कच्चे तेल के दाम में नरमी से सेंसेक्स चढ़ा

पुनः संशोधित मंगलवार, 17 जुलाई 2018 (17:09 IST)
मुंबई। कच्चे तेल के दाम में तीव्र गिरावट के बाद तेल, धातु तथा सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के शेयरों में तेजी से बंबई का सेंसेक्स 196 अंक मजबूत होकर 36,519.96 अंक पर बंद हुआ।

कारोबारियों के अनुसार, आपूर्ति बढ़ने की आशंका में वैश्विक बाजारों में कच्चे तेल के दाम में कल 4 प्रतिशत से अधिक की गिरावट से धारणा को मजबूती मिली। इससे डॉलर के मुकाबले रुपए में भी मजबूती रही। इसके अलावा वित्त मंत्रालय की तरफ से अगले कुछ दिनों में पंजाब नेशनल बैंक, कॉर्पोरेशन बैंक तथा सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया समेत कुछ सरकारी बैंकों में नियामकीय पूंजी जरूरतों को पूरा करने के लिए करीब 10,000 करोड़ रुपए की पूंजी डालने की संभावना से लिवाली गतिविधियों को समर्थन मिला।

निवेशकों को अमेरिकी फेडरल रिजर्व के चेयरमैन जेरोम पावेल की कांग्रेस के समक्ष दिए जाने वाले उनके पहले बयान का इंतजार है। इससे ब्याज दर में वृद्धि के बारे में संकेत मिलने की उम्मीद है। तीस शेयरों वाले सेंसेक्स की शुरुआत अच्छी रही और यह मजबूती के साथ 36,549.55 अंक पर पहुंच गया।

लेकिन बाद में एचयूएल, आईटीसी तथा इंफोसिस जैसी कंपनियों में मुनाफा वसूली से सेंसेक्स की वृद्धि कुछ सीमित रह गई। एक समय सेंसेक्स निम्न स्तर 36,261.78 अंक पर आ गया। पर अंत में यह 196.19 अंक या 0.54 प्रतिशत की बढ़त के साथ 36,519.96 अंक पर बंद हुआ। इससे पहले पिछले दो सत्रों में सेंसेक्स 224.64 अंक नीचे आया।

पचास शेयर मूल्यों पर आधारित एनएसई निफ्टी भी 71.20 अंक या 0.65 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,008.05 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह ऊंचे में 11,018.50 अंक और नीचे में 10,925.60 अंक के दायरे में रहा। अस्थायी आंकड़ों के अनुसार, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने कल शुद्ध रूप से 625.68 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर बेचे, जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 70.30 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर बेचे। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :