बजट 2018 : किसानों को मिला यह तोहफा

Last Updated: गुरुवार, 1 फ़रवरी 2018 (11:47 IST)
नई दिल्ली। मोदी सरकार ने अपने में किसानों को लुभाने की कोशिश की है। जेटली ने बजट में खरीफ का समर्थन मूल्य उत्पादन लागत से डेढ़ गुना किया गया। जेटली ने कहा कि 30 करोड़ टन फलों का उत्पादन हुआ। किसानों की शिकायत थी कि फसल का उचित मूल्य नहीं मिलता जिसको बढ़ाने के उपाय किए गए हैं। जीडीपी में लगातार बढ़ोतरी हो रही है।

अरुण जेटली ने कहा कि सरकार किसानों के कल्याण के प्रति कटिबद्ध है। कड़ी मेहनत के चलते आज कृषि उत्पादन रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है और 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया है। कृषि को हम एक एंटरप्राइज के रूप में लेंगे। हमारी कोशिश है कि किसानों को उनकी लागत से डेढ़ गुणा मिले।

जेटली ने कहा कि फसल को क्लस्टर मॉडल पर विकसित करेंगे। सभी फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलेगा। अब तक कुछ ही फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलता था। ऑपरेशन ग्रीन की स्थापना की जाएगी। आलू, प्याज, टमाटर के लिए भी ऑपरेशन ग्रीन लागू होगा। ऑपरेशन ग्रीन के लिए 500 करोड़ रुपए देने का प्रस्ताव किया गया है।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :