनों का उपयोग खास तौर से व्रत-में किया जाता है, लेकिन साबूदाना बनने की प्रक्रिया जानने के बाद आपके मन में भी यह सवाल जरूर उठेगा, कि क्या साबूदाना सच में फलाहारी है या फिर मांसाहारी? कहीं साबूदाना खाने से टूट तो नहीं जाता....इन सभी सवालों के जवाब जानने के लिए जरूर पढ़ें यह जानकारी...
यह भी पढ़ें : जानिए, साबूदाने के यह 10 फायदे> >
दरअसल सामान्य तौर पर तो साबूदाना पूरी तरह से वानस्पतिक है, क्योंकि यह सागो पाम नामक एक पौधे के तने व जड़ में पाए जाने वाले गूदे से बनाया जाता है। लेकिन निर्माण की प्रक्रिया से गुजरने के बाद यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा, कि साबूदाना मांसाहारी भी हो सकता है। जी हां, आप खुद ही जानिए।  
खास तौर से तमिलनाडु में साबूदाना बनाने की कई बड़ी फैक्ट्र‍ियां है, जहां बड़े पैमाने पर सागो पाम की जड़ों को इकट्ठा कर, उसके गूदे से साबूदाना बनाया जाता है। इस प्रक्रिया में गूदे को बड़े-बड़े गड्ढों में महीनों तक सड़ाया जाता है। सबसे खास बात यह है कि ये गड्ढे पूरी तरह से खुले होते हैं, जिसमें ऊपर लगी लाइट्स की वजह से न केवल कई कीड़े-मकोड़े गिरते हैं, बल्कि सड़ें हुए गूदे में भी सफेद रंग के सूक्ष्म जीव पैदा होते हैं।
 
अब इस गूदे को, बगैर कीड़े-मकोड़े और सूक्ष्म जीवों का लिहाज किए, पैरों से मसला जाता है जिसमें सभी जीव भी पूरी तरह से मिल जाते हैं और मावे की तरह आटा तैयार होता है। अब इसे मशीनों की सहायता से साबूदाने अर्थात छोटे-छोटे दाने तैयार होने की प्रक्रिया से गुजारा जाता है और पॉलिश किया जाता है।
 
इस तरह आपके व्रत और उपवास में फलाहार के रूप में प्रयोग किया जाने वाला साबूदाना, कीट-पतंगों समेत मांसाहारी हो चुका होता है और आप इस बात से पूरी तरह से अंजान होते हैं। तो क्या अब आप कह सकते हैं, कि साबूदाना फलाहारी है?


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

किसे पकाएं, किसे कच्चा खाएं, आओ इसका पता लगाएं

किसे पकाएं, किसे कच्चा खाएं, आओ इसका पता लगाएं
आपका बढ़ा वज़न जब भी तंग करने लगा तो सलाद से इसे कम करने की सोच रहे हैं। ख्याल अच्छा है ...

ऐसे दें अपने घर को एस्ट्रो टच

ऐसे दें अपने घर को एस्ट्रो टच
घर सजा कर रखना किसे पसंद नहीं होता लेकिन यदि घर कि सजावट ज्योतिष व एस्ट्रो के अनुरुप हो ...

4 वेद और 3 देव का जो अर्थ है वही गायत्री मंत्र है, पढ़ें ...

4 वेद और 3 देव का जो अर्थ है वही गायत्री मंत्र है, पढ़ें विशेष लेख
‘गायत्री वेदों की जननी है। गायत्री पापों का नाश करने वाली है। गायत्री से अन्य कोई पवित्र ...

क्या पीरियड में कॉफी पीना चाहिए?

क्या पीरियड में कॉफी पीना चाहिए?
कॉफी आपके डेली रुटीन का हिस्सा हो चुकी है, लेकिन क्या आपने कभी सोचा कि असल में कॉफी आपको ...

वक्त रहते अपनों की अहमियत समझें

वक्त रहते अपनों की अहमियत समझें
अक्सर ऐसा होता है कि हम अपने दोस्तों, ऑफिस के लोगों, सहकर्मियों की तो बहुत इज्जत करते हैं ...

नशा क्या है? कैसे होगा इलाज

नशा क्या है? कैसे होगा इलाज
ड्रग एडिक्शन या नशे की लत किसी के शरीर को होने वाली ऐसी ज़रूरत है जिस पर नियंत्रण रखना ...

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस : कोई कर रहा है नशा, पहचानें ...

अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस : कोई कर रहा है नशा, पहचानें ये 9 लक्षण
नशा करने से शर्तियातौर पर व्यक्ति का व्यवहार और हरकतें बदल जाती हैं। आपकी थोड़ी सी सजगता ...

जानिए कैसे-कैसे तरीकों से नशा करते हैं लोग और इसके ...

जानिए कैसे-कैसे तरीकों से नशा करते हैं लोग और इसके दुष्परिणाम
हर वर्ष 26 जून को 'अंतरराष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस' मनाया जाता है। नशीली वस्तुओं और ...

जानिए, बरसात में कैसा हो आपका मेकअप?

जानिए, बरसात में कैसा हो आपका मेकअप?
चाहे मौसम जो भी हो ठंड, गर्मी या बरसात। शादी-ब्याह व किसी खास अवसर की पार्टी के मुहूर्त ...

नवग्रहों को सुगंध से प्रसन्न करें, हर ग्रह को है कोई खास ...

नवग्रहों को सुगंध से प्रसन्न करें, हर ग्रह को है कोई खास सुगंध पसंद...
सुगंध से ग्रह नक्षत्रों के बुरे प्रभाव को दूर कर सकते हैं। जानिए कि कैसे सुगंध से ग्रहों ...