सेंसेक्स नए शिखर पर, निफ्टी 11 हजार के पार

मुंबई| पुनः संशोधित गुरुवार, 12 जुलाई 2018 (17:36 IST)
मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बीच घरेलू संस्थागत निवेशकों और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) की जबरदस्त लिवाली के दम पर बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स गुरुवार को 282.48 अंक की छलांग लगाकर अब तक के उच्चतम स्तर 36,548.41 अंक पर बंद हुआ। एनएसई का निफ्टी भी 74.90 अंक की में पांच माह के बाद 11,000 अंक के पार 11,023.20 अंक पर बंद हुआ।
में कच्चे तेल की कीमतों में बुधवार को करीब छह प्रतिशत की तेज गिरावट दर्ज की गई जिसके बाद ऊर्जा और तेल एवं गैस क्षेत्र की कंपनियों के शेयरों में तूफानी तेजी आई। कच्चे तेल की कीमतों में जारी बढ़त से चिंतित घरेलू निवेशकों को राहत मिली है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, एफपीआई ने आज पूंजी बाजार में 24.04 करोड़ डॉलर का निवेश किया है। बाजार में तिमाही परिणामों के बेहतर रहने के अनुमान का असर भी है।
सेंसेक्स बढ़त के साथ 36,424.23 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान यह 36,422.08 अंक के निचले और 36,699.53 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.78 प्रतिशत की तेजी में 36,548.41 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ।

सेंसेक्स ने पहली बार 36,699.53 अंक के स्तर को छुआ है। सूचकांक की 30 में से 17 कंपनियां हरे और शेष 13 लाल निशान में बंद हुई। रिलांयस इंडस्ट्रीज के शेयरों में सर्वाधिक 4.42 प्रतिशत की बढ़त रही।
निफ्टी ने शुरुआत ही 11,000 के पार 11,006.95 अंक से की। यह कारोबार के दौरान 11,078.30 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,999.65 अंक के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस के मुकाबले 0.68 प्रतिशत की बढ़त में 11,023.20 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 28 कंपनियां तेजी में और शेष 22 गिरावट में रहीं।


दिग्गज कंपनियों के विपरीत छोटी और मंझोली कंपनियों पर बिकवाली हावी रही। बीएसई का मिडकैप 0.52 प्रतिशत यानी 80.81 अंक की गिरावट में 15,551.74 अंक पर बंद हुआ। स्मॉलकैप 0.06 प्रतिशत यानी 9.28 अंक की गिरावट में 16,420.09 अंक पर बंद हुआ।
बीएसई में कुल 2,804 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें 165 के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे जबकि 1,469 में गिरावट और 1,170 में तेजी रही। (वार्ता)


और भी पढ़ें :