पुरुषोत्तम मास में जपें यह एक पावरफुल मंत्र, मिलेगा अक्षय पुण्य फल...

Adhik-maas-Vishnu-440
 
* मलमास का पवित्रतम शक्तिशाली मंत्र, देगा सभी कष्टों से मुक्ति... 
 
पौराणिक शास्त्रों के अनुसार पुरुषोत्तम मास में भगवान श्रीहरि व शिवजी, रामभक्त हनुमान का पूजन करना अत्यंत फलदायी है। अक्षय पुण्य की प्राप्ति तथा जीवन के समस्त पीड़ा, कष्टों तथा परेशानियों से मुक्ति के लिए हमें पुरुषोत्तम मास में निम्न एक मंत्र का निरंतर स्मरण करना चाहिए।
ALSO READ: आरंभ, यह 15 चीजें करें दान, हर समस्या का होगा समाधान  
मलमास का यह मंत्र तब अधिक पुण्य फल देता है, जब इस मंत्र का जप करते समय पीले वस्त्र धारण किए गए हो। इसके साथ ही पूजा, हवन, कथाओं का श्रवण तथा दान करना भी लाभकारी माना गया है।
 
जपें यह पावरफुल मंत्र :- 
 
गोवर्धनधरं वन्दे गोपालं गोपरूपिणम्।
गोकुलोत्सवमीशानं गोविन्दं गोपिकाप्रियम्।। 
 
इस मंत्र के साथ-साथ आप धार्मिक तीर्थस्थलों पर जाकर स्नान करने से मोक्ष की प्राप्ति और अनंत पुण्यों की प्राप्ति पा सकते हैं।> >
 

 


और भी पढ़ें :