विश्व ब्लिट्ज में केवल एक बाजी गंवाना बड़ी उपलब्धि : आनंद

चेन्नई| पुनः संशोधित रविवार, 31 दिसंबर 2017 (15:53 IST)
चेन्नई। शीर्ष शतरंज खिलाड़ी ने रियाद में में
महज एक गेम गंवाने को एक बड़ी उपलब्धि करार किया, जहां उन्होंने विश्व रैपिड स्पर्धा का खिताब अपने नाम किया था।

आनंद विश्व ब्लिट्ज में मैग्नस कार्लसन और सरगेई कारजाकिन के बाद तीसरे स्थान पर रहे थे। उन्होंने पीटीआई से कहा कि रैपिड और ब्लिट्ज में पोडियम स्थान पर रहना शानदार अहसास है, क्योंकि ये दोनों काफी अलग प्रारूप हैं। इस तरह की स्पर्धा में केवल एक गेम गंवाना एक बड़ी उपलब्धि है।
उन्होंने कहा कि एक 15 मिनट प्लस 10 सेकंड की है, जो काफी धीमी है, जो आधे घंटे के गेम की तरह है। दूसरी 3 मिनट और 2 सेकंड की है, जो आप कह सकते हैं कि 5-7 मिनट का गेम होता है। इसलिए बहुत ही अलग लय होती है। एक में अच्छा करने का मतलब यह नहीं है कि दूसरे में भी अच्छा प्रदर्शन हो।

आनंद के लिए यह वर्ष काफी कठिन रहा जिसमें वे जॉर्जिया में शतरंज विश्व कप में शुरुआती दौर में बाहर हो गए और वे हाल में लंदन शतरंज क्लासिक में अंतिम स्थान पर रहे थे लेकिन 2017 के अंत की ओर चीजें अचानक बदल गईं।

इस महान खिलाड़ी ने कहा कि उन्होंने दोनों टूर्नामेंटों में अच्छा प्रदर्शन किया और दोनों में अच्छा करना अद्भुत अहसास है, क्योंकि उन्होंने एक में अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद की थी। (भाषा)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :