स्वास्थ्य के लिए है बेहद फायदेमंद यह चाय, बचाती है कई रोगों से...


 
आपको जानने में शायद अजीब लगे, लेकिन हम एक ऐसी के बारे में बता रहे हैं, जो आपके स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद है और आपको 50 से भी अधि‍क बीमारियों से बचाने में भी सक्षम है।
 
प्रतिदिन जिस दिनचर्या का आप पालन करते हैं, उसमें कई तरह के बैक्टीरिया और अन्य कारणों से ऐसी अप्रत्यक्ष बीमारियों के शि‍कार भी हो जाते हैं, जिनके बारे में हमें पता भी नहीं होता। इसके अलावा प्रत्यक्ष बीमारियां भी आम हैं, जिन्हें हम महसूस कर सकते हैं। सवाल यह उठता है, कि प्रतिदिन बढ़ते बीमारियों के खतरे को आखि‍र कैसे रोका जाए।
 
इसके लिए आपको अपने शरीर और उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में अत्यधि‍क इजाफा करने की जरूरत है। यह दवा न केवल सर्दी, खांसी, जुकाम और उल्टी जैसी छोटी समस्याओं को हल करेगी बल्‍कि कैंसर जैसी बड़ी समस्याओं के अलावा अन्य 50 से भी अधि‍क स्वास्थ समस्याओं को हल करने और उनसे बचाने में मददगार साबित होगी। इसे बनाने के लिए आपको किचन में रखी कुछ चीजों की जरूरत होगी। 
 
जानिए कौन सी हैं व चीजें - 
 
1 पानी - 500 मिलीलीटर
2 - आधा कप 
3 इलायची - 1 से दो 
4 हल्दी - 1/6 चम्मच 
5 दालचीनी - आधा चम्मच 
6 - आधा चम्मच 
7 - स्वाद के अनुसार 
 
इस चाय को बनाने के लिए सबसे पहले पानी को उबालें और इसमें सभी मसालों को अच्छी तरह हिलाकर मिक्स कर दें। आप चाहें तो इसमें गरम दूध भी मिला सकते हैं और मात्रा से अधि‍क दूध का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। अच्छी तरह से उबालने के बाद यह चाय तैयार हो जाएगी। 
 
अब आप इसे अपनी सुविधा के अनुसार दिन में एक या दो समय पी सकते हैं। यह चाय आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता में इजाफा करती है और आपको हर तरह की स्वास्थ्य समस्या से बचाए रखने में बेहद फायदेमंद होती है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

अटल जी की कविता : जीवन की ढलने लगी सांझ

अटल जी की कविता : जीवन की ढलने लगी सांझ
जीवन की ढलने लगी सांझ उमर घट गई डगर कट गई जीवन की ढलने लगी सांझ।

अटल जी की लोकप्रिय कविता : मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊंचाई कभी ...

अटल जी की लोकप्रिय कविता : मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊंचाई कभी मत देना
मेरे प्रभु! मुझे इतनी ऊँचाई कभी मत देना गैरों को गले न लगा सकूँ इतनी रुखाई कभी मत ...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : बेदाग रहा राजनीतिक ...

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी : बेदाग रहा राजनीतिक पटल, बहुत याद आएंगे अटल
देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी बहुमुखी प्रतिभा के धनी थे। वह ना केवल एक ...

शिक्षा और भाषा पर अटल बिहारी वाजपेयी के 6 विचार, बदल सकते ...

शिक्षा और भाषा पर अटल बिहारी वाजपेयी के 6 विचार, बदल सकते हैं सोच...
अटल बिहारी वाजपेयी ने शिक्षा, भाषा और साहित्य पर हमेशा जोर दिया। उनके अनुसार शिक्षा और ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता : जीवन को शत-शत आहुति में, जलना ...

अटल बिहारी वाजपेयी की कविता : जीवन को शत-शत आहुति में, जलना होगा, गलना होगा
बाधाएं आती हैं आएं घिरें प्रलय की घोर घटाएं, पांवों के नीचे अंगारे, सिर पर बरसें यदि ...

ईद-उल-अजहा क्यों कहते हैं ईदे कुरबां, जानिए...

ईद-उल-अजहा क्यों कहते हैं ईदे कुरबां, जानिए...
ईद-उल-अजहा मुस्लिम भाइयों का एक महत्वपूर्ण त्योहार है। कुरबानी से जुड़ी होने की वजह से इसे ...

ईद-उल-अजहा की कुर्बानी को लेकर शरीयत में दी गई है ये सलाह

ईद-उल-अजहा की कुर्बानी को लेकर शरीयत में दी गई है ये सलाह
मुसलमानों के लिए अल्लाह ने खुशी मनाने के लिए साल में मुकर्रर दो ईद में से एक ईदुल-अजहा

मुंह में बार-बार छाले होने से परेशान है, अब नहीं सहा जाता ...

मुंह में बार-बार छाले होने से परेशान है, अब नहीं सहा जाता दर्द... तो छालों को गायब करने के ये 12 तरीके जान लीजिए
मुंह में बार-बार छाले होने से परेशान है, अब नहीं सहा जाता दर्द तो छालों को गायब करने के ...

रक्षाबंधन पर कैसे हो सकता है पंचक दोष निवारण, जानें उपाय

रक्षाबंधन पर कैसे हो सकता है पंचक दोष निवारण, जानें उपाय ...
इस बार रक्षाबंधन का पर्व प्रतिवर्षानुसार श्रावण शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि दिनांक 26 ...

अटलजी के निधन पर अमेरिका में भारतीय समुदाय शोकाकुल

अटलजी के निधन पर अमेरिका में भारतीय समुदाय शोकाकुल
न्यूयॉर्क। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर यहां भारतवंशी समुदाय के लोगों ...