प्रेग्नेंसी में सावधान 3 तरह की चीजों से बचें और 7 बातों का रखें ख्याल


प्रेग्नेंसी में रखें डाइट का खास ख्याल, 10 टिप्स आपके लिए


प्रेग्नेंसी यानि गर्भावस्था के समय महिलाओं को के प्रति सतर्क होने की आवश्यकता होती है, क्योंकि गर्भस्थ शिशु की सेहत मां की सेहत पर ही निर्भर करती है। इसलिए गर्भावस्था के दौरान अपनी सेहत का बेहतर ख्याल रखना और स्वास्थ्यवर्धक चीजों को अपनी डाइट में शामिल करना बेहद जरूरी है। हम आपको बता रहे हैं कि इस अनमोल समय में कैसे रखें खुद का ख्याल -

प्रेग्नेंसी में गर्भस्थ शिशु और खुद को पोषण देने के लिए कुछ चीजों को अपने भोजन में अनिवार्य तौर पर शामिल करना चाहिए। नीचे बताई जा रही हैं, वे सभी सेहतमंद चीजें जिन्हें आपको अपनी डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए -

1 गर्भवती होने पर विशेष रूप से प्रोटीनयुक्त चीजों को अपनी डाइट में शामिल करें। इनमें दाल, अंकुरित अनाज, दूध एवं दूध से बने पदार्थ, अंडा, मीट आदि को अपनी रोज की डाइट में शामिल करें, ताकि शरीर में प्रोटीन की आपूर्ति होती रहे।

2 स्वस्थ प्रेग्नेंसी के लिए आयरन को भोजन में शामिल करना बेहद जरूरी है। इसलिए हरी पत्तेदार सब्जियां, अनार, फलियां, लीची, किशमिश, अंजीर जैसी चीजों का प्रतिदिन सेवन करें। इसके अलावा विटामिन-सी का प्रयोग जरूर करें ताकि शरीर को आयरन सोखने में मदद मिल सके।
3 शरीर में आवश्यक उर्जा और फाइबर्स की आपूर्ति के लिए कार्बोहाइड्रेट युक्त भोजन को प्राथमिकता दें। साबुत अनाज, फल, सलाद जैसी चीजों को अपने भोजन में शामिल करें। इसके अलावा छिलके वाली मूंग की दाल खाना इस समय काफी फायदेमंद होता है।

4
भोजन में चिकनाई की आवश्यक मात्रा जरूर लें। लेकिन इसका अत्यधिक प्रयोग भी न करें। कुछ फैटी एसिड भ्रूण के मानसिक विकास के लिए बेहद आवश्यक होते हैं। इसलिए इनका प्रयोग खाने में जरूर करें।

5
होने वाले शिशु की हड्डियों और दांतों के विकास के लिए कैल्शियम की मात्रा अधिक लें।
यह आपको पीठ और कमर दर्द से निजात दिलाएगा और ब्रेस्ट फीडिंग के लिए भी तैयार करेगा। इसके लिए दूध व दूध की बनी चीजें, फलियां, हरी पत्तेदार सब्जियां, खास तौर से पालक, मूंगफली आदि को डाइट में शामिल करें।


6
इन सभी के बीच में पानी भी भरपूर मात्रा में पिएं। लेकिन एक साथ अधिक पानी पीने से भी बचें। दिनभर में कम से कम 6 से 8 ग्लास पानी जरूर पिएं। शह शरीर में आवश्यक नमी बनाए रखने के साथ ही शरीर के तापमान को भी नियंत्रित करेगा।
7 इस समय आपको शरीर को स्वस्थ रखने के लिए पैदल चलना, योगा या अन्य हल्का-फुल्का व्यायाम जरूर करना चाहिए। मन को शांत और एकाग्र रखने के लिए आप मेडिटेशन भी कर सकती हैं। यह अनावश्यक तनाव को कम करने में मदद करेगा।

किन चीजों के सेवन से बचना है -

8 नमक की अधिक मात्रा लेने से परहेज करें। पहले से तैयार प्रोसेस्ड और प्रिजर्व्ड फूड का प्रयोग करने से हमेशा बचें। इसके अलावा नशीले पदार्थों से दूरी बनाए रखें और हो सके तो शाकाहारी रहें। अधिक तले-भुने व मसालेदार पदार्थों का प्रयोग भी कम ही करें तो बेहतर होगा।

9 चाय या कॉफी का अत्यधिक सेवन करने से बचना चाहिए। दिनभर में अधिक से अधिक 3 कप चाय या कॉफी लें। इसके अलावा अधिक कैफीन के लिए हानिकारक हो सकता है।
10
अधिक फैट और शुगर वाली चीजों से भी दूरी बनाएं। ज्यादा मीठा, बेक की हुई चीजें आपको नुकसान पहुंचा सकती है। यह स्वास्थ्य के लिए तो हानिकारक होंगी ही, बल्कि आपको प्री प्रेग्नेंसी फिगर पाने में भी काफी परेशानी हो सकती है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

अटल जी की कविता : जीवन की ढलने लगी सांझ

अटल जी की कविता : जीवन की ढलने लगी सांझ
जीवन की ढलने लगी सांझ उमर घट गई डगर कट गई जीवन की ढलने लगी सांझ।

अटल जी की लोकप्रिय कविता : मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊंचाई कभी ...

अटल जी की लोकप्रिय कविता : मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊंचाई कभी मत देना
मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊँचाई कभी मत देना गैरों को गले न लगा सकूँ इतनी रुखाई कभी मत ...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : बेदाग रहा राजनीतिक ...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : बेदाग रहा राजनीतिक पटल, बहुत याद आएंगे अटल
देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। वह ना केवल एक ...

शिक्षा और भाषा पर अटल बिहारी वाजपेयी के 6 विचार, बदल सकते ...

शिक्षा और भाषा पर अटल बिहारी वाजपेयी के 6 विचार, बदल सकते हैं सोच...
अटल बिहारी वाजपेयी ने शिक्षा, भाषा और साहित्य पर हमेशा जोर दिया। उनके अनुसार शिक्षा और ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता : जीवन को शत-शत आहुति में, जलना ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता : जीवन को शत-शत आहुति में, जलना होगा, गलना होगा
बाधाएं आती हैं आएं घिरें प्रलय की घोर घटाएं, पांवों के नीचे अंगारे, सिर पर बरसें यदि ...

ईद-उल-अजहा क्यों कहते हैं ईदे कुरबां, जानिए...

ईद-उल-अजहा क्यों कहते हैं ईदे कुरबां, जानिए...
ईद-उल-अजहा मुस्लिम भाइयों का एक महत्वपूर्ण त्योहार है। कुरबानी से जुड़ी होने की वजह से इसे ...

ईद-उल-अजहा की कुर्बानी को लेकर शरीयत में दी गई है ये सलाह

ईद-उल-अजहा की कुर्बानी को लेकर शरीयत में दी गई है ये सलाह
मुसलमानों के लिए अल्लाह ने खुशी मनाने के लिए साल में मुकर्रर दो ईद में से एक ईदुल-अजहा

मुंह में बार-बार छाले होने से परेशान है, अब नहीं सहा जाता ...

मुंह में बार-बार छाले होने से परेशान है, अब नहीं सहा जाता दर्द... तो छालों को गायब करने के ये 12 तरीके जान लीजिए
मुंह में बार-बार छाले होने से परेशान है, अब नहीं सहा जाता दर्द तो छालों को गायब करने के ...

रक्षाबंधन पर कैसे हो सकता है पंचक दोष निवारण, जानें उपाय

रक्षाबंधन पर कैसे हो सकता है पंचक दोष निवारण, जानें उपाय ...
इस बार रक्षाबंधन का पर्व प्रतिवर्षानुसार श्रावण शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि दिनांक 26 ...

अटलजी के निधन पर अमेरिका में भारतीय समुदाय शोकाकुल

अटलजी के निधन पर अमेरिका में भारतीय समुदाय शोकाकुल
न्यूयॉर्क। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर यहां भारतवंशी समुदाय के लोगों ...